Educational Loan Scheme in India – शिक्षा ऋण योजना

Educational Loan Scheme in India – शिक्षा ऋण योजना ज्यादातर लोग अपनी पढ़ाई को पूरा करने के लिए बैंक से शिक्षा ऋण लेते हैं। और अपनी पढ़ाई और अपना सपना पूरा करते हैं। आज हम आपको अपने इस लेख में भारत में शिक्षा ऋण योजना के अंतर्गत आपको कितना एजुकेशनल लोन मिल सकता है। इसके बारे में बात करने वाले हैं। एवं अगर आप विदेश में पढ़ने के बारे में सोच रहे हैं तो आपको कोई भी बैंक कितने रुपए तक लोन के रूप में शिक्षा ऋण दे सकता है।

आजकल हमारे देश में शिक्षा की महंगी हो गई है, की ज्यादातर पर मध्यम वर्ग के लोग अपने बच्चों को बढ़ाने के लिए एजुकेशन लोन के बारे में सोचते हैं। ऐसे में बच्चों को हायर एजुकेशन दिलाना आसान बात नहीं है। हालांकि आगे की पढ़ाई के लिए एजुकेशन लोन की सुविधा बैंक द्वारा दी जाती है। आप बैंक से एजुकेशनल लोन ले करके अपनी पढ़ाई पूरी कर सकते हैं। आप किसी भी बैंक से लोन अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन या किसी भी प्रोफेशनल कोर्स के लिए लोन ले सकते हैं। लेकिन एजुकेशन लोन के लिए कुछ शर्त होती है कि आप जिस कॉलेज या फिर इंस्टिट्यूट से पढ़ाई करना चाहते हैं वह सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त होनी चाहिए।

आज के हमारे इस लेख में हम आप लोगों को एजुकेशनल लोन से संबंधित संपूर्ण जानकारी यहां पर उपलब्ध कराने वाले हैं।

Educational Loan Scheme in India – शिक्षा ऋण योजना

भारत में शिक्षा ऋण या एजुकेशनल लोन (Educational Loan) स्कीम योजना का प्रारूप आरजे कामत कमेटी (R. J KAMATH) द्वारा पेश किया गया था। जिसे IBA और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) द्वारा अप्रैल 2001 में अप्रूव किया गया था। जिसके तहत ही आजकल जितने भी कमर्शियल बैंक और नन कमर्शियल बैंक है, शिक्षा ऋण मुहैया करवाते हैं।

इस प्रारूप के अंतर्गत शिक्षा ऋण के लिए बैंक को किसी भी तरह का सर्विस एरिया (Services Area) की पाबंदी नहीं है। कोई भी ग्राहक अपने नजदीकी ब्रांच जो उसके घर के सामने हो अपने बच्चों के लिए उस ब्रांच से एजुकेशनल लोन ले सकता है।

Course Eligible for Studies – शिक्षा ऋण के लिए पाठ्यक्रम एवं योग्यता

  1. भारत में :- सभी प्रकार के पाठ्यक्रम के लिए
  2. विदेश में :- स्नातक (Graduation), परस्नातक (Post Graduation), ऐसे पाठ्यक्रम जो CIMA-LONDON और CPA-USA द्वारा मान्यता एवं कराया जाता हो।

योग्यता :- शिक्षा ऋण या एजुकेशनल लोन लेने के लिए छात्र को किसी भी प्रोफेशनल/ टेक्निकल पाठ्यक्रम के इंट्रेंस टेस्ट (Entrance Test), या विदेशी विश्वविद्यालय पाठ्यक्रम के लिए हुए एंट्रेंस परीक्षा में उत्तीर्ण होना अनिवार्य है। शिक्षा ऋण लेने के लिए छात्र भारत में 10+2 के बाद आवेदन दे सकता है।

एजुकेशन लोन के अंतर्गत सभी तरह के शुल्क एवं दूसरे खर्चे जिससे कि छात्र की पाठ्यक्रम पूरी हो सके लोन के अंतर्गत दी जाती है।

