How Fast Do Planes Fly? हवाई जहाज कितनी तेजी से उड़ सकते हैं?

हवाई जहाज इंसानों का सबसे महान अविष्कारों में से एक है। यह विमान ही है जिनकी मदद से हम लंबी लंबी दूरी का सफर कुछ घंटों में ही कर लेते हैं। हवाई जहाज की मदद से हम उन जगहों की भी यात्रा कर लेते हैं जहां तक शायद किसी भी एक साधारण इंसान की पहुंच नहीं थी। हवाई जहाज या विमान के अविष्कार ने हमारी दुनिया को काफी छोटा कर दिया है। क्योंकि कई दिनों के सफर हम अब कुछ ही घंटों में कर लेते हैं। इस तरह की तेज यात्रा विमान की डिजाइन और इंजन में तकनीकी प्रगति का परिणाम है। कई बार हम जिज्ञासा बस हमारे मन में यह सवाल उठी आता है कि हवाई जहाज कितनी तेजी से उड़ सकते हैं? How Fast Do Planes Fly?

How Fast Do Planes Fly? हवाई जहाज कितनी तेजी से उड़ सकते हैं?

किसी भी हवाई जहाज की उड़ने की गति उसके इंजन और डिजाइन मे तकनीकी प्रगति का परिणाम है। इसलिए हम यह कह सकते हैं कि अलग-अलग हवाई जहाज या विमान के डिजाइन के मुताबिक उनके इंजन के मुताबिक उनकी उड़ने की गति अलग-अलग हो सकती है। फिर भी साधारण होता है तौर पर एक आधुनिक विमान जैसे एयर बस A 380 लगभग 900 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से उड़ सकता है। जबकि कुछ वाणिज्य जेट फाइटर विमान 935 किलोमीटर प्रति घंटा की औसत गति से उड़ सकने में सक्षम होते हैं।

आइए हम नीचे एक एक करके इस बारे में जानकारी लेते हैं कि किस तरह के विमानों की गति कितनी होती है।

एक वाणिज्य विमान कितनी तेजी से उड़ सकता है?

कुछ जेट एयरलाइंस जैसे कि बोइंग 737 और एयर बस A320, लगभग 800 से 850 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भर सकते हैं। इनकी यह गति आपको तेज लग सकती है, और जब कि यह एयरलाइंस इस से भी तेज उड़ सकते हैं। आमतौर पर जेट विमानों को केवल 1000 किलोमीटर प्रति घंटा की अधिकतम गति के लिए डिजाइन किया गया है।

निजी जेट विमान के समान गति से उड़ान भी इस तरह के वाणिज्य विमान उड़ान भर सकते हैं। सबसे तेज निजी जेट विमान Cessna Citation X है जिस की अधिकतम गति 1,127 किलोमीटर प्रति घंटा यानी कि 700 मील प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भरने में सक्षम है।

क्या वाणिज्य विमान सुपरसोनिक स्पीड से उड़ सकते हैं?

ऐसे कई उदाहरण हैं जहां नियमित विमान ध्वनि की गति के करीब या उससे भी अधिक सुपरसोनिक स्पीड से उड़ सकने में सक्षम है। उदाहरण के लिए ध्वनि की गति से एक वस्तु एक विमान की तरह Mach 1 गति से उड़ान भर सकती है। Mach 1 शब्द का इस्तेमाल हम किसी भी विमान द्वारा ध्वनि की गति के बराबर या उसके आसपास उड़ने की तेज गति को संदर्भित करता है।

साल 1961 में, एक विमान डग्लस DC-8, ने पहली बार Mach 1.012 की गति से उड़ान भरी थी। यानी कि इस विमान ने 1,062 Kph ( किलोमीटर प्रति घंटा)/ 660 मील प्रति घंटा की रफ्तार से उड़ान भरी थी। इसके अलावा उस दौरान और भी बहुत से विमान बनाए गए थे जो कि सुपरसोनिक स्पीड से चलने में सक्षम थे। इनमें से कुछ विमान है बोइंग 747। साल 1991 में, बोइंग विमान एवरग्रीन 747 कार्गो विमान ने सुपरसोनिक हाई स्पीड गति के आसपास पहुंच गया था। लेकिन, विमान की यह गति हम अधिकतम गति नहीं मान सकते हैं। पर इतनी गति में विमान को क्षति भी पहुंच सकता है। इसलिए ज्यादातर वाणिज्य विमानों को 1000 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से कम रफ्तार में उड़ने की हिदायत दी जाती है।

लेकिन, कुछ विमानों को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि वे सुपरसोनिक हाई स्पीड गति से उड़ान भर सकने में सक्षम होते हैं। इस तरह के वायुयान को इस तरह से डिजाइन किया जाता है कि वह ध्वनि अवरोध को तोड़ सके। Tupolev Tu-144 एक ऐसा वायुयान है जिसे साल 1968 में बनाया गया था। इस वायुयान को इस तरह से डिजाइन किया गया था कि यह ध्वनि की गति को तोड़ सके। जब यह वायुयान पहली बार उड़ाया गया था, तब किस ने अपनी अधिकतम गति Mach 2.29 यानी कि 2,828 किलोमीटर प्रति घंटे/ 1757 मील प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ ली थी। लेकिन इस विमान में तकनीकी खामियों और अत्यधिक आवाज करने की वजह से इस तरह के विमान को उन लोगों द्वारा काफी नापसंद किया गया था। इस तरह से इस वायु यान का सेवा के लिए जल्दी ही समाप्त हो गया।

