What are the benefits of eating eggs? अंडे खाने के क्या फायदे हैं?

ऐसे तो अक्सर हम समाचार पत्रों और हेल्थ आर्टिकल में अंडे खाने के बारे में बहुत से आर्टिकल पढ़ते हैं। अंडे खाने के क्या-क्या फायदे होते हैं? What are the benefits of eating eggs? इसके साथ ही हम अपने आर्टिकल में यह भी जानेंगे कि अंडे खाने के क्या क्या नुकसान हो सकते हैं।

एक कहावत तो आपने बचपन से सुनी होगी, ” संडे हो या मंडे रोज खाओ अंडे” जब हम छोटे थे, तो स्कूल में कहीं आपने भी यह बात जरूर सुनी होगी। या कहीं पर इस बारे में पढी होगी। बचपन से ही हम अंडे खाने के फायदों के बारे में पढ़ रहे हैं। हमें इसके फायदे के बारे में बचपन से ही पता है। लेकिन फिर भी हम इसके फायदे के बारे में यहां पर जानकारी देने वाले हैं।

अंडा जिसे अंग्रेजी में Egg भी कहा जाता है, अंडा खाने के बहुत से फायदे होते हैं। इसमें मौजूद विटामिन और मिनरल्स शरीर को पोषक तत्व प्रदान करते हैं। पहले ज्यादातर लोग अंडा को मांसाहारी खाना मानते थे, वैसे तो अभी भी कुछ लोग यह मानते हैं कि अंडा मांसाहारी ही होता है तो बहुत से लोग का यह भी मानना है कि यहां शाकाहारी है। लेकिन अंडा खाने वालों को एक अलग वर्ग बनाया गया है। जिसमें आप दोनों ही तरह के लोगों को शामिल कर सकते हैं यानी कि जो मांसाहारी है वह भी अंडा खाते हैं और जो शाकाहारी है वह भी अंडा को शाकाहारी मान करके खाते हैं। ऐसे में एक अलग ही वर्ग एगेटेरियन जिसका मतलब होता है ऐसे लोग जो मांस नहीं खाते लेकिन अंडा खाते हैं। उन्हें शामिल किया गया है। अंडे में कई तरह के मिनरल्स और पोषक तत्व होते हैं इस चलते इसे हर डाइट में शामिल किया जाता है। शरीर को मजबूत और स्वस्थ बनाए रखने के लिए डॉक्टर हमें अंडा खाने की सलाह देते हैं।

What are the benefits of eating eggs? अंडे खाने के क्या फायदे हैं?

अंडा या Egg सेहत के लिए काफी लाभकारी होता है। छोटे बच्चों से लेकर के बढ़ती उम्र की समस्याओं को दूर करने के लिए रोजाना एक अंडा खाना जरूरी होता है।

अंडा को स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन और मिनरल्स होते हैं। अगर आपको स्वास्थ्य संबंधी कुछ समस्या है तो डॉक्टर भी आपको रोजाना एक अंडा खाने की सलाह देते हैं।

अंडा को प्रोटीन का काफी अच्छा स्रोत माना जाता है, इसी वजह से लोग इसे अपने डाइट में शामिल करते हैं। यह मांसपेशियों को मजबूत बनाता है। वैसे तो अंडा सभी वर्ग के लोगों को खाना चाहिए, लेकिन छोटे बच्चे एवं बढ़ती उम्र के बुजुर्ग व्यक्तियों के स्वास्थ्य के लिए अंडा काफी फायदेमंद साबित होता है। इससे होने वाले फायदों के बारे में हम नीचे सूची दे रहे हैं।

  • अंडा खाने से हड्डियां मजबूत होती है।
  • अंडा खाने से जोड़ों के दर्द से छुटकारा मिलता है।
  • व्यक्ति का मेटाबॉलिज्म बढ़ता है।
  • अंडा खाना आंखों के लिए लाभकारी भी होती है।
  • रक्त की कमी या एनीमिया की बीमारी में भी अंडा खाना लाभकारी होता है।
  • मांसपेशियां मजबूत होती है।
  • दिल संबंधी बीमारी में भी लाभकारी होता है।

इन सब लाभ के अलावा भी अंडा खाने के बहुत से लाभ है। आप में से बहुत से कम लोग जानते होंगे कि अंडा खाने से शरीर में आवश्यक वसा की पूर्ति कर उसकी मात्रा को नियंत्रित करता है। हर दिन एक अंडा खाने से आपके शरीर में वसा की एक दिन की आवश्यक मात्रा की पूर्ति होती है।

अंडा आपके वजन को नियंत्रित रखने में काफी फायदेमंद होता है। अंडा का सेवन करने के बाद आपकी भूख शांत हो जाती है और आप ओवर ईटिंग से बच जाते हैं। अंडा खाने के बाद आपको काफी देर तक पेट भरा भरा महसूस होता है इस वजह से आपको ज्यादा भूख नहीं लगती और इस तरह से आप अपना वजन घटाने में कामयाब होते हैं।

जैसा कि हमने ऊपर बताया कि अंडा आंखों के लिए भी फायदेमंद होता है। प्रतिदिन एक अंडा को अपनी डाइट में शामिल करने से कैरोटीनायड्स की पूर्ति होती है जिससे कि आपकी आंखों की कोशिकाओं में क्षरण से बचा जा सकता है। लोगों द्वारा यह भी कहा जाता है कि हर दिन एक अंडा खाने से मोतियाबिंद जैसी बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

एक शोध में यह बताया गया है कि हर रोज एक अंडा खाने से, रक्त वाहिनी में खून का थक्का जमने, हार्ट अटैक की संभावना इत्यादि भी कम हो जाती है। इसके अलावा यह केओलइन का अच्छा स्रोत होता है। जो मस्तिक, तंत्रिका बाकी देव धणी की क्रिया विधि को सुचारू रूप बनाए रखने में अहम भूमिका निभाता है।

अंडा आपके आलस्य कर ऊर्जा देने में सहायक होती है। अंडा को एक बेहतरीन एनर्जी बूस्टर भी माना जाता है। हर दिन सुबह नाश्ते के समय एक अंडे को शामिल करके आप पूरा दिन ऊर्जावान महसूस कर सकते हैं। अंडे के पीले भाग में मौजूद हल्दी रंग वाला भाग में ज्यादा वासा होता है जो कि शरीर को ऊर्जा प्रदान करने के लिए बेहद जरूरी होती है।

अंडा को प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत माना जाता है। अंडे में एल्ब्यूमिन प्रोटीन भरा होता है। यह हमारे शरीर में प्रोटीन की कमी को दूर करता है। इसके साथ ही यह शरीर पर पोषण भी प्रदान करती है।

अंडा खाने वाले व्यक्ति या आप महिला को कैंसर जैसी बीमारियों होने का खतरा भी कम होता है। एक रिसर्च में यह बताया गया है कि सप्ताह में 6 अंडे का सेवन करने वाली महिलाओं में स्तन कैंसर का खतरा 44 फ़ीसदी कम होता है।

एक अंडे में 6 ग्राम उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन व शरीर के लिए आवश्यक 9 अमीनो एसिड पाए जाते हैं। अंडे में बहुत से पोषक तत्व होते हैं जैसे कि सल्फर खनिज और विटामिन। अगर आप बाल की समस्याओं से परेशान है तो भी आपको अंडा खाना चाहिए।

अंडे में भरपूर मात्रा में विटामिन डी भी पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए जरूरी होती है। या शरीर में सूर्य की किरणों के अवशोषण में मदद करता है जिससे की हड्डियां मजबूत होती है।

अंडा पोषक तत्वों से भरपूर होता है इसमें विटामिन A, D, B12, फास्फोरस और फोलेट पाया जाता है। यह सभी शरीर की क्रियाओं को सुचारू रूप से बनाए रखने में मदद करते हैं और दिमाग को मजबूत कर आंखों की रोशनी भी बढ़ाते हैं।

अंडा खाने के क्या नुकसान है?

हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं। जहां अंडा खाने से हमें इतने सारे फायदे मिलते हैं वही ज्यादा मात्रा में अंडा खाने से हमारे स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव भी पड़ सकता है। डॉक्टर बताते हैं कि ज्यादा अंडा खाने से हमारे शरीर में बहुत से साइड इफेक्ट दिखाई देते हैं।

यानी कि जहां अंडा खाने से हमें फायदा होता है। वही ज्यादा मात्रा में अंडा खाने पर इसका उल्टा असर भी होता है। अंडे में साल्मोनेला नाम का एक जुबान होता है जो मुर्गा से आता है। अगर आप अंडा को सही तरीका से पका करके नहीं खाए तो यह जीवाणु हमारे शरीर में आ जाता है और कई तरह की बीमारियों का कारण बनता है।

अंडे से होने वाली अन्य समस्या है बायोटीन नमक एक प्रकार के विटामिन की कमी हो जाती है। कच्चा अंडा का सफेद भाग खाने से यह स्थिति बनती है।

बायोटीन की कमी से शरीर में विटामिन H और विटामिन बी 7 की कमी हो जाती है जिससे की मांसपेशियों में दर्द, टाइटन बाल का झड़ना और त्वचा संबंधी बीमारी हो सकती है।

कई लोगों को अंडा खाने से एलर्जी भी होता है। इसके पीछे क्या कारण है कि अंडा में मौजूदा एल्बुमिन के कारण लोगों को एलर्जी होती है। अधिक मात्रा में अंडे का सेवन करने से चेहरे में सूजन, उल्टी, दस्त, खांसी और छिंक जैसी बीमारियां हो सकती है। अंडे में प्रोटीन काफी ज्यादा मात्रा में पाया जाता है, अधिक मात्रा में अंडा खाने से प्रोटीन हमारी किडनी पर भी बुरा असर डालता है। जिस चलते हमें दस्त जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

इन सबके अलावा अंडे में कई तरह के बैक्टीरिया और कीटाणु भी होते हैं। इसलिए जब भी आप अंडा खाए तो उसे अच्छी तरह से पक्का करके खाएं।

अंडे के पीले भाग में होता है भरपूर पोषक तत्व

ज्यादातर लोगों को यह पता नहीं होता कि अंडे के कौन से भाग में अधिक पोषक तत्व होता है? अंडे का पीला या लाल भाग अधिक पोषक तत्व और सेहतमंद और फायदेमंद होता है। अंडे के पीले भाग में वसा और कुछ मात्रा में प्रोटीन होते हैं। जो शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है।

वही अंडे के सफेद भाग में फैट फ्री होता है। और इसमें कैलोरी की मात्रा भी काफी कम होती है। अंडे के पीले भाग में आपको विटामिन ए, विटामिन D, विटामिन ई और भी कई तरह के विटामिन होते हैं। यानी जिस विटामिन डी के लिए आपको धूप सेकने की सलाह दी जाती है वह अंडे में प्राकृतिक रूप से मौजूद होता है।

ज्यादा मात्रा में अंडे के पीले भाग का सेवन करने से शरीर में वसा की मात्रा यानी कि कोलेस्ट्रॉल बढ़ सकता है। यह उन लोगों के लिए ज्यादा फायदेमंद होता है जो कि अपना बॉडी बनाना चाहते हैं। अंडे के सफेद वाले हिस्से में प्रोटीन, सोडियम, मैग्नीशियम, कैल्शियम और फास्फोरस की मात्रा अधिक होती है।

अगर आप अंडा खाने के शौकीन है तो या आपके शरीर के लिए फायदेमंद ही है। बस आप इस बात का ध्यान रखें कि अत्यधिक मात्रा में आप अंडे का सेवन ना करें। सीमित मात्रा में ही अंडे का सेवन करें। इसके साथ ही आप इस बात का भी ध्यान रखें कि अंडे को आप सही तरीके से पका कर के ही खाएं। कच्चा अंडा अगर आपको खाना पसंद है तो कम ही खाएं।