Share market मे Primary market क्या होती है?

3
270

Share market पर ऐसे कई शब्दों का इस्तेमाल किया जाता है। जिनके बारे में आपको शेयर बाजार में निवेश करने से पहले जानकारी होना अति आवश्यक है। Primary market, शेयर बाजार में इस्तेमाल होने वाला एक ऐसा ही शब्द है।

Primary market शेयर बाजार में यह मतलब रखता है कि जब किसी कंपनी को अपनी आर्थिक जरूरतों को पूरा करने के लिए पूंजी की जरूरत होती है, तो कंपनी शेयर बाजार पर अपनी कंपनी का नया शेयर जारी करती है। जिसे पान निवेशक के सामने प्रस्तुत करती है। कंपनी अपनी नए शेयरों को जारी करने के लिए Primary market के तहत यह सभी कार्यों को करती है। Company , primary market के तहत ही IPO (INITIAL PUBLIC OFFERING) के जरिए निवेशक से पूंजी उगाई करती है और अपने शेयर को आईपीओ के जरिए स्टॉक एक्सचेंज पर सूचीबद्ध करती है।

संक्षेप में समझे तो, जब किसी कंपनी को अपने लिए शेयर के माध्यम से पैसे इकट्ठा करना होता है। तब वह primary market की सहायता से public और निवेशकों के लिए share जारी करती है। इसके लिए कोई भी बड़ी कंपनी IPO जिसे initial public offering कहते हैं, के जरिए लोगों एवं निवेशकों से पैसे इकट्ठा करती है। यह 1 तरीके से पहला चरण होता है, जिसके माध्यम से कोई भी कंपनी share II market पर listed हो जाती है।

कोई कोई भी कंपनी Share क्यों जारी करती है?

Share क्या होता है? शायद इसके बारे में आप सभी लोगों ने जरूर पढ़ा होगा? इसके बारे में आपको थोड़ी बहुत जानकारी तो आवश्यक होगी। अगर आपको नहीं पता तो कोई बात नहीं हम नीचे उसके बारे में विस्तार से बताने वाले हैं।

“Share” का अर्थ हिस्सेदारी या बांटना होता है। जब आप किसी कंपनी पर निवेश करते हैं, तो आप उस कंपनी पर अपनी आंशिक हिस्सेदारी बनाते हैं। शेयर वह माध्यम है जिसकी सहायता से आप किसी भी बड़ी कंपनी पर अपनी एक आंशिक हिस्सेदारी प्राप्त करते हैं।

इस तरीके से आप उस कंपनी के share holder या equity holder बन जाते हैं। शेयर को दूसरे शब्दों में equity और script भी कहा जाता है। किसी भी शेयर की खरीद-फरोख्त की प्रक्रिया दो तरह से की जाती है। पहला तरीका जिसे कोई भी कंपनी लोगों के लिए या निवेशकों के लिए IPO (initial public offering) के माध्यम से शेयर बाजार पर अपने शेयर को लेकर आती है। इस तरह के शेयर बाजार को हम लोग Primary market कहते हैं। वही दूसरा तरीका यह है कि कंपनी सीधे अपने शेयर Stock Exchange पर लिस्टेड होकर के लोगों के लिए जारी करती है। इस तरह के मार्केट को secondary market कहा जाता है। यह दो तरीके हैं जिसके माध्यम से किसी भी कंपनी द्वारा लोगों के लिए शेयर उपलब्ध कराई जाती है।

Share क्यों जारी किया जाता है?

किसी भी कंपनी द्वारा शेयर इसलिए जारी किया जाता है, क्योंकि जब किसी कंपनी को अपने business को आगे बढ़ाने के लिए बड़ी मात्रा में पूंजी की आवश्यकता होती है। अपने कंपनी के व्यापार या बिजनेस को वह विस्तार करने के लिए कॉर्पोरेट ढांचा तैयार करती है। तब वह बड़ी मात्रा में निवेशकों को अपनी कंपनी पर हिस्सेदारी या share खरीदने के लिए प्रोत्साहित करती है। इसके लिए कंपनी सबसे पहले Primary market पर IPO के जरिए निवेशकों एवं लोगों से पूंजी उगाही करती है। इसके माध्यम से कंपनी Stock Exchange पर सूचीबद्ध हो जाती है।

Primary market किसे कहते हैं?