बैंकों द्वारा, एजुकेशनल लोन के अंतर्गत विदेश एवं भारत में पाठ्यक्रम के लिए कितना लोन दिया जाता है:-

  • भारत में पढ़ने के लिए :- अधिकतम ₹10 लाख रुपए
  • विदेश में पढ़ने के लिए :- अधिकतम ₹20 लाख रुपए

नोट :- एजुकेशनल लोन पर कुछ मार्जिन राशि भी लगाई जाती है। यह मार्जिन राशि भारत में पाठ्यक्रमों के लिए एजुकेशन लोन ₹400000 तक नील (Nil) है। ₹4 लाख से अधिक भारत में कुल खर्चे का 5% एवं विदेश में कुल खर्चे का 15% होता है।

Collateral Security ( जमानत की प्रतिभूति) :- शिक्षा ऋण या एजुकेशन लोन लेते वक्त माता-पिता संयुक्त उद्धार करता होते हैं। ( विवाहित, पति या पत्नी या माता-पिता के मामले में) 4 लाख रुपए से अधिक और 7.50 लाख रुपए तक के लोन के लिए तृतीय पक्ष गारंटी (3rd Party Guarantee) ली जाती है। 7.50 लाख रुपए से अधिक एजुकेशनल लोन पर Collateral Security ( घर, जमीन के कागजात इत्यादि) सिक्योरिटी के तौर पर बैंक रखती है।

ब्याज दर :- एजुकेशनल लोन पर लगने वाला ब्याज दर बेस रेट (base rate) या बेस रेट से अधिक होता है। हर एक बैंक में या बेस रेट अलग अलग हो सकती है।

Moratorium Period ( अधिस्थगन अवधि) :- पाठ्यक्रम खत्म होने के +1 वर्ष या 6 महीने पाठ्यक्रम खत्म होने के बाद नौकरी मिलने तक। दोनों में से ही जो पहले लागू होगा। इसकी अवधि आगे 2 सालों तक बढ़ाई जा सकती है अगर छात्र अपने पाठ्यक्रम को पूरा ना कर पाया हो।

Repayment (रीपेमेंट) :- रीपेमेंट अवधि 10 सालों के लिए अगर एजुकेशन लोन रुपए 7.50 लाख तक हो। इससे अधिक यानी 7.5 लाख से अधिक का लोन होने पर रीपेमेंट अवधि 15 सालों की होती है।

How to Apply for Educational Loan – शिक्षा ऋण के लिए किस तरह से आवेदन दे

हमने आप लोगों को ऊपर इस बारे में जानकारी दी है कि अगर आप शिक्षा ऋण भारत में पढ़ने के लिए लेना चाहते हैं तो इसके लिए अधिकतम राशि ₹10 लाख तक दी जाती है। कहीं अगर आप विदेश में पढ़ाई करने के बारे में सोच रहे हैं। तो भारतीय बैंक आपको विदेश में पढ़ने के लिए अधिकतम राशि ₹20 लाख तक देते हैं।

उच्च शिक्षा के लिए भारत में मौजूद सभी कमर्शियल और नन कमर्शियल बैंक शिक्षा ऋण देते हैं। आजकल सभी बड़े बैंक आसान शर्तो पर एजुकेशन लोन मुहैया करवाती है। विद्या लक्ष्मी शिक्षा पोर्टल से ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके सीधे उसके आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं।

https://www.vidyalakshmi.co.in/Students/

आप अपने नजदीकी बैंक से संपर्क करके, एजुकेशनल लोन ले सकते हैं। आपको लोन की किस्त आप के पाठ्यक्रम खत्म करने के 1 साल बाद या नौकरी लगने के 6 महीने बाद शुरू करनी होती है। हमने इस बारे में आप लोगों को ऊपर भी जानकारी दी है कि अगर आप शिक्षा के लिए लोन राशि 7.50 लाखों रुपए तक का लेते हैं तो आपको 10 साल में चुकाना पड़ता है। वही अगर आप 7.50 लाख रुपए से अधिक की एजुकेशनल लोन लेते हैं, तो आपको यह लोन 15 सालों में आना पड़ता है।

