What is Crypto Currency – क्रिप्टो करेंसी के विभिन्न प्रकार

जैसे-जैसे हम तकनीकी की तरफ आगे बढ़ते जा रहे हैं, वैसे वैसे हम एक नई तकनीकी दुनिया में अग्रसर हो रहे हैं। क्रिप्टोकरंसी तेजी से लोकप्रिय हो रही है और हाल के वर्षों में इसने बहुत अधिक लोगों के बीच में अपना ध्यान आकर्षित किया है। जबकि अधिकांश लोग बिटकॉइन और एथेरियम जैसे सबसे लोकप्रिय क्रिप्टो करेंसी में निवेश कर के मुनाफा अर्जित कर रहे हैं। यह दोनों क्रिप्टोकरंसी के अलावा भी बाजार में ऐसे बहुत से क्रिप्टोकरंसी उपलब्ध है जो आपको भविष्य में अच्छा खासा मुनाफा दे सकते हैं। आज के हमारे इस लेख में हम इसी बारे में चर्चा करेंगे, What is Crypto Currency – क्रिप्टो करेंसी के विभिन्न प्रकार?

हमारी इस लेख में हम अलग-अलग तरह के या उनके कौन-कौन से क्रिप्टो करेंसी क्या प्रकार होते हैं इस बारे में जानकारी देने वाले हैं। इसके साथ ही हम उनके उपयोग एवं उससे संभावित लाभ इसके बारे में भी जानकारी लेंगे। आगे बढ़ने से पहले हमें इस बारे में जानकारी लेना बेहद जरूरी है कि क्रिप्टो करेंसी क्या होती है?

What is Crypto Currency – क्रिप्टो करेंसी के विभिन्न प्रकार

अगर तकनीकी भाषा में क्रिप्टोकरंसी को परिभाषित किया जाए तो आप कह सकते हैं कि , ” यह एक विकेंद्रित (Decentralized) डिजिटल संपत्ति है। इसके जरिए डिजिटल तरीके से लेनदेन किया जा सकता है”। ब्लॉकचेन तकनीकी के माध्यम से हम इंटरनेट की दुनिया में क्रिप्टोकरंसी को अलग-अलग जगहों में जमा या स्टोर करके रख सकते हैं।

ब्लॉकचेन एक ऐसी तकनीक है जिसके माध्यम से डिजिटल करेंसी को बनाया जाता है साथ ही साथ में इन डिजिटल करेंसी का रिकॉर्ड भी रखा जाता है। साधारण भाषा में कहा जाए तो ब्लॉकचेन के माध्यम से इन्हें बनाया और इन्हें डिजिटल दुनिया में जमा या इनका रिकॉर्ड रखा जाता है। यह एक तरह का डिजिटल लेजर है।

डिजिटल करेंसी या क्रिप्टो करेंसी किसी भी देश की बैंक द्वारा रेगुलेट नहीं किया जाता और ना ही इसे कोई सरकार मॉनिटर कर सकती है। यह पूरी तरह से एक निजी करेंसी होती है। इसके साथ भी जोखिम के कई सारे कार्य जुड़े हुए हैं, क्रिप्टो करेंसी क्या रेट में उतार-चढ़ाव की स्थिति हमेशा बनी रहती है।

डिजिटल रूप में क्रिप्टो करेंसी की लेनदेन होती है। लेकिन सबसे बड़ा फर्क यह है कि यह पूरी तरह से रेगुलेटेड नहीं है। कई देशों में इसे कई बैंकों द्वारा माननीय एवं स्वीकार किया जाता है। तो, कई देशों में इसे मंजूरी नहीं है। देखा जाए तो ज्यादातर देशों में इसे एक रेगुलेटेड करेंसी के तौर पर देखा जाता है। भारत जैसे देश में इसे एक रेगुलेटेड करेंसी की मान्यता दी गई है। इसमें नियामक के रूप में आरबीआई और लेनदेन की मदद के लिए दूसरे बैंक मौजूद हैं। इसके लेनदेन में किसी भी तरह की दिक्कत आने पर वित्तीय संस्थान दखल दे सकते हैं।

Payment Currency – भुगतान मुद्राएं

डिजिटल तौर पर लेनदेन के लिए इंटरनेट पर क्रिप्टोकरंसी क्रिप्टो संपत्ति के सबसे लोकप्रिय रूप में जाने जाते हैं। यह डिजिटल मुद्राएं विकेंद्रित होती है। जिसका अर्थ है कि कोई केंद्रीय प्राधिकरण उन्हें नियंत्रित नहीं कर सकता है। बिटकॉइन सबसे लोकप्रिय मुद्राओं में से एक है। अन्य लोकप्रिय भुगतान मुद्राएं जिनमें एथेरियम, लिटकॉइन और रिप्पल आदि शामिल है। वही बिटकॉइन की तुलना में विभिन्न लेनदेन गतिविधि लागत और मान्यता लाभ प्रदान करती है।