जैसा कि हमने ऊपर आप सभी को इसके बारे में थोड़ी बहुत जानकारी उपलब्ध करा दी है। जब भी कोई कंपनी अपने बिजनेस विस्तार के लिए शेयर जारी करके पैसे इकट्ठा करने के बारे में सोचती है, तो वह



सबसे पहले निवेशकों के लिए IPO जिसे initial public offering भी कहते हैं। जारी करती है। पहली बार share जारी करके, IPO के तहत उसे निवेशकों को बेचना Primary market कहलाता है। और इस तरह से कंपनी के शेयर Stock Exchange पर सूचीबद्ध हो जाते हैं।

Primary market पर निवेश कैसे करें?

जैसा कि आप सभी को यह चीज पता होगा कि शेयर बाजार पर निवेश करना जोखिम के अधीन होता है। इसलिए हमारी यह साला रहेगी कि आप बिना किसी बहकावे में आकर के या बिना कोई research किए शेयर बाजार में पैसे ना लगाएं।बहुत से लोग ऐसे भी होते हैं जो किसी के बहकावे में आकर के अपने लिए Demat account खुलवा लेते हैं। दोस्तों या किसी एजेंट के कहने पर किसी ऐसे Share का IPO खरीद लेते हैं, जिससे उन्हें भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। जब भी आप किसी कंपनी के IPO खरीदने के बारे में सोचें तो सबसे पहले आपको उस कंपनी से संबंधित जानकारी आवश्यक होनी चाहिए।

ज्यादातर कंपनी जो पहली बार IPO के माध्यम से स्टॉक एक्सचेंज पर सूचीबद्ध होना चाहते हैं। उनके बारे में अधिक जानकारी शेयर बाजार पर नहीं होती है। उनका track record, मार्केट कैप और बिजनेस संबंधी annual report आदि चीजों के बारे में जानकारी बहुत कम होती है।

इसलिए आप जब भी IPO खरीदने के बारे में सोचें तो आपको शेयर बाजार के फायदों के साथ-साथ जोखिम से भी अवगत होना जरूरी है। किसी भी शेयर बाजार में सारी चीजें वैज्ञानिक तरीके से होती है। Primary market से पूंजी हुक्का ही सिर लेकर के लिस्टिंग होने के बाद शेयर की सेकेंडरी मार्केट में खरीद व बिक्री की पूरी प्रक्रिया Stock Exchange के नियमों के तहत ही की जाती है।इसलिए आपको पूरे सूझबूझ और शेयर बाजार की पूरी प्रक्रिया और प्रणाली को समझ कर ही निवेश करना चाहिए।

IPO क्या होता है? अगर आपको इसके बारे में जानकारी नहीं है तो आप हमारे नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके इसके बारे में पढ़ सकते हैं।

IPO क्या होता है? कोई भी कंपनी आईपीओ कब जारी करती है?

SEBI के दिशा निर्देश अनुसार, शेयर बाजार में शेयर की खरीद-फरोख्त के लिए आपके पास में Demat account होना अनिवार्य है। आपको यह जरूर पता होगा कि Demat account क्या होता है? Demat accountके बारे में अगर आपको जानकारी नहीं है तो आप नीचे दिए गए हमारे लिंक पर क्लिक करके इससे संबंधित जानकारी ले सकते हैं।

Demat account क्या होता है? शेयर बाजार में शेयर की खरीद-फरोख्त के लिए क्यों जरूरी है?

Primary market से शेयर कैसे खरीदे?

यदि आप शेयर मार्केट में होने वाले मुनाफे एवं जोखिम से अवगत है तो और आपने शेयर पर निवेश करने का मन बना लिया है। तो आप जिस कंपनी के IPO, primary marketसे खरीदने के बारे में सोच रहे हैं तो उस कंपनी से संबंधित track record, fundamentals इत्यादि चीजों को अच्छी तरह से जांच कर ले।

जैसे कि उस कंपनी का business model क्या है? कंपनी के ट्रैक रिकॉर्ड में annual profit and loss, quarterly result, Pi ratio, book valueइत्यादि चीजों पर शोध करने की आवश्यकता भी होती है। या फिर आप अपने broker से रिसर्च के माध्यम से मदद भी ले सकते हैं। यदि आप खुद रिसर्च नहीं कर सकते हैं तो आप index fund या Mutual fund के माध्यम से भी लंबी अवधि के लिए निवेश कर सकते हैं। Mutual fund से संबंधित जानकारी लेने के लिए आप नीचे दिए गए हमारा लिंक के माध्यम से यह आर्टिकल पढ़ सकते हैं?

Mutual fund क्या होता है? Mutual fund पर निवेश कैसे करें?