इस विमान का दूसरा वर्जन जिसे Concorde नाम दिया गया था लोगों के बीच में काफी लोकप्रिय हुआ। जो लगभग Mach 2.04 की गति से उड़ सकने में सक्षम सक्षम है। इसका दूसरा वर्शन लगभग 2519 किलोमीटर प्रति घंटे/ 1565 मील प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ने में सक्षम है। इस विमान की सफलता के बाद यह विमान लोगों के बीच में काफी लोकप्रिय हुआ। यह विमान हवाई जहाज रखने वाले कई अमीर व्यक्ति के स्टेटस का सिंबल बन गया। आज इस तरह के विमान का इस्तेमाल ज्यादातर अमीरों, मशहूर हस्तियों, राजनेताओं द्वारा किया जाता था। वायुयान उद्योग में इस यान ने एक लंबा सफर तय किया 30 साल से भी अधिक वर्षों तक सेवा देने के बाद, Concorde को साल 2003 में सेवानिवृत्त कर दिया गया। इसके पीछे कारण था साल 2000 की दुर्घटना, उसके बाद 9/11 के बाद की दुर्घटनाएं शामिल थी। इन सबके अलावा यात्रा में मंदी, ईंधन की बढ़ती कीमतें और वायुयान में लगे पुराने कलपुर्जे।

प्रोपेलर विमान कितनी तेजी से उड़ सकते हैं?

हमें से ज्यादातर लोग प्रोपेलर विमान यानी कि ऐसे  हवाई जहाज जिसमें पंक या पंखा लगा होता है को सबसे पुराने हवाई जहाजों में गिना जाता है। इस तरह के प्रोपेलर विमानों की गति लगभग 48 किलोमीटर प्रति घंटा/ 30 मील प्रति घंटा गिरफ्तार शुरुआती समय में थी। धीरे-धीरे इस तरह के विमान में भी कई सारे डिजाइन और इंजन में विकास किया गया। सेकंड वर्ल्ड वॉर के बाद इस तरह के हवाई जहाज के इंजन में और डिजाइन में सुधार हुए।

जिसके बाद सबसे लोकप्रिय प्रोपेलर विमान Cessna-172 जिसकी अधिकतम स्पीड 302 किलोमीटर प्रति घंटा तक पहुंच गई थी। इसके साथ ही ATR-72 प्रोपेलर विमान जो अपने टॉप स्पीड 518 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार तक पहुंचने वाली पहला प्रोपेलर विमान बन गई थी।

लेकिन वायु सेना में इस्तेमाल किए जाने वाले कुछ ब्रिटिश WW2 विमानों की गति जैसे कि De Havilland Mosquito और Supermarine Spitfire जैसे विमान 600 किलोमीटर प्रति घंटा से अधिक तेज रफ्तार में उड़ने की क्षमता रखते थे।

सैन्य विमान कितनी तेजी से उड़ सकते हैं?

विमानों की डिजाइन और वाणिज्य और गैर वाणिज्य विमानों की तुलना में सैन्य विमान अलग ही तरह से बनाए गए होते हैं। इस वजह से इस तरह के विमानों की गति बहुत अधिक होती है। वर्तमान समय में कुछ सैन्य विमान Mach 2 से Mach 3 तक की रफ्तार पकड़ सकने में सक्षम है। जैसे कि AF -16 विमान आराम से 2000 किलोमीटर प्रति घंटा की टॉप स्पीड पकड़ सकती है। MiG -25 और MiG -31 जैसे सैन्य विमान 3000 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से उड़ सकने में सक्षम होते हैं।

अब तक सबसे तेज उड़ने वाला विमान कौन सा है?

पहले की विमान इतनी तेज गति से उड़ने में सक्षम नहीं थे। लेकिन साल 1947 में जब Chuck Yeager नाम के एक विमान ने सुपर सोनिक यानी कि ध्वनि से भी तेज उड़ करके विमानों की के सबसे तेज उड़ने का रिकॉर्ड तोड़ा था।

हवा में सबसे तेज उड़ने वाला विमान नासा द्वारा बनाया गया SR-71 है जो कि Mach 3 की गति पकड़ सकने में सक्षम है। जिसे हम यह कह सकते हैं कि वह लगभग 3500 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ऊपर उड़ने की क्षमता रखती है। लेकिन एक और रोबोटिक चालक रहित विमान X-43, Mach 9.6 तक की गति तक पहुंचकर के सबसे तेज चालक रहित विमान के रूप में उसने एक रिकॉर्ड स्थापित किया था। लेकिन इस तरह के चालक रहित विमान का इस्तेमाल केवल एक परीक्षण के लिए ही किया गया था।

निष्कर्ष

दोस्तों आज के हमारे इस लेख में हमने आप सभी लोगों को इस बारे में जानकारी उपलब्ध कराई है कि How Fast Do Planes Fly? हवाई जहाज कितनी तेजी से उड़ सकते हैं? इसके साथ ही हमने वायुयान के इतिहास के बारे में भी जानकारी उपलब्ध कराने की कोशिश की है।

कोई भी हवाई जहाज कितनी तेजी से उड़ सकता है, यह सारी चीजें उस हवाई जहाज की डिजाइन एवं उसके इंजन पर निर्भर करती है। साधारण तौर पर पैसेंजर वाले हवाई जहाज 1000 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से कम स्पीड में उड़ान भरते हैं। वही सैन्य विमान Mach 2 से लेकर के Mach 3 तक की स्पीड पकड़ने में सक्षम होते हैं।