What is Arbitrage Fund – आर्बिट्राज फंड क्या है?

What is Arbitrage Fund – आर्बिट्राज फंड क्या है? आपको हम यह बता देते हैं कि आर्बिट्राज एक ऐसी रणनीति होती है जो लाभ कमाने के लिए विभिन्न बाजार मूल्य अंतर का लाभ उठाते हुए कोई भी निवेशक लाभ कमा सकता है। आर्बिट्राज फंड का नाम आर्बिट्राज रणनीति के नाम पर रखा गया है। इसलिए ज्यादातर लोग इसे आर्बिट्राज फंड ही कहते हैं।

आर्बिट्राज फंड के अंतर्गत कोई भी म्यूच्यूअल फंड रिटर्न जनरेट करने के लिए मूल्य अंतर का लाभ उठाता है। इन म्यूच्यूअल फंड का रिटर्न बाजार पर निवेशक संपत्ति की स्थिरता पर निर्भर करती है। आर्बिट्राज फंड के अंतर्गत निवेशकों के लिए रिटर्न उत्पन्न करने के लिए बाजार की अक्षमताओं का उपयोग करते हैं।

हममें से ज्यादातर लोग अच्छा रिटर्न प्राप्त करने के लिए म्यूचुअल फंड की इक्विटी स्कीम पर निवेश करना पसंद करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि बाजार की अलग-अलग स्थितियों में निवेश के लिए म्यूचुअल फंड की एक अलग स्कीम भी होती है। हालांकि इस फंड में आपको उतना देख लाभ नहीं मिलता लेकिन इस स्कीम को काफी ज्यादा सुरक्षित माना जाता है। इसके अलावा कुछ स्कीम आपको बेहतर रिटर्न देने के साथ-साथ आपको टैक्स बचाने की भी सुविधा देती है। इस तरह से मिलकर फट की एक ऐसी स्कीम है जो शेयर बाजार में ज्यादा उतार-चढ़ाव वाले माहौल में अच्छा प्रदर्शन करती है। जिसे आर्बिट्राज फंड (Arbitrage Fund) कहते हैं।

आज के हमारे इस लेख में हम यह जानेंगे कि, What is Arbitrage Fund – आर्बिट्राज फंड क्या है? इसकी क्या खासियत है? अगर आप इसमें निवेश करना चाहते हैं तो आपको कितना लाभ मिल सकता है? इसके अलावा हम अपनी इस लेख में यह जानकारी मिल लेंगे की यह फंड कितना सुरक्षित है? इस फंड के अंतर्गत किसी भी निवेशक को निवेश करना चाहिए कि नहीं?

What is Arbitrage Fund – आर्बिट्राज फंड क्या है?

आर्बिट्राज फंड (Arbitrage Fund) दरअसल म्यूच्यूअल फंड की इक्विटी स्कीम के अंतर्गत आती है। म्यूच्यूअल फंड की इस स्कीम में लगभग 65% हिस्सा शेयर बाजार में लगाया जाता है। यह कैश मार्केट और डेरिवेटिव मार्केट में शेयर के भाव में अंतर का फायदा उठाने के लिए अपने फंड का इस्तेमाल करती है।

यही वजह है कि शेयर बाजार में ज्यादातर उतार-चढ़ाव के दौर में इस फंड का प्रदर्शन काफी अच्छा रहता है। यह म्यूच्यूअल फंड उन निवेशकों के लिए बहुत ही बढ़िया है जो ज्यादा जोखिम नहीं लेना चाहते हैं। क्योंकि, आर्बिट्राज इक्विटी फंड को सुरक्षित माना जाता है। अगर आप एक नए निवेशक हैं और कम जोखिम उठाना चाहते हैं इसके साथ ही आप इस फंड में निवेश करके अच्छी खासी रिटर्न भी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारी असला रहेगी कि आप आर्बिट्राज फंड म्युचुअल फंड में कम से कम 2 से 3 सालों के लिए निवेश अवश्य ही करें।

आर्बिट्राज फंड से क्या से लाभ मिलता है?

