The Success Story of Satya Nadella – सत्या नडेला की जीवनी

माइक्रोसॉफ्ट जैसी बड़ी कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रहे सत्या नडेला के जीवन और उनकी सफलता के बारे में आज अपने इस लेख में बात करने वाले हैं। सत्य नारायण नाडेला वर्ष 2014 में स्टीव बॉलमेर के स्थान पर माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी का पद संभाला था। उनके कार्यकारी अधिकारी बनने के बाद माइक्रोसॉफ्ट कंपनी में कई ऊंचाइयों को छुआ है। 16 जून 2021 को, नडेला को जॉन डब्ल्यू थॉमसन के स्थान पर माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया है। आज के हमारे लेख में हम जानेंगे उनकी सफलता के बारे में। The Success Story of Satya Nadella – सत्या नडेला की जीवनी

सत्या नारायण नडेला एक भारतीय परिवार से संबंध रखते हैं। फॉर माइक्रोसॉफ्ट के क्लाउड एंड इंटरप्राइजेज समूह के पूर्व कार्यकारी उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं। उनके अंतिम पद को कंपनी के कंप्यूटिंग प्लेटफार्म की जांच करने की नौकरी से नवाजा गया था।

The Success Story of Satya Nadella – सत्या नडेला की जीवनी

सत्या नाडेला का जन्म हैदराबाद, वर्तमान समय में तेलंगाना राज्य में भारत के तेलुगु भाषा हिंदू परिवार में हुआ है। उनके पिता बुक्कापुरम नडेला 1962 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी के रूप में कार्यरत थे। उनकी माता संस्कृत की प्रोफेसर थी।

उनके पिता नाडेला गांव से आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले के बुक्कापुरम और बाद में हैदराबाद चले गए। सत्य नडेला की शादी वर्ष 1992 में अनुपमा से हुई थी। उनके तीन बच्चे भी है, दो बेटियां और एक बेटा है। उनका बेटा जैन सेरेब्रल पाल्सी के साथ कानूनी रूप से नेत्रहीन है, उनका पूरा परिवार क्लाइड हील और वेलपोवा वाशिंगटन में रहता है।

सत्य नडेला ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा हैदराबाद पब्लिक स्कूल बेगमपेट से पूरी की है। बाद में उन्होंने मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी कर्नाटका से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री हासिल की। उन्होंने वर्ष 1988 में स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद अपनी उच्च शिक्षा के लिए विदेश चले गए।

उन्होंने 1990 में विस्कंसिन मॉलविक विश्वविद्यालय से कंप्यूटर विज्ञान में एमएस पूरा किया। उन्होंने 1996 में यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो बूथ स्कूल ऑफ बिजनेस से एमबीए की पढ़ाई भी पूरी की।

सत्य नडेला ने अपने करियर की शुरुआत सन माइक्रोसिस्टम की तकनीकी स्टाफ के सदस्य के रूप में की थी। वर्ष 1992 में फॉर माइक्रोसॉफ्ट में शामिल हो गए। पहले उन्होंने विंडोज एनटी के विकास पर काम किया बाद में उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट में क्लाउड कंप्यूटिंग से संबंधित प्रमुख परियोजनाओं का नेतृत्व किया। मैंने माइक्रोसॉफ्ट बार में व्यापार और उद्योगों में प्रतिष्ठान नेतृत्व की भूमिका निभाई है।

उन्होंने एक किताब लिखी है, हिट रिफ्रेश: माइक्रोसॉफ्ट की आत्मा को फिर से खोजने और सभी के लिए बेहतर भविष्य की कल्पना करने की खोज, जिसे वर्ष 2017 में लिखा गया था। इस पुस्तक में माइक्रोसॉफ्ट में उनके अनुभव और केरियर शामिल है। इसके अलावा उन्होंने घोषणा की कि पुस्तक से होने वाला लाभ गैर-लाभकारी संगठनों के माध्यम से माइक्रोसॉफ्ट परोपकार को जाएगा।

सत्य नडेला का माइक्रोसॉफ्ट में केरियर

सत्य नडेला ने वर्ष 1992 में इंजीनियर के रूप में माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के लिए काम करना शुरू किया। सत्य नडेला को वर्ष 2021 में माइक्रोसॉफ्ट बिजनेस सॉल्यूशन के कॉर्पोरेट अध्यक्ष के रूप में पदोन्नति मिली। इसके बाद माइक्रोसॉफ्ट बिजनेस सॉल्यूशन के कॉर्पोरेट उपाध्यक्ष के रूप में उन्होंने काम किया। बाद में उन्होंने ऑनलाइन सेवा प्रभाग और माइक्रोसॉफ्ट बिजनेस डिवीजन के लिए अनुसंधान और विकास के उपाध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया।

तब उन्होंने सरवर और टेलीविजन के अध्यक्ष के रूप में पदोन्नति प्राप्त की और उन्होंने अपनी कंपनी को माइक्रोसॉफ्ट के डेटाबेस, विंडोज सर्वर और डेवलपर टूल्स को अपने Azure Cloud पर लाने में मदद की। क्लाउड सर्विसेज से राजस्व जून 2013 में 20.3 बिलियन डॉलर से बढ़कर के 16.6 बिलियन डॉलर हो गया। जब उन्होंने 2011 में पदभार संभाला था। उस दौरान उनकी कुल वेतन 84.5 डॉलर मिलियन के आसपास थी।