Primary market या secondary market से आप शेयर खरीदने के बारे में सोच रहे हैं। तो हमारी असला रहेगी कि आप लंबी अवधि के लिए शेयर खरीदे। पिछले पांच-छह सालों से इंडेक्स ने औसतन सालाना रिटर्न 16% से 18% तक मुनाफा दिया है।इसलिए आपको सलाह है कि शेयर बाजार में हमेशा लंबी अवधि का नजरिया रखना चाहिए।यदि आप शेयर बाजार से पैसे बनाना चाहते हैं तो लालच और डर से दूर रहे। शेयर बाजार से पैसे एवं मुनाफा कमाने का एक ही तरीका है निवेश में जोखिम और लाभ दोनों रहते हैं। आप हमेशा जोखिम लेने के लिए तैयार रहें।

IPO (initial public offering) primary market से लेने से पहले उस कंपनी के व्यापार से संबंधित जानकारी जरूर इकट्ठे कर ले।साथ ही साथ कंपनी के वैल्यूएशन और कंपनी की परफॉर्मेंस भी देखना अनिवार्य होता है। आपको टिप्स के आधार पर निवेश जांच परख कर ही लेना चाहिए। आप अपना portfolioबनाने से पहले कुछ बातों का ध्यान आवश्यक रखें। छोटी निवेश से शुरुआत करें। एक ही सेक्टर के शेयर अपने portfolio में ज्यादा ना रखें, अच्छे fundamental वाली कंपनियों में ही निवेश करें।

Capital and Paid up Capital क्या होता है?

Capital वह पूंजी होती है, जिसके माध्यम से कोई भी कंपनी अपने लिए बिजनेस स्थापित करती है। साधारण शब्दों में कह तो capital उसे कहते हैं जिससे कोई कंपनी अपने लिए बिजनेस शुरू करते है। यह पूंजी उस कंपनी की “Capital”कहलाती है।

वही जब कोई कंपनी share जारी करके या बाजार से उधार लेकर के अपने लिए पूंजी एकत्रित करती है तो उसे हम Authorised capital कहते हैं। ऑथराइज्ड कैपिटल से कंपनी जो पूंजी इकट्ठा करती है उसे share capital कहां जाता है।

Paid up Capital जब कोई कंपनी कई तरह के माध्यम से अपने लिए पैसे इकट्ठा करती है। यानी की कोई भी कंपनी द्वारा कई माध्यमों से पैसे इकट्ठा करना या जैसे कि लोन लेकर के, प्रमोटर द्वारा, निवेश की गई पूंजी, शेयर मार्केट से अर्जित की गई पूंजी इत्यादि चीजों के जरिए जब कंपनी अपने लिए पैसे इकट्ठा करती है, तो उसे Paid up Capital कहा जाता है।

IPO (initial public offering) भी एक वह माध्यम है जिसके जरिए कोई भी कंपनी अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए, या अपने बिजनेस को कॉर्पोरेट रूप देने के लिए अपने लिए पूंजी इकट्ठा करती है। जिसे Paid up capital कहते हैं। इसके अलावा भी और भी बहुत से माध्यम है जिनके बारे में हमने ऊपर बताया है,जिसके जरिए कंपनी अपने लिए यह पूंजी एकत्रित करती है।

निष्कर्ष

दोस्तों आज के हमारे इस पोस्ट में आपने सीखा की share market में Primary market क्या होता है? Primary market पर कोई भी कंपनी किस तरह से IPO जारी करती है? और अपने लिए capital या पूंजी इकट्ठा करती है। कंपनी द्वारा किस तरह की पूंजी इकट्ठा किया जाता है।इसके बारे में विस्तार से जानकारी उपलब्ध कराने की कोशिश की है। Share market मे Primary market क्या होती है?अगर इस पोस्ट के माध्यम से आपको शेयर बाजार से संबंधित अपनी जानकारी बढ़ाने में मदद मिली है। इसके साथ ही अगर आज का हमारा यह पोस्ट आपको पसंद आया है तो आप इसे अपने दोस्तों, सगे संबंधियों और कलीग्स के साथ इसे जरूर शेयर करें।इससे संबंधित अगर आप के कुछ सवाल एवं सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स पर कमेंट करके बता सकते हैं। हम यह कोशिश करेंगे कि आपके सारे सवालों का जवाब दे सके।

3 COMMENTS

  1. […] Share market जैसे कि शेयर बाजार BSE और NSE पर अक्सर सूचकांक के बारे में आपने बात करते हुए लोगों को जरूर सुना होगा? आखिर सूचकांक क्या है? यह किसी भी शेयर बाजार को किस तरह से प्रभावित करता है? ऐसे ही सारे सवालों के जवाब आज हम यहां पर देने वाले हैं। […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here