What is Tax Saver Fixed Deposit? टैक्स सेविंग फिक्स डिपाजिट क्या है?

Poटैक्स सेविंग (Tax Saver) फिक्स डिपॉजिट बैंक और वित्तीय संस्थानों द्वारा पेश किया गया एक निवेश का साधन है। जहां आप पैसे जमा कर सकते हैं और सामान्य बचत खाते की तुलना में यहां इस योजना के अंतर्गत आपको अधिक ब्याज दर मिलता है। इस योजना के तहत आपको निवेश को धारा 80C के अनुसार टैक्स से छूट मिलती है। सामान्य तौर पर एक साधारण फिक्स्ड डिपॉजिट योजना एक निश्चित समय पर अधिक रिटर्न दे सकती है। लेकिन टैक्स लाभ एक साधारण फिक्स डिपाजिट योजना में आपको नहीं मिलती है। आज के हमारे इस लेख में हम जानकारी लेंगे की What is Tax Saver Fixed Deposit? टैक्स सेविंग फिक्स डिपाजिट क्या है?

इसके अलावा आज के हमारे इस लेख में हम टैक्स सेविंग फिक्स्ड डिपॉजिट के बारे में जानकारी लेंगे। जिसने इसकी विशेषताएं, लाभ और इसमें निवेश करने के लिए आपको जो भी जानने की आवश्यकता है उन सारे पहलुओं को आज के हमारे इस लेख में जानकारी देने की कोशिश करेंगे।

What is Tax Saver Fixed Deposit? टैक्स सेविंग फिक्स डिपाजिट क्या है?

Tax Savings or Tax Saver , टैक्स सेविंग फिक्स्ड डिपॉजिट एक प्रकार का सावधि जमा होता है। जिसके अंतर्गत भारतीय आयकर की धारा 1961, 80C के तहत आपके टैक्स पर आप कटौती का दावा कर सकते हैं। यह फिक्स डिपॉजिट पर दो प्रकार के खातों के माध्यम से किया जा सकता है। एकल धारक प्रकार जमा और संयुक्त धारक प्रकार जमा।

यदि आप संयुक्त रूप से होल्डिंग का विकल्प चुनते हैं तो कर लाभ केवल पहले धारक को ही मिलता है। अधिकतर बैंकों और वित्तीय संस्थानों में खुलने वाला टैक्स सेविंग फिक्स डिपाजिट अधिकतम 5 वर्षों के लिए खोला जाता है। धारा 80C के अंतर्गत कटौती हिंदू अविभाजित परिवार और व्यक्तियों के लिए भी उपलब्ध है।

How Tax Saver Works? टैक्स सेवर कैसे काम करता है?

जैसा कि हमने इस बारे में पहले ही जानकारी दी है कि Tax Saving FD, बैंक और अन्य वित्तीय संस्थानों द्वारा दिए जाने वाला एक निवेश का साधन है। जिस पर आप अपने पैसों को निवेश करके अपने सालाना टैक्स पर कटौती या छूट प्राप्त करते हैं। इस योजना के अंतर्गत आप 5 वर्षों के लिए एकमुश्त राशि जमा करते हैं। यह आयकर अधिनियम की धारा 1961 के 80C के तहत निवेश करने वाले व्यक्ति को कटौती की पेशकश करता है।

जैसा कि आपने पहले ही ऊपर जिक्र किया है कि टैक्स सेविंग फिक्स्ड डिपॉजिट अधिकतम 5 वर्षों के लिए एकमुश्त राशि के रूप में खोली जाती है। 5 वर्ष इसका लॉक इन अवधि होता है। सीधे शब्दों में कहें तो आप 5 वर्षों से पहले इसे तोड़ नहीं सकते हैं।

आपके द्वारा जमा किए गए पैसों पर अर्जित ब्याज पर कर लगता है। टैक्स सेविंग फिक्स डिपाजिट की मैच्योरिटी के समय मैच्योरिटी राशि आपके सेविंग अकाउंट में जमा कर दी जाती है।

Benefit of Tax Saver Fixed Deposit? टैक्स सेविंग फिक्स्ड डिपॉजिट के लाभ

टैक्स सेविंग फिक्स डिपॉजिट पर निवेश करने से आपको बहुत से लाभ मिलते हैं। टैक्स सेवर फिक्स डिपॉजिट पर अगर आप निवेश करते हैं तो आपको अच्छा रिटर्न मिलना है के साथ-साथ लाभ भी मिलता है। इससे मिलने वाले लाभ को हमने नीचे सूचीबद्ध किया है।

