Biography of Vikash Jaiswal Founder of Ludo King – लूडो किंग के संस्थापक विकास जयसवाल की जीवनी

Biography of Vikas Jaiswal

बचपन में लूडो किसने नहीं खेली होगी, एक जमाना था जब लोग अपना समय टाइम पास करने के लिए लूडो जैसे गेम खेला करते थे। धीरे धीरे हम लोगों के हाथ में मोबाइल फोन आ गया। और हम में से ज्यादातर लोग अपना टाइम पास अब मोबाइल फोन में करते हैं। जैसे की गेम खेलना, और मोबाइल पर वीडियो देखना। हमसे बहुत कोई लोग मोबाइल फोन पर एक ना एक बार लूडो जरूर खेले होंगे। लेकिन क्या आपको पता है इंटरनेट पर लूडो गेम को किसने बनाया है। जी हां लूडो किंग के नाम से मशहूर विकास जयसवाल ने इस गेम को इंटरनेट पर लेकर के आए। आज अक्सर हम लोगों को अपने मोबाइल फोन पर इस गेम को खेलते हुए देख सकते हैं। आज का हमारा यह लेख Biography of Vikash Jaiswal Founder of Ludo King – लूडो किंग के संस्थापक विकास जयसवाल की जीवनी के बारे में हम विस्तार से जाने वाले हैं।

विकास जायसवाल, Gametion Technology Private Limited के संस्थापक और निदेशक है, जिस कंपनी ने एंड्रॉयड और IOS जैसे प्लेटफार्म में लूडो किंग (Ludo king) को बनाया है। कुछ दिन पहले लूडो किंग को अब तक 180+ मिलियन डाउनलोड के साथ सबसे लोकप्रिय गेम में से एक बन गया है। शादी में डीजे भारत और अन्य दक्षिण यूरोपीय देशों में गूगल प्ले स्टोर और एप्पल एप स्टोर पर मौजूद #1 शीर्षक से निशुल्क खेलों के रूप में स्थान दिया गया है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि लॉकडाउन के बाद इस छोटे से एंड्राइड एप्लीकेशन गेम ने कितने पैसे कमाए और इन की कमाई 3 से 4 गुना बढ़ गई है। एक रिपोर्ट की मानें तो साल 2020 में इस कंपनी ने 44.63 करोड रुपए का राजस्व अर्जित किया और मुनाफा 15.96 करोड रुपए था। इस गेम को बनाने वाले विकास जयसवाल के जीवन के बारे में आज हम अपने इस लेख में जानकारी लेंगे।

Biography of Vikash Jaiswal – विकास जयसवाल की जीवनी

विकास जायसवाल का जन्म और पालन-पोषण पटना, बिहार भारत में हुआ है। जब वे केवल 2 वर्ष के थे तब उनके पिता की मृत्यु हो गई और उनका परिवार तब उनके पिता की पेंशन पर जीवित रहा। अपनी किशोरावस्था के दौरान, वह हाथ से बने ग्रीटिंग कार्ड बनाते थे और उन्हें स्थानीय दुकानदारों को बेचने के लिए देते थे। उन्हें विशेष रूप से गेम पार्लर में वीडियो गेम खेलने का शौक था। न्यू मारियो गेम्स और रोड फाइटर उनकी कुछ पसंदीदा गेम मे से एक है।

उन्होंने सोनी जयसवाल से शादी की है। उनकी पत्नी Gametion प्राइवेट लिमिटेड में उनके बिजनेस पार्टनर भी है। और इस कंपनी में वह प्रबंध निदेशक के रूप में कार्य करती है।

विकास जायसवाल ने वर्ष 1999 में मराठवाड़ा इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, बुलंदशहर से कंप्यूटर विज्ञान में इंजीनियरिंग की पढ़ाई शुरू की। अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई शुरू कर देगी उन्होंने 3 महीनों के भीतर में एक वीडियो गेम, Eggy Boy बनाया जो ठीक मारियो की की तरह ही एक जंपिंग गेम था। जुलाई 2003 के लिए इस गेम को PCQuest मैगजीन द्वारा गेम ऑफ द मंथ का खिताब भी दिया गया था।

