Sensex क्या होता है? What is Sensex in Hindi.

दोस्तों शेयर बाजार में ऐसे ही कई तकनीकी शब्द है, जिनका इस्तेमाल शेयर बाजार में होने वाले उतार-चढ़ाव, या दूसरे चीजों को मापने के लिए किया जाता है। ऐसा ही एक शब्द है ‘सेंसेक्स’ (Sensex) अगर आप थोड़ी बहुत शेयर बाजार के बारे में जानकारी रखते हैं तो आपको यह जरूर पता होगा ‘Sensex’ क्या होती है? इसका इस्तेमाल शेयर मार्केट में होने वाले उतार-चढ़ाव को देखने के लिए किस तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है।

अगर आपको Sensex क्या होता है? इसके बारे में जानकारी नहीं है? तो कोई बात नहीं, हम आज के हमारे इस पोस्ट में Sensex क्या होता है? Sensex in Hindi सेंसेक्स शेयर मार्केट में किस चीज को दर्शाता है? इसके द्वारा शेयर में होने वाले उतार-चढ़ाव पर हम किस तरह से निगरानी रख सकते हैं? इन सारी चीजों के बारे में विस्तार से जानकारी उपलब्ध करा रहे हैं।

Sensex क्या होता है? – what is Sensex in Hindi

Sensex को Sensex-30 के नाम से भी जाना जाता है। वास्तव में सेंसेक्स, मुंबई स्टॉक एक्सचेंज (Bombay Stock Exchange) में सूचीबद्ध 30 कंपनियों का एक इंडेक्स होता है। इसे S&P BSE SENSEX इंडेक्स के रूप में भी जाना जाता है, यानी यह मुंबई स्टॉक एक्सचेंज का बेंचमार्क इंडेक्स होता है।

वही जो Nifty की बात आती है तो यह NSE में सूचीबद्ध 50 कंपनियों का शेयर होती है। हमने अपने इस ब्लॉग में Nifty से संबंधित एक पोस्ट भी डाला हुआ है। आप उसे नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं। Sensex in Hindi

NIFTY क्या होता है? What is Nifty in Hindi.

सेंसेक्स की बात करें तो यह हमारे शेयर बाजार या स्टॉक एक्सचेंज का benchmark index है। या भारत का सबसे पुराना स्टॉक एक्सचेंज है। जो कि Bombay Stock Exchange यानी कि BSE के शेयरों में होने वाले उतार चढ़ाव या तेजी या मंदी को दर्शाता है। इसमें भारत के 30 सबसे बड़े कंपनियों को सूचीबद्ध किया गया है, जोकि BSE में सूचीबद्ध कंपनी के शेयर का 60% हिस्सेदारी रखती है। इसके उतार-चढ़ाव से हमें यह पता लगता है कि हमारा share market पर तेजी या मंदी है।

Sensex in Hindi ‘Sensex’ शब्द का पहली बार इस्तेमाल दीपक मोहिनी द्वारा किया गया था। यह शब्द दो शब्दों से मिलकर बना हुआ है, जोकि है पहला ‘sensitive’ दूसरा ‘index’ एनी 2 शब्दों को जोड़ करके ‘Sensex’ शब्द को बनाया गया है। अगर हम हिंदी में इसका सही अर्थ निकाले दो यह संवेदी सूचकांक कहलाता है। वही जब हम सेंसेक्स की बात करते हैं तो यह भारत का सबसे पुराना स्टॉक मार्केट इंटेक्स है, जिसे साल 1986 में स्थापित किया गया था।

जैसा कि हमने ऊपर बताया है , Sensex भारत की 30 सबसे बड़ी कंपनी का सूचकांक होता है। जोकि BSE (Bombay Stock Exchange) पर सूचीबद्ध होती है। जो कुल BSE में मौजूदा कंपनियों का सबसे ज्यादा जिसे आप टॉप भी कह सकते हैं। Market capitalisation रखता है। एक हिसाब से यह कुल BSE में लिस्टेड कंपनियों के मार्केट कैप का 60% से अधिक हिस्सेदारी रखती है। वही कुल भारतीय GDP (Gross Domestic Product) का 37% हिस्सेदारी रखती है।

इससे आपको यह साफ पता लग गया होगा कि किस तरह से सेंसेक्स की सहायता से हम शेयर मार्केट में होने वाले उतार-चढ़ाव पर निगरानी रख सकते हैं। यह मुंबई स्टॉक एक्सचेंज पर होने वाले शेयर के ट्रेंड और तेजी और मंदी पर नजर रखा जा सकता है। आसान शब्दों में कह तो Sensex वह सूचकांक होता है, जोकि BSE में ‌ सूचीबद्ध 30 सबसे बड़ी कंपनियों के सूचकांक में होने वाले उतार चढ़ाव या तेजी मंदी को दर्शाता है।

कोई भी कंपनी को Sensex पर कब शामिल किया जाता है?

