Journey of Bill Gates – बिल गेट्स की सफलता की कहानी

Biography of Bill gates in Hindi

दुनियाभर की कुछ ऐसे सफल व्यक्ति हैं जिनके बारे में हर कोई जानना चाहता है। एक सफल व्यवसाई समाज को अच्छे में बदलने का प्रयास करता है। पैसा कमाना उनके लिए सम्मान का रूप से महत्वपूर्ण एक आयाम होती है। इसके अलावा, उनके विचार भी पूरे समाज पर असर डालते हैं। क्योंकि, उनके द्वारा किया गया काम कई सारे लोगों पर असर डालता है। और वे एक विरासत पीछे छोड़ जाते हैं। आज हम अपने एक लेख में बात करने वाले हैं माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक में से एक ” बिल गेट्स” की सफलता के बारे में। पॉल एलन के साथ मिलकर के बिल गेट्स ने माइक्रोसॉफ्ट कंपनी की स्थापना की थी। वर्तमान समय में माइक्रोसॉफ्ट जैसी कंपनी ने ट्रिलियन डॉलर मार्केट कैप को भी पार कर लिया है। इसके साथ ही बिल गेट्स (Bill Gates) कई सालों तक दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति की सूची में सबसे ऊपर भी रह चुके हैं। चलिए हम जानते हैं उनकी Journey of Bill Gates – बिल गेट्स की सफलता की कहानी

मार्च 2021 तक बिल गेट्स की कुल संपत्ति $132.10 बिलियन के आसपास थी। वह दुनिया भर में अरबपतियों के सूची में कई बार सबसे ऊपर रह चुके हैं। जिसकी कई लोग कल्पना भी नहीं कर सकते हैं। आईडीए बिल गेट्स की यात्रा और उनकी जीवनी कहानी और उनकी सफलता, बिल गेट्स की जीवनी उनकी विचारधारा हमारे आज के इस पोस्ट में हम विस्तार से जानेंगे।

Journey of Bill Gates – बिल गेट्स की सफलता की कहानी

एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर, निवेशक, उद्यमी और माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स कंप्यूटर युग में एक आइकन माने जाते हैं। उनका धन और सफलता उन्हें ” बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन” दुनिया की सबसे बड़ी निजी चैरिटी के माध्यम से दुनिया भर में परोपकारी कार्य भी करते हैं।

इसके अलावा बिल गेट्स ने, वारेन बुफेट के साथ मिलकर के “The Giving Pledge” जैसे संस्थान की स्थापना की है। जिस से जुड़कर की दुनिया के अरबपति दंपत्ति और अन्य अरबपतियों ने मिलकर के परोपकार के लिए अपनी आधी संपत्ति दान करने का संकल्प लिया है। जिसके तहत, वे लोगो की सेवा कर सके।

कोविड-19 महामारी के बाद, साल 2020 में बिल गेट्स फाउंडेशन ने कहा कि वे कोरोनावायरस महामारी से लड़ने के लिए $300 मिलियन खर्च करेंगे। वह उपचार पता लगाने और टीका के लिए धन मुहैया करवाएगी। विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम से लेकर बिल गेट्स और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन तक, बिल गेट्स ने बहुत सारी संस्थानों और चैरिटी इत्यादि किया है।

बिल गेट्स का संक्षिप्त जीवन परिचय

माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के संस्थापक रह चुके बिल गेट्स (Bill Gates) का जन्म 28 अक्टूबर, 1995 को वाशिंगटन के एक मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ। इनके पिता का नाम विलियम एच गेट्स तथा माता का नाम मैरी मैक्सवेल था। इनके पिता एक प्रतिष्ठित वकील थे और माता बैंक में व्यवस्थापक मंडल की सदस्य थी।

वर्ष 1975 में बिल गेट्स ने पॉल एलन के साथ मिलकर की दुनिया की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी यानी कि माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) की स्थापना की है। बिल गेट्स पर्सनल कंप्यूटर क्रांति के अग्रिम श्रेणी के उद्यमी मारे जाते हैं। बिल गेट्स की आलोचना उनकी व्यापारिक नीतियों के लिए की जाती रही है। एकाधिकार वादी व्यापारिक कर रणनीति अपनाने की आलोचना कब दिया न्यायालयों द्वारा भी की गई है।

बहुत ही कम उम्र में बिल गेट्स ने वह मुकाम हासिल किया जिसका सपना हर कोई देखता है। माइक्रोसॉफ्ट जैसी कंपनी की स्थापना करने के बाद मात्र 32 वर्ष की आयु में वर्ष 1987 में बिल गेट्स का नाम दुनिया की सबसे अमीर व्यक्तियों की सूची में आ गया था। साल 2007 में उन्होंने 40 अरब डॉलर लगभग रुपए 1760 अरब लोगों में दान कर दिया था। बिल गेट्स माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के चेयरमैन भी है, जिसका साल 2010 में कारोबार लगभग $63 बिलियन के आसपास थी।

बिल गेट्स बचपन से ही काफी होनहार थे। वे अपनी माध्यमिक परीक्षा में कुल 1600 अंकों की परीक्षा में 1590 नंबर लेकर आते थे। उन्हें कंप्यूटर और प्रोग्रामिंग का बचपन से ही काफी शौक था। बचपन में ही उन्होंने एक प्रोग्राम बनाया था, जिसे लोगों ने काफी पसंद किया था और यह कंप्यूटर प्रोग्राम बना करके बिल गेट्स ने 4200 डॉलर भी काम आए थे। उसी दौरान उन्होंने अपने टीचर से कहा था कि मैं 30 वर्ष की उम्र तक करोड़पति बन कर दिखाऊंगा। और जैसे ही वे 31 वर्ष के हुए वह दुनिया के सबसे अमीर व्यक्तियों की सूची में शामिल हो गए।

बिल गेट्स जब 13 साल के थे उन्हें लेक साइड स्कूल में डाल दिया गया, जो कि एक प्रचलित प्राइवेट स्कूल था। जब बिल गेट्स आठवीं कक्षा में थे, उनके स्कूल के मदर क्लब ने स्कूल में मौजूद रद्दी सामानों की बिक्री से प्राप्त धन का उपयोग विद्यालय के छात्रों के लिए एक A.S.R -33 टेलीपैथी टर्मिनल तथा जनरल इलेक्ट्रॉनिक्स कंप्यूटर पर एक कंप्यूटर प्रोग्राम खरीदने के लिए किया। बिल गेट्स को प्रोग्रामिंग भाषा मैं काफी रुचि थी। उन्होंने उनकी सुरुचि के लिए गणित की कक्षाओं को भी छोड़ा है। उन्होंने अपना पहला कंप्यूटर प्रोग्राम इसी मशीन पर लिखा था। बिल गेट्स द्वारा लिखी गई कंप्यूटर प्रोग्राम ” tic-tac-toe” है। या कंप्यूटर प्रोग्राम एक तरह का कंप्यूटर गेम है।

बिल गेट्स ने साल 2000 में माइक्रोसॉफ्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी का पद छोड़ दिया। वे अध्यक्ष एवं मुख्य सॉफ्टवेयर आर्किटेक्चर के पद पर बने रहे। जून 2006 में बिल गेट्स ने घोषणा की कि वह माइक्रोसॉफ्ट में पूर्णकालिक कार्यविधि में परिवर्तन करके माइक्रोसॉफ्ट में आंशिक रूप से कार्य और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन में पूर्णकालिक कार्य करेंगे। वे अपने कर्तव्य को माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के लिए योजना अधिकारी के रूप में देते रहेंगे।

27 जून 2008 को बिल गेट्स ने माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के लिए अंतिम दिवस था। वे माइक्रोसॉफ्ट में अंशकालिक आर्किटेक्चर अध्यक्ष के रूप में ही काम करते रहेंगे।

बिल गेट्स की शिक्षा – Bill Gates Education

आज पूरी दुनिया डिजिटल हो गई है। कोई भी जानकारी आपको इंटरनेट के माध्यम से बड़ी आसानी से मिल जाती है। लेकिन 1960 और 1970 का दशक ऐसा था, जब आपको हर जानकारी किताबों से ही मिलती थी। उस दशक में मात्र 13 साल की उम्र में कंप्यूटर प्रोग्रामिंग करना बहुत बड़ी उपलब्धि थी। वर्तमान समय में भी देखा जाए तो बहुत से लोग जिन्होंने कंप्यूटर इंजीनियरिंग की है वह भी साधारण कंप्यूटर प्रोग्रामिंग भाषा को लिखने में असहज महसूस करते हैं। लेकिन मात्र 13 साल की उम्र में बिल गेट्स ने अपना पहला कंप्यूटर प्रोग्राम जो कि एक तरह कंप्यूटर गेम था, प्रोग्रामिंग की थी।