इसके अलावा उन्होंने पटना में एनिमेशन, ग्राफिक डिजाइन और 3d classes की पढ़ाई भी की है। शादी में उन्होंने अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई भी जारी रखी। साल 2004 में उन्होंने अपनी पढ़ाई पूरी की और उसके बाद मुंबई चले गए।

मुंबई आने के बाद विकास जायसवाल एक वीडियो गेम बनाने वाली कंपनी Indiagames Ltd के लिए काम करना शुरू किया। यह कंपनी साल 2004 में मुंबई में स्थानांतरित होने के बाद एक तकनीकी नेतृत्व के रूप में इस कंपनी में उन्होंने काम किया। तीन साल तक इस कंपनी के लिए काम करने के बाद उन्होंने साल 2008 में नौकरी छोड़ दी और मोबाइल ऐप विकासशील उद्यम (Mobile app developing Venture) Gametion Technology Pvt. Ltd की स्थापना ।

इस कंपनी ने साल 2015 में लोकप्रिय गेमिंग एप्स के रूप में लूडो किंग (Ludo King) को लॉन्च किया था। यह गेम लूडो अंग्रेजी, तमिल, मलयालम, जर्मन, स्पेनिश, हिंदी, गुजराती, तेलुगू, कन्नड़, फ्रेंच, अरबी, मराठी, इटालियन के अलावा बंगाली और इंडोनेशियन इत्यादि 15 से भी अधिक भाषाओं में उपलब्ध है।

मोबाइल पर यह गेम सबकी पसंदीदा गेम बन गया। विकास जयसवाल यहीं नहीं रुके और उन्होंने कैरम किंग और सुडोकू किंग नाम से और दो बोर्ड गेम लॉन्च किए, जिसकी प्रमुख उनकी पत्नी सोनी जायसवाल है। अपनी नौकरी साल 2008 में छोड़ने के बाद उनके पास इतने ज्यादा पैसे नहीं थे। उन्होंने अपनी इस कंपनी की शुरुआत मात्र 2.5 लाख रुपए लगा कर के किए थे। उस समय उनकी टीम में मात्र 7 लोग ही थे। सभी ने मिलकर के 2 साल तक घर पर ही काम किया और आधिकारिक तौर पर साल 2010 में नवी मुंबई के खार घर में एक छोटे से कार्यालय के साथ इस कंपनी की शुरुआत हुई।

शुरुआत में इस कंपनी ने ऑनलाइन खेले जाने वाले गेम जिसे इंटरनेट ब्राउजर गेम कहते हैं बनाए थे फिर बाद में वे लोग मोबाइल एप्लीकेशन पर खेलने वाले गेम खासकर Android Apps Games और IOS पर खेले जाने वाले गेम बनाने के लिए प्रेरित हुए। इस कंपनी ने अपना पहला गेम oneonlinegames.com पर लांच किया था। विकास जायसवाल ने बाद में Gametion Pvt. Ltd नाम की कंपनी बना लिया और उसके संस्थापक और निदेशक के रूप में कार्य करने लगे।

कंपनी एक मोबाइल एप डेवलपर और पब्लिश करने वाली कंपनी है जो कई प्लेटफार्म के लिए लोकप्रिय है और ट्रेडिंग गेम बनाने में हमेशा से लगा रहता है। इसके अलावा, Gametion ने IGDC 2019 मैं भी भाग लिया जो दक्षिणी एशियाई में सबसे बड़ी उल्लेखनीय गेम कांफ्रेंस में से एक में से मनी जाती है।

Vikash Jaiswal and Ludo King – विकास जायसवाल और लूडो किंग

Ludo King जैसा एक एप्लीकेशन या सॉफ्टवेयर बनाने का ख्याल उन्हें सबसे पहले तब आया जब वह एक बार साल 2015 में स्नेक एंड लैडर गेम अचानक से उन्हें प्ले स्टोर में मिला। फिर उन्होंने यह सोचा कि क्यों ना लूडो को भी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म में लाया जाए। फिर क्या था उन्होंने एक प्रोग्रामर और एक ग्राफिक डिजाइनर के साथ लूडो किंग ऐप विकसित किया।