उदाहरण के लिए, एथेरियम और बिटकॉइन की तुलना में बहुत तेज लेनदेन का समय है, जिससे तेजी से भुगतान की अनुमति मिलती है। इसी तरह से, रिप्पल बिटकॉइन की तुलना में भुगतान को अधिक तेजी से संसाधित कर सकता है। जिससे या अंतरराष्ट्रीय भुगतान या बड़े लेनदेन के लिए आदर्श बन जाता है।

Blockchain Economies – ब्लॉकचेन अर्थव्यवस्था

ब्लॉकचेन (Blockchain) अर्थव्यवस्था विकेंद्रित नेटवर्क, प्रोटोकॉल और अनुप्रयोगों के वित्त पोषण के लिए क्रिप्टो करेंसी के उपयोग पर केंद्रित है। इन अर्थव्यवस्थाओं को टोकन द्वारा बनाए रखा जाता है जिनका उपयोग वस्तुओं और सेवाओं को खरीदने या विशिष्ट सुविधाओं तक पहुंच प्राप्त करने के लिए किया जाता है। इन सबके अलावा इन टोकन का अन्य प्रकार की मुद्रा के लिए भी कारोबार किया जाता है।

ब्लॉकचेन अर्थव्यवस्था लोगों को उन परियोजनाओं में निवेश करने की अनुमति देती है जिन पर विश्वास करते हैं और उन में रुचि रखते हैं और नए बाजार और प्लेटफार्म बनाते हैं जो पहले संभव नहीं थे। डिजिटल टोकन कुछ क्रिप्टो संपत्तियों के स्वामित्व का प्रतिनिधित्व करते हैं। या किसी नेटवर्क की मूल मुद्दा से लेकर पुरस्कार टोकन तक, सोना या जमीन जैसी भौतिक संपत्तियों के प्रतिनिधित्व के लिए कुछ भी हो सकता है।

व्यापार और वित्तीय सेवाओं से लेकर डाटा प्रबंधन और परिसंपत्ति ट्रैकिंग तक के अनुप्रयोगों के साथ ब्लॉकचेन अर्थव्यवस्थाओं की क्षमता बहुत अधिक है। जैसे-जैसे अधिक लोग क्रिप्टोकरंसी को अपनाते हैं, वैसे वैसे हम नवीन ब्लॉकचेन आधारित परियोजनाओं और व्यवस्थाओं के लिए अधिक अवसर देखते हैं।

Privacy Coins – गोपनीयता सिक्के

आमतौर पर देखा जाए तो, क्रिप्टो करेंसी गोपनीयता और सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित करने के कारण अन्य क्रिप्टो करेंसी की तुलना में अधिक सुरक्षित माने जाते हैं। गोपनीयता के सिक्कों का लक्ष्य किसी के लिए धन या लेनदेन की उत्पत्ति का पता लगाना कठिन हो जाता है।

गोपनीयता के पीके अन्य प्रकार की क्रिप्टोकरंसी की तुलना में अभूतपूर्व गोपनीयता और सुरक्षा प्रदान करते हैं। वह उन उपयोगकर्ताओं के बीच तेजी से लोकप्रिय हो रहे हैं जो गोपनीयता को काफी अधिक महत्व देते हैं और अपने ऑनलाइन वित्तीय लेनदेन में गुमनाम रहना चाहते हैं। लोकप्रिय गोपनीयता के सिक्कों में मनोरो Monero (XMR), Zcash (ZEC), Dash (DASH), Verge (XVG) और Grin (GRIN) आदि क्रिप्टोकरंसी शामिल है।

Utility Tokens – यूटिलिटी टोकस

उपयोगिता टोकन या यूटिलिटी टोकन डेवलपर्स के लिए उपयोगकर्ताओं को नेटवर्क में भाग लेने और इसकी सेवाओं का उपयोग करने के लिए पुरस्कृत और प्रोत्साहित करने का एक उपयोगी तरीका है। यह टोकन विभिन्न अनुप्रयोगों के लिए उपयोग किया जा सकता है और उपयोगकर्ताओं को सेवाओं, उत्पादों या प्लेटफार्म तक पहुंच प्रदान कर सकता है।

इसके साथ ही, यूटिलिटी टोकन का इस्तेमाल करने से कई सारे लाभ होते हैं जैसे की तरलता, मापनीयता और लागत दक्षता के साथ मदद कर सकते हैं। यह सभी क्रिप्टो नेटवर्क को तेज, आसान और अधिक विश्वसनीय बनाने में मदद करते हैं। नेटवर्क के अंदर विनियमन और उद्देश्य पूर्ण उपयोग की कमी के कारण उन्हें अक्सर अन्य क्रिप्टो संपत्ति की तुलना में अधिक सुरक्षित माना जाता है।

