What is Credit Card? क्रेडिट कार्ड से जुड़े जोखिम?

What is Credit Card? क्रेडिट कार्ड से जुड़े जोखिम? हमसे बहुत सारे लोग ऑनलाइन शॉपिंग या खरीदारी के लिए क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं। पहले जमाने में जब हम पैसों को सोने और चांदी के सिक्कों से बोलते थे। वही आज के समय में इन सिक्कों ने पेपर करंसी, प्लास्टिक करेंसी यानी कि डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड के रूप में अपनी जगह बना ली है। ऐसे में लोग अब इंटरनेट पर जब भी किसी तरह की शॉपिंग करते हैं तो वह क्रेडिट कार्ड (Credit Card) के जरिए या डेबिट कार्ड के जरिए ऑनलाइन खरीदारी करते हैं।

आज के हमारे इस लेख में हम बात करने वाले हैं, What is Credit Card? क्रेडिट कार्ड से जुड़े जोखिम? इसके साथ ही हम क्रेडिट कार्ड से जुड़े अन्य पहलुओं पर भी चर्चा करने वाले हैं।

What is Credit Card? क्रेडिट कार्ड क्या है?

Credit Card किसी बैंक द्वारा दी गई एक विशेष सुविधा जो कि एक ऋण होता है, जिसके अंतर्गत आप एक निश्चित समय में खरीदारी और कामों के लिए एक निश्चित राशि तक का भुगतान इस कार्ड की मदद से कर सकते हैं।

राशि का इस्तेमाल हो जाने के बाद आपको एक निश्चित समय के अंदर इस खर्च की गई राशि को ब्याज के साथ पुनः बैंक को वापस करना होता है। यह आप पर निर्भर होता है कि आप खर्च किए गए राशि को किस तरह से वापस भुगतान करते हैं।

क्रेडिट कार्ड से खर्च किए गए पैसों का स्टेटमेंट आपके ईमेल या आप अपने नजदीकी बैंक पर जा करके प्राप्त कर सकते हैं। खर्च किए गए पैसों को ब्याज के साथ lumpsum अमाउंट में भुगतान कर सकते हैं या फिर आप इसे किस्त में भी जमा कर सकते हैं।

साधारण शब्दों में क्या है तो क्रेडिट कार्ड किसी बैंक द्वारा दिया गया एक प्रकार का लोन होता है। जो कि ठीक डेबिट कार्ड के उल्टे होता है। डेबिट कार्ड आपके बचत खाते से जुड़ा होता है। वही क्रेडिट कार्ड पर बैंक द्वारा एक लिमिट दी गई होती है जो ऋण की सीमा होती है। यदि आप केडिट लिमिट से अधिक खर्चा करते हैं या फिर इसके रीपेमेंट टाइम लिमिट तक बैंकों को भुगतान नहीं करते हैं तो बैंक अपने पूर्व निर्धारित नियमों के अनुसार कार्यवाही कर सकता है और ब्याज और पेनल्टी लगा सकता है।

How to Apply For Credit Card? क्रेडिट कार्ड के लिए कैसे अप्लाई करें?

वर्तमान समय में लोगों के बीच में क्रेडिट कार्ड लेने का प्रचलन बढ़ गया है। इसलिए बैंक एवं अन्य वित्तीय संस्थानों ने अपने ग्राहकों के लिए क्रेडिट कार्ड आवेदन काफी आसान बना दिया है। आप अपने नजदीकी बैंक या वित्तीय संस्थान पर जाकर के ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। इसके अलावा आप क्रेडिट कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन भी दे सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड लेने से पहले अपनी योग्यता जांच करें? Credit Card Eligibility Criteria :- अगर अब किसी बैंक या किसी वित्तीय संस्थान से केडिट कार्ड लेने के बारे में सोच रहे हैं तो पहले कुछ बातें आपको मालूम होनी चाहिए। कोई भी बैंक या वित्तीय संस्थान आपको क्रेडिट कार्ड देने से पहले आप से जुड़े कुछ जानकारी मालूमात करता है। इसी जानकारी के आधार पर आपको क्रेडिट कार्ड दी जाती है। जोकि निम्नलिखित हैं:-

  1. क्रेडिट स्कोर (Credit Score) / Cibil Score आपका कैसा है?
  2. आपकी इनकम और सैलरी कितनी है?
  3. आवेदन देने वाले की आयु कितनी है?
  4. आवेदक द्वारा दूसरे ऋण जोखिम कितना है?
  5. आप कहां पर नौकरी करते हैं?
  6. बैंक के साथ आपका लेनदेन का व्यवहार कैसा है?

