What is SSH Client in Hindi

अपने वर्चुअल प्राइवेट सर्वर(VPS) तक अपनी पहुंच बनाने के लिए SSH Client का इस्तेमाल किया जाता है। यह एक तरह का प्रोग्राम होता है। जिसकी मदद से आप अपने वर्चुअल प्राइवेट सर्वर के नेटवर्क प्रोटोकॉल के अंतर्गत अपने सरवर तक एक्सेस कर पाते हैं। आज के हमारे इस लेख में हम इसी बारे में जानकारी उपलब्ध कराने वाले हैं कि What is SSH Client in Hindi.

What is SSH Client in Hindi

SSH को Secure Shell भी कहते हैं। यह एक तरह का एक प्रोग्राम होता है जो SSH सरवर के लिए सुरक्षित और प्रमाणित कनेक्शन स्थापित करने में मददगार होती है।

SSH, को सिक्योर सेल या सिक्योर सॉकेट सेल के रूप में भी जाना जाता है। यह एक नेटवर्क प्रोटोकोल है जो उपयोगकर्ताओं, विशेष रुप से सिस्टम प्रशासकों को एक सुरक्षित नेटवर्क पर कंप्यूटर पर रिमोट रूप से पहुंचने का एक सुरक्षित तरीका है।

SSH उपयोगकर्ताओं के सूट को संदर्भित करता है जो प्रोटोकॉल को लागू करता है। सिक्योर सेल मौजूदा मजबूत पासवर्ड के जरिए आर सार्वजनिक कुंजी के साथ ही इंटरनेट जैसे खुले नेटवर्क पर कनेक्ट होने वाले दो कंप्यूटर के बीच इंक्रिप्टेड डाटा संचार (Encrypted) करने की अनुमति देता है।

मजबूत इंक्रिप्शन प्रदान करने के अलावा, SSH का उपयोग नेटवर्क प्रशासकों द्वारा रिमोट सिस्टम और एप्लीकेशन को प्रबंधित करने के लिए किया जाता है। जिससे वे नेटवर्क पर दूसरे कंप्यूटर में लॉगिन कर सकते हैं। कमांड निष्पादित कर सकते हैं और फाइलों को एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर पर ले जा सकते हैं।

SSH क्रिप्टोग्राफिक नेटवर्क प्रोटोकोल और उस प्रोटोकॉल को लागू करने वाले उपयोगिता के सूट दोनों को संदर्भित करता है। SSH client सरवर मॉडल का उपयोग करता है। एक सुरक्षित सेल क्लाइंट एप्लीकेशन को कनेक्ट करता है जो कि अंत है जहां सत्र प्रदर्शित होता है।

SSH सरवर के साथ प्रोटोकॉल के लिए इस्तेमाल होती है। SSH कार्यन्वयन मैं अक्सर टर्मिनल इमोलेशन या फाइल स्थान तरण के लिए उपयोग किए जाने वाले एप्लीकेशन प्रोटोकोल के लिए समर्थन शामिल होता है।

How do SSH Work? SSH कैसे काम करता है?

SSH, सेल को असुरक्षित टर्मिनल इमोलेशन या लॉगिन प्रोग्राम जैसे कि Telnet, rlogin और rsh यानी की रिमोट सेल को बदलने के लिए बनाया गया था। हालांकि, यह इतने सुरक्षित नहीं थे। रिमोट सिस्टम पर टर्मिनल सत्र में लॉगिन करना और चलाना, SSH फाइल ट्रांसफर प्रोग्राम को भी रिप्लेस करता है जिससे फाइल ट्रांसफर प्रोटोकॉल (FTP) भी कहा जाता है।

SSH , टर्मिनल में लॉग इन करने के लिए आपको अपने टर्मिनल पर निम्नलिखित कमांड को डालने की जरूरत होती है।

ssh UserName@SSHserver.example.com

जैसे ही आप यह कमांड अपने टर्मिनल में डालते हैं तो क्लाइंट को user id, USER NAME का उपयोग करके server.example.com नाम के सर्वर से कनेक्ट करने का प्रयास करता है। इसके लिए आपको पासवर्ड भी डालने की जरूरत होती है या फिर आप private key के माध्यम से ऐसा कर सकने में सक्षम होते हैं।

अगर आप अपने टर्मिनल से दूसरे रिमोट टर्मिनल पर कनेक्शन स्थापित नहीं कर पाते हैं तो निम्नलिखित संदेश आपको टर्मिनल पर दिखाई देगा।

The authenticity of host 'sample.ssh.com' cannot be established.
DSA key fingerprint is 01:23:45:67:89:ab:cd:ef:ff:fe:dc:ba:98:76:54:32:10.
Are you sure you want to continue connecting (yes/no)?

इसके बाद आपको yes मैं उत्तर दे करके अपने टर्मिनल सत्र को जारी रख सकते हैं। होस्ट कुंजी को स्थानीय सिस्टम को ज्ञात होस्ट फाइल में संग्रहित किया जाता है। यह एक छिपी हुई फाइल है जिसे डिफ़ॉल्ट रूप से एक छिपी हुई निर्देशिका भी कह सकते हैं। उपयोगकर्ताओं को होम निर्देशिका में ssh/ogn_host कहते हैं। एक बार होस्ट कुंजी ज्ञात होस्ट फाइल में संग्रहित हो जाने के बाद, क्लाइंट सिस्टम बिना किसी अनुमोदन की आवश्यकता के सीधे उस रिमोट सर्वर या वर्चुअल प्राइवेट सर्वर से कनेक्शन स्थापित कर सकता है।

Putty SSH Terminal का इस्तेमाल कैसे करें?

SSH या सिक्योर सेल, रिमोट सर्वर से कनेक्ट करने के लिए एक सुरक्षित प्रोटोकॉल है। SSH कनेक्शन स्थापित करने के लिए आपको PUTTY जैसे SSH Client सॉफ्टवेयर या एप्लीकेशन की आवश्यकता होती है।

अगर आप, अपने कंप्यूटर या लैपटॉप का इस्तेमाल करते हैं तो आप इस सॉफ्टवेयर को बड़ी आसानी से अपने कंप्यूटर यानी डेक्सटॉप या लैपटॉप पर इंस्टॉल कर सकते हैं। इसके लिए आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके Putty अपने डेक्सटॉप या कंप्यूटर पर डाउनलोड करके इंस्टॉल कर पाएंगे। Install Putty पर क्लिक कर सकते हैं।

वहीं अगर आप, अपने स्मार्टफोन या टैबलेट का इस्तेमाल करके SSH के जरिए अपने रिमोट कनेक्शन सरवर या वर्चुअल प्राइवेट सर्वर से कनेक्शन स्थापित करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको गूगल प्ले स्टोर से Juice SSH डाउनलोड करके अपने स्मार्टफोन पर SSH कनेक्शन स्थापित कर सकने में सक्षम होंगे।