Required Documents for Educational Loan – शिक्षा ऋण लेने के लिए लगने वाले महत्वपूर्ण कागजात

अगर आप किसी भी बैंक से शिक्षा ऋण लेने के बारे में सोच रहे हैं। तो आपको निम्नलिखित डॉक्यूमेंट जमा करने की आवश्यकता पड़ेगी :-

  • ID Proof (पहचान पत्र) इसके अंतर्गत आपको वोटर आईडी कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस इत्यादि जमा करना होता है।
  • हाल फिलहाल का आपका फोटोग्राफ
  • आवासीय प्रमाण पत्र
  • माता पिता का आय प्रमाण पत्र
  • हाई स्कूल और इंटरमीडिएट की मार्कशीट
  • इसके अलावा जिस संस्थान में आप पढ़ाई करने जा रहे हैं उसका एडमिशन लेटर
  • पाठ्यक्रम की अवधि का प्रूफ
  • अगर आपने कोई एंट्रेंस एग्जाम (Entrance Exam) पास किया है तो उसका मार्कशीट

नोट :- बैंक ज्यादातर 16 साल से 35 साल के बीच उम्र वाले छात्रों को ही एजुकेशनल लोन माहिया करवाती है।

How to Apply for Online Vidyalakshmi Educational Loan – विद्या लक्ष्मी योजना के अंतर्गत ऑनलाइन शिक्षा ऋण कैसे लें

विद्या लक्ष्मी योजना के अंतर्गत आप ऑनलाइन शिक्षा ऋण के लिए भी आवेदन दे सकते हैं। आप इस पोर्टल के जरिए विदेश एवं देश में पढ़ने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

इस योजना की शुरुआत भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा वर्ष 2015 को शुरू किया गया था। अगर आप उच्च शिक्षा देना चाहते हैं और इसके आड़े में धन की कमी आती है तो आप विद्यालक्ष्मी एजुकेशनल लोन पोर्टल की सहायता से एजुकेशन लोन के लिए आवेदन दे सकते हैं।

  1. विद्या लक्ष्मी एजुकेशनल लोन के लिए ऑनलाइन आवेदन देने से पहले आपको इसके आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर के रजिस्ट्रेशन करना होता है।
  2. इसके बाद आपको एक फॉर्म भरना होता है।
  3. और कई बैंकों में एक साथ आवेदन आप इस पोर्टल के माध्यम से कर सकते हैं।
  4. जैसे ही आप तो विद्या लक्ष्मी एजुकेशन लोन की आधिकारिक वेबसाइट पर पहुंचेंगे तो यहां पर आपको एक अकाउंट वेबसाइट पर बनाना होता है। आपको रजिस्टर्ड बटन पर क्लिक करना होगा।
  5. जैसे ही आप रजिस्टर बटन पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  6. इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म भर आपको साधारण जानकारी जैसे कि आपका नाम, आपका मोबाइल नंबर, आपका ईमेल आईडी, एवं आप अपने लिए एक पासवर्ड बनाते हो। इसके बाद नीचे दिखाई दे रहे कैप्चा कोड गोबर करके सबमिट बटन पर क्लिक कर दे।
  7. जैसे ही आप सबमिट बटन पर क्लिक करेंगे तो विद्यालक्ष्मी पोर्टल पर आप का रजिस्ट्रेशन हो जाएगा। आपका ईमेल एड्रेस वेरीफिकेशन के लिए अकाउंट एक्टिवेशन लिंक आपके ईमेल एड्रेस पर भेज दी जाएगी।
  8. इसके साथ ही आपके रजिस्ट्रेशन से संबंधित जानकारी आपके ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर पर दे दी जाती है।
  9. आप वेरीफिकेशन लिंक द्वारा अपना अकाउंट को एक्टिवेट कर ले।
  10. इसके बाद आप विद्यालक्ष्मी पोर्टल पर लॉगइन कर सकते हैं।

विद्या लक्ष्मी एजुकेशनल लोन पोर्टल पर लॉगइन करने के बाद आपके सामने कुछ इस तरह का वेबसाइट खुलता है।