Security Tokens – सुरक्षा टोकन

सिक्योरिटी टोकन या सुरक्षा टोकन क्रिप्टो संपत्ति निवेशकों और व्यापारियों के लिए अवसरों की एक विशाल श्रृंखला प्रदान करती है। उपलब्ध विभिन्न प्रकार की क्रिप्टो संपत्ति के साथ यह समझना महत्वपूर्ण है कि आप की आवश्यकताओं और लक्ष्यों के लिए कौन सा क्रिप्टोकरंसी आपके लिए सही है।

बिटकॉइन और लिटकॉइन जैसे क्रिप्टोकरंसी भुगतान मुद्राएं तेज और सुरक्षित भुगतान की अनुमति प्रदान करती है। जबकि एथेरियम और एनआईओ जैसी ब्लॉकचेन अर्थव्यवस्था विकेंद्रित अनुप्रयोगों के लिए मंच प्रदान करती है। आपके लिए किस तरह की क्रिप्टो करंसी सही है यह जानने से पहले आपको अपने निवेश और व्यापार के बारे में सूचित निर्णय लेने में मदद मिल सकती है।

सुरक्षित टोकन या सिक्योरिटी टोकन अंतर्निहित स्मार्ट अनुबंधों के कारण सुरक्षा की एक अतिरिक्त परत प्रदान करते हैं, जो उपयोगकर्ताओं को संपत्ति के स्वामित्व और हस्तांतरण के संबंध में नियम स्थापित करने की अनुमति देते हैं। यह लागू कानून और वीनियमों का अनुपालन करते हुए केवल अधिकृत पार्टियों को लेनदेन करने की अनुमति देता है।

कुल मिलाकर जब सुरक्षा टोकन के बारे में बात करने की बात आती है तो या एक रोमांचक नया परिसंपत्ति वर्ग है जो परम पारीक बाजारों में निवेश और व्यापार करने के तरीके में क्रांति लाने का वादा करता है। संपत्ति को टोकन देकर, निवेश अधिक तरलता, कम लागत, आंशिक स्वामित्व और 24 * 7 ट्रेडिंग का लाभ उठा सकते हैं, जबकि जोखिम कम करने के साथ जहां आपको अधिक रिटर्न देने में भी सक्षम होता है।

क्रिप्टो करेंसी और डिजिटल रूप के फायदे

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि डिजिटल रूप के कई सारे फायदे हैं। डिजिटल रूप आसानी से किसी भी व्यक्ति के पहुंच में होता है। अगर डिजिटल रूपी को आम आदमी के लिए शुरू किया गया तो आपको अपने पास कैश रखने की जरूरत नहीं होगी।

क्रिप्टो करेंसी को आप अपने मोबाइल फोन पर मोबाइल वॉलेट मैं रख सकते हैं। डिजिटल करेंसी का इस्तेमाल कहीं भी कर सकेंगे। ठीक उसी तरह जैसे कि आप अपने डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और ऑनलाइन पेमेंट के लिए इस्तेमाल करते हैं।

क्रिप्टो करेंसी और डिजिटल रूप में आपकी गोपनीयता बनी रहती है। इसके साथ ही नकली करेंसी की समस्या से भी आपको छुटकारा मिल जाएगा। कागज के नोट की प्रिंटिंग का खर्चा बचेगा। इसके अलावा सभी अधिकृत नेटवर्क के भीतर होने वाले लेनदेन सरकार की नोटिस में होंगे।

जिस तरह से नोट पुराने हो जाते हैं, या लंबे समय के दौरान उनके इस्तेमाल से नोट खराब हो जाते हैं या कट कट जाते हैं, इस तरह की समस्या डिजिटल करेंसी में नहीं आती है। डिजिटल रूप में लेनदेन का सबसे बड़ा फायदा यह रहेगा कि इसके इस्तेमाल से कैशलेस लेनदेन को बढ़ावा मिलेगा और इसमें बैंकिंग क्षेत्र में सकारात्मक बदलाव आएगा। डिजिटल रूप कुछ इस तरह से लाया जाएगा कि बिना इंटरनेट के भी हम किसी को भी पेमेंट कर सकेंगे। डिजिटल रूपी मौजूदा करेंसी नोट की व्यवस्था को खत्म करने के लिए नहीं आ रहा है। बल्कि लोगों को लेनदेन में एक और ऑप्शन देगा जिन लोगों को डिजिटल ट्रांजैक्शन में दिक्कत होती है उनको डिजिटल रूपी को नगदी में बदलने की सुविधा मिलेगी।