बिल गेट्स बचपन से ही काफी होनहार थे और उन्हें कंप्यूटर प्रोग्रामिंग का भी काफी शौक था। यही वजह थी कि मात्र 13 साल की उम्र में उन्होंने बेसिक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का इस्तेमाल करते हुए “टिक टॉक टो” जैसे गेम को बनाया था।

उन्होंने अपनी आरंभिक शिक्षा वर्ष 1973 में लेक साइड स्कूल से प्राप्त की। वह काफी होनहार छात्र रहे हैं, उन्होंने प्रतिष्ठित शैक्षिक योग्यता परीक्षा में 1600 में से 1590 अंक प्राप्त किए थे और 1973 में उन्होंने हावर्ड यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया था। कम ही उम्र में उन्होंने अपनी खुद की कंपनी बनाई और बाद में उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट जैसी कंपनी की स्थापना की।

बिल गेट्स और माइक्रोसॉफ्ट कंपनी – Bill Gates Microsoft

पत्रिका पॉपुलर इलेक्ट्रॉनिक्स के जनवरी 1975 के अंक में अल्टेयर (Altair) 8800 ( इंटेल 8080 सीपीयू पर आधारित एक कंप्यूटर) के बारे में उन्होंने पड़ा। बिल गेट्स ने माइक्रो इंस्ट्रूमेंटेशन मिशन एंड टेलिमेटरी सिस्टम से संपर्क किया ताकि उन्हें उस बेसिक दो भाइयों के बारे में बताया जा सके जो वह और पॉल एलन बना रहे थे। देखा जाए तो दोनों अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन करने के लिए कंपनी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करना चाहते थे।

उसके बाद उन्होंने MITS से संपर्क किया, भले कि उस दौरान तक उन्होंने किसी भी तरह का कोड विकसित नहीं किया था। MITS के अध्यक्ष द्वारा स्वीकृति मिलने के बाद, उन्होंने BASIC इंटरप्रेटर प्लेटफार्म को विकसित किया। इसने बिल गेट्स और पॉल एलन को नई ऊंचाइयों को छूने और प्रौद्योगिकी की दुनिया में बदलाव लाने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्हें MITS द्वारा काम पर रख दिया गया था और उन्होंने अवध विश्वविद्यालय से अनुपस्थिति की छुट्टी ले ली थी।

उसी दौरान पॉल एलन ने अपनी पार्टनरशिप को “Micro-Soft” का नाम दिया, जो माइक्रो कंप्यूटर और सॉफ्टवेयर से लिया गया था। बाद में, उन्होंने गढ़े गए शब्द से हाईफन को हटा दिया और इसे “Microsoft” नाम दे दिया। इस तरह से माइक्रोसॉफ्ट कंपनी का उदय हुआ। और इसी वजह से बिल गेट्स माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के सर संस्थापक के रूप में जाने जाने लगे।

यह पता लगने के बाद कि माइक्रोसॉफ्ट की एक Altair Basic कि एक फ्री मार्केट कॉपी लीक हो गई और बाजार में वितरित हो गई, उन्होंने MITS न्यूज़ लीडर में हॉबिट्स को एक खुला पत्र लिखा कि उन्हें और पौल एलेन को बिक्री से कुछ भी महत्वपूर्ण नहीं मिला। इस पत्र पर जनता का ध्यान नहीं गया और Microsoft MITS से अलग हो गया। वर्ष 1979 में इसका मुख्यालय अल्बूकर्क से Bellevue स्थानांतरित कर दिया गया था।

20 नवंबर 1985 को, माइक्रोसॉफ्ट विंडोस का पहला संस्करण लांच किया और फिर एक अगला ऑपरेटिंग सिस्टम विकसित करने के लिए आईबीएम (IBM) के साथ एक सौदा हासिल किया। लेकिन विचारों के टकराव के कारण यह सौदा भी नहीं हो सका।

बिल गेट्स की विचारधारा

सबसे अच्छी रचनाएं उसी के इर्द-गिर्द घूमती है जिसकी लोग वास्तव में परवाह करते हैं। बिल गेट्स को कंप्यूटर का शौक था और वह फील्ड में ही कुछ करना चाहता था। जब उन्होंने आईबीएम के लिए MS-DOS कार्यक्रम लिखा, तब एक उद्योग जगत का दिग्गज बनने लगे थे।