जैसा कि हमने ऊपर बताया Sensex भारत की 30 सबसे बड़ी कंपनियों का सूचकांक होता है। जोकि BSE के स्टॉक एक्सचेंज पर होने वाले तेजी और मंदी को दर्शाता है।

सेंसेक्स सूचकांक पर 30 कंपनियां मौजूद रहती है।पर यह सवाल उठता है कि ऐसी कौन सी कंपनियां है जिन्हें Sensex पर सूचीबद्ध किया जाता है, और इनका क्या मापदंड है?

Sensex पर सूचीबद्ध होने के लिए, किसी भी कंपनी को BSE के 100 market cap रखने वाली कंपनियों में से एक होना चाहिए, इसके अलावा उस कंपनी का market capitalisation, BSE (मुंबई स्टॉक एक्सचेंज) के कुल मार्केट कैप का 0.5% होना अनिवार्य है। तभी उसे सेंसेक्स पर सूचीबद्ध किया जा सकता है। इसके अलावा भी कुछ मापदंड तय की गई है, जोकि निम्नलिखित है:-

  1. किसी भी कंपनी को सन सेक्स पर सूचीबद्ध करने के लिए उसके शेयर स्टॉक एक्सचेंज कर 1 साल से अधिक समय से सूचीबद्ध हो।
  2. 1 साल के अंदर जितने भी स्टॉक एक्सचेंज खुले हो, उनमें उस कंपनी के शेयर की खरीद बिक्री प्रत्येक दिन जरूर हुई हो।
  3. हर दिन average trade की संख्या और total value के हिसाब से कंपनी भारत की 150 सबसे बड़ी कंपनियों में शामिल हो।

Market capitalisation क्या होता है?

Market capitalisation या Market cap किसी भी कंपनी द्वारा public के लिए जारी की गई total share की वर्तमान कीमत होती है। Sensex in Hindi

ऐसा तो इसके बारे में हमने अपने दूसरे पोस्ट पर भी जिक्र किया हुआ है। लेकिन फिर भी हम इसे एक उदाहरण के जरिए समझाना चाहते हैं। मान लिया कि ABC एक कंपनी है, जिसने पब्लिक के लिए 1000 share जारी किए हैं। प्रत्येक शेयर की face value ₹10 है। वर्तमान समय में ABC कंपनी के प्रति शेयर का मूल्य ₹20 होते हैं। ABC कंपनी का Market cap निकालने के लिए हमें कुल शेयर गुना वर्तमान शेयरों की कीमत से करना पड़ेगा। हमारे एस उदाहरण के संदर्भ में,

ABC कंपनी के कुल शेयर = 1000 शेयर। ABC कंपनी के शेयर का वर्तमान मूल्य = ₹20। ABC कंपनी का Market cap = 1000×20₹. ABC कंपनी का कुल Market cap = 20,000₹

यानी कि ABC कंपनी का कुल मार्केट कैप ₹20000 होते हैं। ठीक उसी तरह BSE में listed कुल कंपनियों के शेयर का मार्केट कैप BSE के मार्केट केप बराबर होता है। Sensex पर सूचीबद्ध होने के लिए किसी भी कंपनी को BSE में सूचीबद्ध कंपनियों के शेयर के मूल्य का Market cap का कंपनी के मार्केट कैप का 0.5% market cap होना जरूरी है तभी युवा कंपनी, Sensex पर सूचीबद्ध की जा सकती है। Sensex in Hindi

कौन-कौन सी कंपनियां Sensex पर सूचीबद्ध है?

जैसा कि हमने इस बारे में जिक्र पहले ही कर लिया है कि Sensex पर कुल मिलाकर के 30 कंपनियों को सूचीबद्ध किया जाता है। इनकी सूची निम्नलिखित है:-

  1. Adaniports and special economic zone private limited
  2. Asian paints
  3. Bajajauto limited
  4. Axis Bank limited
  5. Bharti Airtel limited
  6. Reliance industry
  7. Cipla
  8. Coal India limited
  9. HDFC Bank limited
  10. Dr. Reddyes laboratories limited
  11. Hero MotoCorp limited
  12. Hindustan Unilever limited
  13. Housing development finance corporation limited
  14. Tata Steel
  15. Wipro limited
  16. Tata motors
  17. State Bank of India
  18. Sun pharmaceutical limited
  19. Power grid corporation of India limited
  20. Oil and natural gas limited
  21. NTPC limited
  22. Tata motors – DVR ordinary
  23. Mahindra and Mahindra limited company
  24. Maruti Suzuki India
  25. Infosys limited
  26. Kotak Mahindra Bank limited
  27. ICICI Bank limited
  28. Larsen and turbo limited
  29. ITC
  30. Lupin private limited

यह भारत की कुछ प्रमुख कंपनियां है जिन्हें Sensex पर सूचीबद्ध किया गया है, इन्हीं कंपनियों के शेयरों के उतार-चढ़ाव या तेजी या मंदी को देख कर के हम शेयर बाजार में होने वाले हलचल का पता लगा सकते हैं। इन कंपनियों के शेयर में होने वाले उतार-चढ़ाव अपने अपने क्षेत्र के प्रमुख कंपनियां है जिसके चलते शेयर मार्केट में होने वाली गिरावट या तेजी पर निगरानी रखी जा सकती है। Sensex in Hindi

Sensex सूचकांक के क्या फायदे हैं ?

वैसे तो Sensex के बहुत सारे फायदे हैं। लेकिन हम यहां पर केवल कुछ प्रमुख फायदों के बारे में ही बात करने वाले हैं। जैसा कि हमने आपको इस बारे में जानकारी दी है कि Sensex, Bombay Stock Exchange पर लिस्टेड 30 कंपनी का सूचकांक होता है। यह 30 कंपनियां अपने क्षेत्र की अग्रणी कंपनी होती है। इस चलते ही इनके शेयर में होने वाले उतार-चढ़ाव से आप उस क्षेत्र में होने वाली तेजी या मंदी के बारे में भी पता लगा सकते हैं। इसके अलावा यह 30 बड़ी कंपनियां GDP के 37% हिस्सेदारी रखती है।इनके आंकड़ों से यह पता लगा सकते हैं कि हमारी अर्थव्यवस्था पर मंदी है या फिर तेजी। तो चलिए जानते हैं, Sensex के क्या-क्या फायदे हैं? Sensex in Hindi

  • Sensex का सबसे बड़ा फायदा उन निवेशकों के लिए है जो शेयर बाजार पर व्यापारिक गतिविधियां करते हैं।
  • Sensex पर उतार-चढ़ाव या तेजी मंदी को देख कर के आप शेयर बाजार में होने वाले हलचल का पता लगा सकते हैं।
  • Sensex पर भारत की 30 बड़ी कंपनी को सूचीबद्ध किया हुआ है। जो अपने क्षेत्र की अग्रणी कंपनी है।
  • 30 top कंपनी हमारे GDP पर भी असर डालती है। जिससे हम हमारी अर्थव्यवस्था पर होने वाले प्रभाव के बारे में निगरानी रख सकते हैं।
  • जोकि कुल जीडीपी का 37% प्रतिशत हिस्सेदारी रखती है।
  • आप किसके सहायता से अर्थव्यवस्था और बाजार पर निगरानी रखने के साथ-साथ, डाटा का आकलन करके अर्थव्यवस्था पर होने वाले प्रभाव का आकलन भी कर सकते हैं। Sensex in Hindi

निष्कर्ष

दोस्तों उम्मीद करता हूं कि आपको आज के हमारे इस पोस्ट से कुछ नया जरूर सीखने को मिला होगा। आज के हमारे इस पोस्ट में हमने आप लोगों को Sensex in Hindi . Sensex क्या होता है? What is Sensex in Hindi के बारे में जानकारी उपलब्ध कराई है।

इसके अलावा सेंसेक्स में होने वाले उतार-चढ़ाव और तेजी या मंदी किस तरह से हमारे अर्थव्यवस्था पर प्रभाव डालता है। इसके साथ ही हमने Sensex पर किसी भी कंपनी को किस तरह से सूचीबद्ध किया जाता है? इन सारे विषयों पर विस्तार से जानकारी उपलब्ध कराई है। उम्मीद करता हूं कि आपको हमारे द्वारा ही दी गई है जानकारी जरूर पसंद आई होगी। अगर आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आई है तो आप इसे अपने दोस्तों, रिश्तेदारों, कलीग्स के साथ में social media पर शेयर भी कर सकते हैं।इससे संबंधित अगर आप के कुछ सवाल एवं सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स पर कमेंट करके बता सकते हैं। हम यह कोशिश करेंगे कि आपके सारे सवालों का जवाब दे सके।

About the author: Sids Dodrai

दोस्तों मैं इस ब्लॉक का संस्थापक हूं, मुझे इंटरनेट से जुड़ी और नई नई जानकारियां काफी पसंद है, इसलिए मैं ब्लॉगिंग के माध्यम से आप सभी को अच्छी से अच्छी जानकारी उपलब्ध कराने की कोशिश करता हूं।,??

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status