आर्बिट्राज म्यूच्यूअल फंड दरअसल आर्बिट्राज थ्योरी पर काम करती है। इस थ्योरी को समझना इतना भी मुश्किल नहीं है, इसमें एक बाजार से कम कीमत पर शेयर खरीद करके दूसरे बाजार में भेज दिया जाता है। जिसके जरिए निवेशकों को फायदा होता है। कि हम इसे एक उदाहरण द्वारा समझते हैं।

उदाहरण :- मान लेते हैं कि किसी कंपनी के शेयर की कीमत पूंजी बाजार में ₹1000 है, वही फ्यूचर मार्केट में इसकी कीमत ₹1500 है। देखा जाए तो अगर कोई निवेशक इस शेयर को पूंजी बाजार से खरीद करके फ्यूचर मार्केट में बेचता है तो उसे ₹500 का मुनाफा होगा। इस तरह से आर्बिट्राज फंड क्या इक्विटी बाजार और फ्यूचर इक्विटी बाजार में कीमतों के अंतर का फायदा उठाते हुए अपने निवेशकों को लाभ पहुंचाती है।

इस तरह से देखा जाए तो आर्बिट्राज फंड पर निवेशकों को काफी ज्यादा एवं सुरक्षित फायदा पहुंचता है। इस वजह से इस फंड में निवेश को को ज्यादा जोखिम नहीं उठाना पड़ता। इसलिए बहुत सारी निवेशकों की पसंद आर्बिट्राज फंड म्यूच्यूअल फंड के रूप में होती है।

क्या आर्बिट्राज म्यूच्यूअल फंड पर निवेश करना सुरक्षित है?

जैसा कि हमने इस बारे में ऊपर चर्चा किया है, आर्बिट्राज फंड बाजार भाव के मूल्यों के बीच के अंतर का लाभ उठाते हुए अपने निवेशकों को फायदा पहुंचाती है। इस फंड को काफी सुरक्षित माना जाता है। फंड मैनेजर इक्विटी में निवेश करने के बाद डेरिवेटिव मार्केट में उस सौदे को हेज करता है। जिस वजह से नकद पूंजी बाजार में खरीदे गए शेयर पर जोखिम काफी हद तक कम हो जाती है।

इस बारे में हमने पहले ही ऊपर चर्चा किया है कि इस फंड का रिटर्न पूंजी बाजार और डायबिटीज बाजार में शेयर की कीमत में अंतर पर निर्भर करती है। इसलिए यह फंड तब अच्छा परफॉर्मेंस करती है जब बाजार में उतार-चढ़ाव ज्यादा होता है।

कई फाइनेंसियल एडवाइजर आर्बिट्राज फंड को काफी ज्यादा सुरक्षित मानते हैं, क्योंकि इसमें फंड मैनेजर नकद पूंजी बाजार में किए गए सौदे को डेरिवेटिव मार्केट में हेज करता है। इस वजह से शेयर बाजार में ज्यादा गिरावट आने पर भी पोर्टफोलियो सुरक्षित बना रहता है।

आर्बिट्राज म्युचुअल फंड पर निवेश करने से टैक्स में क्या फायदा मिलता है?

अगर आप टैक्स बचाने के बारे में सोच रहे हैं तो उस लिहाज से या म्यूचुअल फंड काफी शानदार होता है। इस फंड में फंड मैनेजर अपने पोर्टफोलियो का 65% हिस्सा इक्विटी में निवेश करता है। इस वजह से इस फंड को इक्विटी फंड कैटेगरी में रखा जाता है।

अगर कोई भी नहीं भेजा कि 1 साल से ज्यादा इस म्यूच्यूअल फंड पर निवेश करता है। तो इस पर मिलने वाला रिटर्न टैक्स फ्री हो सकता है। 1 साल से कम अवधि पर अगर आप यह म्यूच्यूअल फंड लेते हैं तो इस पर आपको रिटर्न पर 15% की दर से शॉर्ट टर्म कैपिटल गैंस टैक्स भरना पड़ता है।

यह फंड टैक्स को ले करके अपनी खासियत है उनकी वजह से निवेशकों के बीच में काफी लोकप्रिय है। आर्बिट्राज फंड से मिलने वाला 6% रिटर्न भी उन निवेशकों के लिए लिक्विड फंड के 7.6% के बराबर है, जो 20 फ़ीसदी टैक्स स्लैब के अंतर्गत आते हैं।

आर्बिट्राज फंड कैसे काम करता है? – How Does Arbitrage Fund Works?

आर्बिट्राज फंड आर्बिट्राज थ्योरी के ऊपर कार्य करती है। इस थ्योरी के अंतर्गत एक बाजार से कम कीमत पर शेयर खरीद कर दूसरे बाजार में ज्यादा कीमत पर भेज दिया जाता है।

आर्बिट्राज फंड कैसे काम करता है? यह जानने के लिए हां चलिए एक उदाहरण द्वारा इसे समझते हैं। मान लीजिए कि XYZ कंपनी का इक्विटी शेयर नकद पूंजी बाजार में ₹1290 पर बिक रहे हैं। वही फ्यूचर शेयर मार्केट पर इसकी कीमत ₹1340 है। यहां पर आप सीधे तौर पर देख सकते हैं कि ₹50 का फायदा हो रहा है।

फंड मैनेजर XYZ के शेरों को नकद बाजार से ₹1290 में खरीद करके फ्यूचर मार्केट पर ₹1340 में बेचते हैं। जिससे सीधे तौर पर निवेशकों को ₹50 का फायदा पहुंचता है। महीने के अंत में जब कीमतें समान होती है, फंड मैनेजर फ्यूचर मार्केट में शेयर को भेजेगा और लेन-देन की लागत को घटाकर प्रति शेयर ₹50 का जोखिम मुक्त लाभ अर्जित करता है।

ठीक इसके विपरीत, अगर मिथुन फंड मैनेजर को लगता है कि भविष्य में कीमत और गिर सकती है, तो वह वायदा बाजार में एक लंबे अनुबंध में प्रवेश करता है। वह नकद बाजार में शेयर को ₹1340 में बेचेगा। समाप्ति पर, वह अपनी स्थिति को कवर करने के लिए ₹1290 में वायदा बाजार में शेयर खरीदा है और ₹50 का मुनाफा कमाता है।

दूसरे मामले में फंड मैनेजर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज से ₹100 में इक्विटी शेयर खरीद सकता है और जोखिम मुक्त रिटर्न उत्पन्न करने के लिए इसे बंबई स्टॉक एक्सचेंज में ₹120 प्रति शेयर बेच सकता है।

भारत में शीर्ष 5 आर्बिट्राज फंड – Top 5 Arbitrage Fund in India

किसी भी म्यूच्यूअल फंड का चयन करते समय, यह सबसे अच्छा होगा यदि आप विभिन्न कौणों से इसका विश्लेषण करते हैं। कई मात्रात्मक और गुणात्मक पैरामीटर आप को सर्वश्रेष्ठ आर्बिट्राज फंड का पता लगाने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा, यदि आप अपने वित्तीय लक्ष्य, जोखिम उठाने की क्षमता और निवेश के सतीश को ध्यान में रखते हैं तो यह मदद करेगा।

हमने यहां पर भारत में शीर्ष 5 आर्बिट्राज फंड – Top 5 Arbitrage Fund in India की सूची बनाई है जिसने पिछले 3 वर्षों में भारत में अच्छा-खासा रिटर्न दिया है। आप विभिन्न म्यूच्यूअल फंड आर्बिट्राज फंड की तुलना करके अपनी एक लिस्ट बना सकते हैं।

  1. Nippon India Arbitrage Fund – 3 सालों में अधिकतम रिटर्न 6%
  2. Edelweiss Arbitrage Fund – 3 सालों में अधिकतम रिटर्न 5.85%
  3. L&T Arbitrage Opportunities Fund – 3 सालों में अधिकतम रिटर्न 5.92%
  4. UTI Arbitrage Fund – 3 सालों में अधिकतम पर्यटन 5.89%
  5. Kotak Equity Arbitrage Fund – 3 सालों में अधिकतम रिटर्न 5.88%

नोट :- म्यूच्यूअल फंड जोखिमों के अधीन होती है। इसलिए किसी भी म्यूच्यूअल फंड पर निवेश करते वक्त आप अपनी जोखिम उठाने की क्षमता के अनुसार की निवेश करें।