सबसे महत्वपूर्ण गुण जो आप बिल गेट से सीख सकते हैं, वह है कड़ी मेहनत और निरंतर प्रयास करते रहना। बिना मेहनत के सफलता नहीं मिल सकती, और कड़ी मेहनत एक बार की गतिविधि नहीं है। परिस्थितियों को कठिन होने पर गति को बनाए रखने की जरूरत होती है। प्रतिभाशाली होने के बावजूद उन्होंने अथक परिश्रम किया है। वह जानते थे कि दोनों साथ साथ चलते हैं।

विकास कभी खत्म नहीं होता है। वह तो प्रवाह के साथ आगे बढ़ता चला जाता है। वर्षों के सौ अस्सी और नब्बे के दशक में जब माइक्रोसॉफ्ट कंपनी काफी लोकप्रिय हुई थी, तब भी बिल गेट्स आतम संतुष्ट नहीं थे। माइक्रोसॉफ्ट को नए उत्पादों और पेशकशों आवश्यकता थी, ऐसे उत्पादों को फिर से तैयार करना उनकी प्राथमिकता में सबसे ऊपर था। सत्या नडेला बिल गेट्स के नक्शे कदम पर चले, और क्लाउड सिग्मेंट में Microsoft Azure की स्थापना की है।

बिल गेट्स से जुड़े अनसुने रोचक तथ्य – Facts about Bill Gates in Hindi

  1. बिल गेट्स बचपन से ही काफी होनहार थे। मात्र 13 साल की उम्र में उन्होंने ” tic-tac-toe” जैसे कंप्यूटर गेम की प्रोग्रामिंग की।
  2. बिल गेट्स का लक्ष्य 30 साल की उम्र तक करोड़पति बनना था। लेकिन मात्र 31 साल की उम्र में वह अरबपति बन गए।
  3. बिल गेट्स ने जिस स्कूल से पढ़ाई की है वह अमेरिका का एकलौता सा स्कूल था जो 1960 और 1970 के दशक में कंप्यूटर सिखाया जाता था।
  4. बिल गेट्स ने अपना पहला कंप्यूटर प्रोग्राम अपने स्कूल के साधारण इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर पर लिखा था।
  5. जब उनके स्कूल को बिल गेट्स की अद्भुत कोडिंग क्षमताओं के बारे में पता चला, तो उन्होंने बिल गेट्स को कक्षाओं के लिए टाइम टेबल एवं सिस्टम बनाने के लिए कंप्यूटर प्रोग्राम लिखने को कहा था।
  6. जब बिल गेट्स और पौल एलेन स्कूल में थे तब उन्होंने ट्रैफ ओ डाटा 8008 नाम का कंप्यूटर बनाया जो रोड पर लगे ट्राफिक काउंटर से डाटा पढ़ने और ट्रेफिक इंजीनियरिंग के लिए रिपोर्ट बनाने में काम करती थी।
  7. बिल गेट्स ने वर्ष 1975 में कॉलेज की पढ़ाई अधूरी छोड़ दी थी क्योंकि वह कंप्यूटर प्रोग्रामिंग में और अधिक काम करना चाहते थे।
  8. वर्ष 1975 में बिल गेट्स ने हावर्ड स्कूल छोड़ दिया था और अपने बचपन के दोस्त पौल एलेन के साथ मिलकर के माइक्रोसॉफ्ट कंपनी की स्थापना की।
  9. अपने पिता को दिए गए वादे को पूरा करने के लिए, बिल गेट्स ने साल 2007 में फिर से हावर्ड यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया और अपनी डिग्री पूरी की।
  10. बिल गेट्स ने अपनी कमाई का आधा हिस्सा लोगों के बीच में दान कर दिया है। अब तक बिल गेट्स ने लगभग 28 अरब यूएस डॉलर दान किए हैं।
  11. बिल गेट्स द्वारा दिए गए हेल्थ फूड डोनेशन से अरबों लोगों की जिंदगी बचाई जा चुकी है।
  12. फेसबुक पर बहुत सारे फ्रेंड रिक्वेस्ट आने की समस्या के कारण बिल गेट्स केवल ट्विटर पर ही सक्रिय है, फेसबुक पर नहीं।
  13. यदि बिल गेट्स प्रतिदिन अगर 1000000 यूएस डॉलर विकट करते हैं तो उन्हें 218 साल लगेंगे अपने पूरे पैसों को खर्च करने में।
  14. प्रत्येक वर्ष बिल गेट्स के हेल्थ फाउंडेशन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन की तुलना में विश्व स्तर पर सबसे अधिक पैसे खर्च किए हैं।
  15. हर साल बिल गेट्स अपने दान की समीक्षा करने और विश्व स्तर पर जागरूकता पैदा करने के लिए भारत आ जाते हैं।
  16. साल 1977 में उन्होंने बिना लाइसेंस के ड्राइविंग करने के जुर्म में न्यू मैक्सिको में गिरफ्तार किया गया था।
  17. Altair Basics माइक्रोसॉफ्ट द्वारा बनाया गया पहला सॉफ्टवेयर था।
  18. साल 2010 में बिल गेट्स और उनके दोस्त मार्क जुकरबर्ग और वारेन बुफेट ने “The Giving Pledge” पर हस्ताक्षर किया और अपनी आधी कमाई दान करने का वादा किया।
  19. स्टीव जॉब्स की जिंदगी के अंत समय में बिल गेट्स ने एक पत्र लिखा था जिसे स्टीव जॉब्स ने अपने बिस्तर के पास रखा हुआ था।
  20. वर्ष 1994 में, बिल गेट्स ने अपनी पुरानी प्रेमिका मेलिंडा से शादी की, जिनसे उन्हें तीन बच्चे हैं। बेटी जेनिफर, कैथरीन और बेटा रोरी जॉन।