सत्या नडेला को फरवरी 2014 को माइक्रोसॉफ्ट के नए कार्यकारी अधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया था। बिल गेट्स और स्टीव बॉलमेर के बाद वे क्रमिक रूप से माइक्रोसॉफ्ट के तीसरे कार्यकारी अधिकारी हैं। सत्या नडेला के अंतर्गत कंपनी का स्टॉक सितंबर 2018 तक 27% वार्षिक वृद्धि के दर के साथ 3 गुना हो गया है।

सत्या नडेला ने 7 वर्षों से अधिक समय तक माइक्रोसॉफ्ट के कार्यकारी अधिकारी के रूप में कार्य करने के बाद, नाडेला को 16 जून 2021 को फॉर्म के कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया। उन्होंने अध्यक्ष बनने के लिए जॉन डब्ल्यू थॉमसन का स्थान लिया।

सत्या नडेला ने एप्पल, सेल्स फोर्स और ड्रॉपबॉक्स जैसी कंपनियों को टक्कर देने के लिए माइक्रोसॉफ्ट और लिनक्स के एकीकरण की घोषणा की। माइक्रोसॉफ्ट आधिकारिक तौर पर 2016 में लिनक्स फाउंडेशन में प्रीमियम सदस्य के रूप में शामिल हुआ।

इसके अलावा, उन्होंने सहानुभूति, सहयोग और विकास मानसिकता को उजागर करके माइक्रोसॉफ्ट में एक सांस्कृतिक बदलाव को सशक्त बनाया। उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट की कॉर्पोरेट दुनिया को सफलतापूर्वक एक ऐसे वातावरण में बदल दिया जो निरंतर सीखने और विकास पर जोर देता है।

सत्या नडेला और माइक्रोसॉफ्ट कंपनी में अन्य कंपनियों का अधिग्रहण

सत्य नाडेला माइक्रोसॉफ्ट के साथ पहला अधिग्रहण वर्ष 2014 में हुआ था। उन्होंने एक स्वीडिश वीडियो गेम डेवलपर, Mojang का अधिग्रहण किया। कंप्यूटर गेम के लिए जाने जाने वाली इस कंपनी के अलावा उन्होंने Minecraft को भी 2.5 बिलीयन डॉलर का अधिग्रहण किया गया था।

उन्होंने सॉफ्टवेयर कंपनी, जामरीन भी खरीदी। इसके बाद उन्होंने वर्ष 2016 में 26.2 डॉलर बिलियन के पेशेवर नेटवर्क, LinkedIn को खरीद कर अपना कदम आगे बढ़ाया। इसके बाद उन्होंने GitHub को अधिकारिक तौर पर माइक्रोसॉफ्ट द्वारा 26 अक्टूबर 2018 को 7.5 बिलियन डॉलर में अधिकृत किया था।

सत्य नडेला को मिले पुरस्कार और सम्मान

  • उन्हें 2018 में टाइम मैगजीन द्वारा 100 सफल व्यक्ति की सूची में शामिल किया गया था।
  • उन्हें 2019 में फाइनेंशियल टाइम्स पर्सन ऑफ द ईयर के रूप में सम्मानित किया गया है।
  • वर्ष 2019 में फार्च्यून पत्रिका बिजनेस पर्सन ऑफ द ईयर के रूप में भी सम्मानित किया गया है।
  • उन्होंने हाल ही में वर्ष 2020 में मुंबई में CNBC-TV18 के इंडिया बिजनेस लीडर अवॉर्ड्स में ग्लोबल इंडियन बिजनेसमैन आइकन के रूप में मान्यता दी गई है।

संक्षिप्त में

सत्य नडेला की कहानी सभी वीडियो के लिए प्रेरणादाई है। सत्य नडेला ने खुद कोई उद्यम नहीं बनाया। इस सफलता को हासिल करने के लिए उन्होंने कड़ी मेहनत की। उन्हें उनके पिछले काम और नेतृत्व कौशल के आधार पर मौजूदा बड़े उद्योग को चलाने के लिए चुना गया था। किसी को परवाह नहीं है कि आपको कौन सी डिग्री मिली है या आपने किस कॉलेज या यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन किया है। केवल एक चीज जो मायने रखती है वह यह है कि आप कंपनी को क्या दे सकते हैं? कंपनी केवल अपने कार्य करने की क्षमता की परवाह करती है और सत्य नाडेला के मामले में, माइक्रोसॉफ्ट के पास इसका मूल्यांकन करने के लिए 22 वर्ष है। लोग सत्य नडेला कि उनकी सकारात्मक नेतृत्व कौशल और कर्मचारियों के प्रति सहानुभूति के लिए प्रशंसा करते हैं, जिसने उन्हें काम करने के लिए सबसे अच्छा कार्यकारी अधिकारी बनाया है।

आज के हमारे इस लेख में हमने The Success Story of Satya Nadella – सत्या नडेला की जीवनी के बारे में आप लोगों को जानकारी दी है। अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया है तो आप इसे सोशल मीडिया पर शेयर करना मत भूलिए गा। हम हमेशा कोशिश करते हैं कि आप लोगों के समक्ष हम लोग अच्छी और बेहतर जानकारियां लेकर के आए।