लूडो किंग को अधिकारिक तौर पर दिसंबर 2016 में लांच किया गया था। और मई 2017 में यह गेम टॉप चार्ट में सूचीबद्ध किया गया। यह गेम इतना लोकप्रिय हुआ कि घरों में खेले जाने वाला साधारण सा लूडो गेम, अब लोगों के हाथों में आ चुका था। आप लोग कहीं भी कभी भी किसी भी समय इस गेम को खेल सकते थे। हालांकि लूडो गेम को खेलने में कम से कम 2 लोगों की आवश्यकता होती है, ऑनलाइन प्लेटफॉर्म में आ जाने के बाद आप अकेले ही इस गेम को खेल सकते हैं। और अपना टाइम पास आराम से कर सकते हैं। वर्तमान समय में पूरी दुनिया भर में इसके 120 मिलियन से भी अधिक उपयोग करने वाले हैं, चीन में भारत में ही 100 मिलियन से अधिक लोग इस गेम को खेलते हैं और बाकी पाकिस्तान, इंडोनेशिया, नेपाल, सऊदी अरब इत्यादि देशों के यूजर है।

वर्तमान समय में लूडो किंग भारत में टॉप 10 बोर्ड गेम की श्रेणी में शुमार है। इसके अलावा इस गेम को 100 मिलियन से भी अधिक बार डाउनलोडिंग किया जा चुका है। इसके साथ ही यह भारतीय मोबाइल गेम कि उस श्रेणी में शुमार हो गया जिसे सबसे ज्यादा डाउनलोड किया गया। लॉकडाउन के दौरान इसने लगभग 51 मिलियन से भी ज्यादा उपयोगकर्ता दर्ज किए। इस गेम के कायल तो पहले से ही लोग थे ही। लेकिन लोक डाउन के दौरान दर्शकों की संख्या में काफी वृद्धि हुई और यह अब तक का सबसे सफल भारतीय गेम बन चुका है।

लॉकडाउन के दौरान अचानक और भारी मात्रा में इस गेम को ऑनलाइन खेलने के चलते काफी ज्यादा ट्रैफिक और यूजर्स बढ़ गए थे। किस टीम ने शुरुआत में इतने बड़े बेस्ट ऑडियंस की कल्पना नहीं की थी और उस तरीके से इस गेम को विकास नहीं किया गया था। जिससे कि लॉकडाउन के दौरान लूडो किंग गेम क्रश हो गया था, सरवर काफी डाउन हो गया था। इस समस्या का समाधान करने के लिए उन्हें 10 दिन लग गए थे जो आमतौर पर दोपहर और रात के दौरान होती थी। और फिर इस समस्या का हल निकाल लिया गया। इस तरह से लूडो किंग भारत का टॉप 10 गेम में से एक में शुमार हो गया।

विकास जायसवाल को मिले पुरस्कार एवं सम्मान

  • लूडो किंग भारत में सबसे ज्यादा खेली जाने वाली एप्लीकेशन गेम है। जिसे बच्चों से लेकर के वृद्ध लोग खेलते हैं।
  • 19वें FICCI FRAMES Best Animated पुरस्कार से विकास जायसवाल को नवाजा जा चुका है।
  • विकास जायसवाल को मोबाइल और टेबलेट गेम की श्रेणी में अंतरराष्ट्रीय आर्केड कैजुअल इंटरनेशनल गेमिंग का पुरस्कार भी मिला है।
  • उन्हें इकोनॉमिक्स टाइम्स द्वारा नवी मुंबई के प्रतीक के रूप में भी मान्यता दी गई है।
  • इकोनॉमिक्स टाइम्स द्वारा स्टार्टअप अवार्ड 2020 इन्हें दिया गया है।

Published on जनवरी 25, 2022

About Admin Desk

Admin Desk हम हिंदी भाषा में यहां सरल शब्दों में आपको ज्ञानवर्धक जानकारियां उपलब्ध कराने की कोशिश करते हैं। ज्यादातर जानकारी है इंटरनेट पर अंग्रेजी भाषा में मौजूद है। हमारा उद्देश्य आपको हिंदी भाषा में बेहतर और अच्छी जानकारी उपलब्ध कराना है।