बिल गेट्स एक प्रेरणा के रूप में

कई सालों तक सबसे अमीर लोगों की सूची में सबसे ऊपर रहने वाले बिल गेट्स (Bill Gates) कई सारे लोगों के लिए प्रेरणा का स्रोत है। बिल गेट्स बड़े पैमाने पर परोपकारी कार्यक्रमों का नेतृत्व, दूसरों को व्यवसाय चलाने के तरीके के बारे में मार्गदर्शन करना, और उद्यमियों को सबक देना उन्हें और भी अधिक महान बनाता है। उनकी यही खूबी आप उन्हें मैदान के अंदर और बाहर दोनों जगह लीडर बनाती है।

वर्ष 2007 में, बिल गेट्स और उनकी पत्नी मेलिंडा ने अपनी 95% संपत्ति धार्मिक कार्यों, लोगों की भलाई इत्यादि चीज के लिए दान कर दिया है। बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन कॉलेज 120 मिलियन महिलाओं और लड़कियों को उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल और परिवार नियोजन का उपहार प्रदान करना है।

एक नेता अपने संगठन के लिए एक रोल मॉडल के रूप में कार्य करता है। प्रतिद्वंदी संगठनों के अनुकरण का एक स्रोत है, और गई के लिए मशाल वाहक है। एक बच्चों के रूप में बिल गेट्स के माता-पिता ने उन्हें लीक से हटकर सोचने और उस रास्ते को चुनने के लिए प्रोत्साहित किया जो नहीं लिया गया था। गलतियों से सीखना और बढ़ाना ही बिल गेट्स को वह व्यक्ति बनाता है जिससे हम प्रेरणा लेते हैं और वह महानायक है।

प्रतिक्रिया के प्रति ग्रह की सील होने से उन्हें उपभोक्ताओं से जुड़ने और ऐसे उत्पादों की कल्पना करने में मदद मिली जो लोगों को सहज और सुलभ लगते हैं। Microsoft के शुरुआती वर्षों में बिल गेट्स एक कट्टर कार्यवाहक थे और अपने कर्मचारियों से भी यही उम्मीद करते थे। हालांकि वह पिछले कुछ वर्षों में शांत हो गए हैं, बिल गेट्स का कहना है कि काम के लिए दीवानगी उसे मिली सफलता का एक प्रमुख कारण था। हालांकि, वह लोगों को केवल काम पर ध्यान केंद्रित करने की सलाह नहीं देता है।

यही वजह है कि हर वह नया व्यवसाय या उद्यमी जो अपनी जिंदगी में कुछ बड़ा पाना चाहता है। उसे बिल गेट्स की जीवनी के बारे में एक बार अवश्य ही पढ़ना चाहिए। क्योंकि उनका जीवन कई सारे लोगों को प्रेरणा देती है।


Published on जनवरी 22, 2022

About Sugan Dodrai

मैं इस ब्लॉग का संस्थापक हूं. यहां पर मैं विभिन्न विषयों पर आधारित लेख लिखता हूं. हम यहां सरल शब्दों में आप सभी को जानकारी उपलब्ध कराने की कोशिश करते हैं.