यहां पर आप लोन एप्लीकेशन फॉर्म, विभिन्न बैंकों द्वारा चलाए जा रहे लोन योजना, जरूरी दस्तावेज जिस की सूची हमने ऊपर दी है इत्यादि चीजें यहां पर अपलोड कर सकते हैं। सारे फॉर्म को भरने के बाद आप सबमिट बटन पर क्लिक कर देंगे तो आपका विद्या लक्ष्मी पोर्टल एजुकेशनल लोन के माध्यम से विभिन्न बैंकों में आवेदन जमा हो जाएगी।

₹400000 तक के लोन में किसी भी तरह का सिक्योरिटी नहीं लगता है। वही 7.5 लाख रुपए से अधिक के लोन के लिए आपको सिक्योरिटी देनी पड़ती है।

प्रधानमंत्री विद्यालक्ष्मी लोन योजना पोर्टल के माध्यम से अगर आप किसी भी तरह का एजुकेशन लोन के लिए आवेदन करते हैं। तो आप के लोन के लिए ब्याज दर बैंक द्वारा ही निर्धारित की जाती है। पाठ्यक्रम, स्कीम और लोन राशि के अनुसार ब्याज दर का निर्धारण किया जाता है। यही वजह है कि इस पोर्टल के माध्यम से आपको ब्याज दर के बारे में किसी भी तरह की कोई जानकारी नहीं दी जाती है। आपकी प्रोफाइल और राशि के आधार पर ही ब्याज दर बताया जाता है।

Vidya Lakshmi Educational Loan लेते वक्त किन बातों का ध्यान रखें

  • विद्या लक्ष्मी लोन योजना शिक्षा ऋण आप इस बात का ध्यान रखें कि आप इस पोर्टल की सहायता से किसी भी बैंक में एजुकेशनल लोन के लिए आवेदन दे सकते हैं।
  • आवेदन करने के पश्चात बैंक द्वारा आगे की कार्यवाही की जाती है। यदि आप पात्र होंगे तो आपका लोन प्रदान किया जाएगा।
  • अपनी पात्रता की जांच पहले से ही कर ले ताकि आपका फॉर्म रिजेक्ट होने के चांस कम हो।
  • बैंक ऑफ़ से आपके डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए ओरिजिनल डाक्यूमेंट्स मांग सकता है। इसीलिए अपने सभी ओरिजिनल डॉक्यूमेंट तैयार करके रखें।
  • बैंक द्वारा मांगे गए सारे दस्तावेज को आपको 15 से 20 दिनों के अंदर जमा करना होता है। नहीं तो आपके फॉर्म को रिजेक्ट कर दिया जाएगा।
  • विद्या लक्ष्मी शिक्षा ऋण के लिए जब भी आप आवेदन दें तब आप इस बात का ध्यान रखें कि आप अपना नाम ठीक उसी प्रकार बने जो कि आपके मैट्रिकुलेशन सर्टिफिकेट में हो। अपना मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी इत्यादि सही-सही भरे।

निष्कर्ष

आज आपने हमारे इस लेख से क्या सीखा?Educational Loan Scheme in India – शिक्षा ऋण योजना के बारे में जानकारी उपलब्ध कराई है। यहां पर हमने आप लोगों को इस बारे में भी जानकारी दी है कि अगर आप एजुकेशनल लोन लेना चाहते हैं तो उसके लिए क्या क्या योग्यताएं होनी चाहिए।

इसके साथ ही आपको एजुकेशनल लोन ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों ही माध्यमों से आपको कितने रुपए तक की एजुकेशनल लोन मिल सकती है, इसके बारे में भी जानकारी दी है। इसके अलावा एजुकेशनल लोन पर आपको कितने रुपए तक में प्रतिभूति या सुरक्षा देनी होगी एवं उसका रीपेमेंट पीरियड कितने सालों का होगा। इन सारे विषयों पर हमने अपने इस लेख में चर्चा किया है। हमारे इस लेख से संबंधित अगर आपकी कुछ सवाल एवं सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स पर कमेंट करके बता सकते हैं।