कोई भी बैंक या फिर वित्तीय संस्थान आपको क्रेडिट कार्ड देने से पहले इन सारे पहलुओं पर मालूमात करती है। अगर आप इन सारी चीजों पर खरे उतरते हैं तभी जाकर के बैंक आपको क्रेडिट कार्ड के लिए योग्य मानती है।

क्रेडिट स्कोर/Cibil Score :- अगर आपने पहले से ही किसी बैंक से लोन ले रखा है। तो बैंक या वित्तीय संस्थान आपका क्रेडिट स्कोर की जांच करती है। हमें से ज्यादातर इसे Cibil Score के रूप में जानते हैं। इसके अंतर्गत क्या पता चलता है? कोई भी बैंक आपको क्रेडिट कार्ड देने से पहले आपका सिबिल स्कोर निकालती है। जहां पर आपके द्वारा लिए गए लोन एवं उनके रीपेमेंट की पूरी जानकारी दी गई होती है। जितना बढ़िया आपका सिबिल स्कोर होगा, उतने ही आसानी से आपको क्रेडिट कार्ड मिलेगा।

आपकी इनकम और सैलरी :- कोई भी बैंक या वित्तीय संस्थान आपको क्रेडिट कार्ड देने से पहले आप के आय के स्रोत के बारे में पूछता है? यानी कि आप क्या एक व्यवसाय है? या आप कहीं नौकरी करते हो? अगर आप व्यवसाय करते हैं तो आपके द्वारा सालाना भरे जाने वाले इनकम टैक्स रिटर्न की मांग की जाती है। वहीं अगर आप नौकरी पेशा व्यक्ति हैं तो आपसे आपका सैलरी स्लिप मांगा जाएगा। इसी के आधार पर क्रेडिट कार्ड की लिमिट तय की जाती है। कि आपको कितना क्रेडिट कार्ड लिमिट दिया जाना चाहिए।

आपकी आयु :- अधिकतर बैंक एवं वित्तीय संस्थान ऐसे व्यक्ति को क्रेडिट कार्ड देते हैं जिनकी आयु 18 वर्ष से अधिक है। सीधे शब्दों में कहें तो एक व्यस्क ही क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन दे सकता है।

दूसरे ऋण के जोखिम :- बैंक या फिर वित्तीय संस्थान यह अवश्य रूप से देखती है कि आपने अभी तक कितना लोन ले रखा है। यदि आपने लोन के पुनर भुगतान क्षमता (Repayment Capacity) से अधिक लोन ले रखा है तो बैंक स्थिति में भी क्रेडिट कार्ड के लिए मना कर सकता है। उदाहरण के तौर पर अगर आपने मकान के लिए (Home Loan) गाड़ी इत्यादि के लिए कार लोन ले रखा है और जिसकी कुल किस आपके आहे की 60% से अधिक है तो इस स्थिति में बैंक आपके क्रेडिट कार्ड के आवेदन को रद्द कर सकता है।

नौकरी एवं पेशा :- क्रेडिट कार्ड देने से पहले कोई भी बैंक या वित्तीय संस्थान आपसे आपके नौकरी पेशा के बारे में जानकारी लेती है। यदि या जानकारी संतोषजनक ना हो तो बैंक या वित्तीय संस्थान आपको क्रेडिट कार्ड देने से मना कर सकती है। यह मामले ज्यादातर टेंपरेरी नौकरी जो की अल्प अवधि की होती है उसमें होता है। अगर आप सरकारी नौकरी/ मल्टीनेशनल कंपनी/ निजी कंपनी इत्यादि जगहों पर नौकरी करते हैं तो आपको आसानी से केडिट कार्ड मिल सकता है।