  1. टैक्स में छूट – टैक्स सेविंग फिक्स्ड डिपॉजिट के साथ आप इनकम टैक्स अधिनियम धारा 1961 की धारा 80C के अंतर्गत आयकर छूट का लाभ उठा सकते हैं। ₹1,50,000 तक के निवेश पर आप निवेश पर दावा किया जा सकता है।
  2. योजना के अंतर्गत लॉक इन अवधि – ध्यान रहे कि यदि आप टैक्स सेविंग फिक्स डिपाजिट खुलवा ते हैं तो यह 5 साल की लॉक इन अवधि के अंतर्गत खुलता है। इसमें मिलने वाला ब्याज दर भी 5 सालों की अवधि में परिवर्तित रहती है।
  3. कर योग्य ब्याज – टैक्स सेविंग फिक्स्ड डिपॉजिट के हिस्से में अर्जित ब्याज कर योग्य है और स्रोत पर ही काट लिया जाता है।
  4. समय से पहले निकासी नहीं कर सकते – जैसा कि हमने पहले ही इसके बारे में बताया है कि यह 5 साल की लॉक इन अवधि के अंतर्गत खोली जाती है। इस वजह से आप समय से पहले इससे निकासी नहीं कर सकते। ना ही आप साधारण फिक्स डिपाजिट के अंतर्गत मिलने वाली सुविधा जैसे कि ओवरड्राफ्ट, क्रेडिट लोन इत्यादि चीजें नहीं ले सकते हैं।
  5. टैक्स सेविंग फिक्स्ड डिपॉजिट पर किसी भी तरह का कोई ऑटो रिनुअल नहीं होता। यह 5 सालों के लिए खोला जाता है और 5 साल होने के बाद इस में जमा राशि आपके बचत खाते में जमा कर दी जाती है।
  6. ब्याज दरें बैंक से बैंक में अलग-अलग हो सकती है और भारतीय नागरिक, हिंदू अविभाजित परिवार के लिए दरें भी भिन्न हो सकती है। टैक्स सेविंग फिक्स्ड डिपॉजिट सिंगल या जॉइंट दोनों मोड में खोला जा सकता है।
  7. टैक्स सेविंग सावधि जमा में बचत खाते की तुलना में आपको अधिक ब्याज दर प्राप्त होता है।

टैक्स सेविंग फिक्स डिपाजिट कैसे खोलें?

टैक्स सेविंग फिक्स डिपोजिट खाता खुलवाने के लिए आप अपने नजदीकी बैंक या वित्तीय संस्थान से संपर्क कर सकते हैं। हमारी यह सलाह रहेगी कि अगर आपका बचत खाता किसी बैंक में मौजूद है तो आप अपने बचत खाते के पास बुक के साथ अपने बैंक से संपर्क करें। क्योंकि, जहां पर आपका बचत खाता मौजूद है वहां पर कागजी प्रक्रिया कम हो जाएगी। लेकिन ऐसे बैंक जहां पर आपका बचत खाता नहीं है वहां अगर आप संपर्क करते हैं तो आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होगी।

  • पहचान पत्र – के अंतर्गत आप आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड, पासपोर्ट इत्यादि चीजें जमा कर सकते हैं।
  • आवासीय प्रमाण पत्र – के लिए आप आधार कार्ड या वोटर आईडी दे सकते हैं। या फिर किसी सरकारी संस्थान द्वारा जारी किया गया अवश्य प्रमाण पत्र भी जमा कर सकते हैं।
  • आयु का प्रमाण के लिए आप पैन कार्ड जमा कर सकते हैं।
  • नवीनतम फोटो पासपोर्ट आकार के जमा कर सकते हैं।

निष्कर्ष

अगर आप टैक्स पर बचत करना चाहते हैं तो सबसे आसान तरीका फिक्स्ड डिपॉजिट टैक्स सेविंग योजना है। जहां पर आप एकमुश्त के रूप में ₹150000 तक पैसे जमा कर सकते हैं। लेकिन इस बात का ध्यान रहे कि यह 5 साल की लॉक इन अवधि के अंतर्गत खोली जाती है। इस वजह से आप 5 साल से पहले इसे तोड़ नहीं सकते हैं। इस पर मिले वाले ब्याज दर पर आपको इनकम टैक्स अधिनियम 1961 की धारा 80C के अंतर्गत टैक्स पर छूट मिलता है। आज के हमारे इस लेख में हमने आप सभी लोगों को इस बारे में जानकारी दी है कि What is Tax Saver Fixed Deposit? टैक्स सेविंग फिक्स डिपाजिट क्या है? इसकी मदद से आप किस तरह से अपनी टैक्स की बचत कर सकते हैं। उम्मीद करता हूं आज के हमारे इस लेख से आपको टैक्स सेविंग फिक्स डिपॉजिट के बारे में जानकारी मिल गई होगी। इससे संबंधित अगर आपकी कुछ सवाल एवं सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं।