Biography of Sameer Nigam – फोनपे (PhonePe) के संस्थापक समीर निगम की जीवनी

समीर निगम (Sameer Nigam) एक भारतीय उद्यमी है। इन्हें ज्यादातर लोग PhonePe के संस्थापक के रूप में जानते हैं। उन्होंने साल 2015 में UPI आधारित ऑनलाइन भुगतान प्रणाली की स्थापना की और इसके मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) भी है। इससे पहले समीर निगम शिपकार्ट के लिए काम करते थे। उन्होंने फ्लिपकार्ट में वरिष्ठ उपाध्यक्ष, इंजीनियरिंग के रूप में भी काम किया है। साल 2009 में, उन्होंने अपना पहला प्रोजेक्ट Mime360 लांच किया था। जो सामग्री के मालिकों को सामग्री प्रकाशकों से जुड़ता था। इन्होंने 14 जनवरी, 2016 को आर्टिफिशियल नामक एक संगठन में व्यक्तिगत निवेश किया था। द इकोनॉमिक्स टाइम्स द्वारा “40 under 40” की सूची में सिर्फ भारतीय व्यापारिक नेताओं में सूचीबद्ध किए गए। 2017 तक उनकी कुल संपत्ति 17.7 करोड़ रुपए के आसपास थी। वर्ष 2015 में उन्होंने PhonePe जैसे कंपनी की नींव रखी। आज के हमारे इस लेख में हम Biography of Sameer Nigam – फोनपे (PhonePe) के संस्थापक समीर निगम की जीवनी  के बारे में विस्तार से जानकारी लेंगे।

Biography of Sameer Nigam – फोनपे (PhonePe) के संस्थापक समीर निगम की जीवनी

समीर निगम का जन्म वर्ष 1978 में हुआ है। समीर निगम वर्तमान समय में कर्नाटक के बेंगलुरु में रहते हैं। उन्होंने नोएडा से मुंबई और फिर अंत में बेंगलुरु के लिए अपना रास्ता बनाया है। यहीं पर उनकी कंपनी PhonePe का मुख्यालय भी है। उनके उद्यम को विमुद्रीकरण नीति से जबरदस्त बढ़ावा मिला, जिसकी घोषणा भारत सरकार ने फोनपे के उसी लॉन्चिंग वर्ष में की थी।

समीर निगम ने अपनी औपचारिक शिक्षा DPS Noida, से पूरी की है। इसके बाद समीर निगम कंप्यूटर में इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त करने के लिए मुंबई विश्वविद्यालय में दाखिला लिया। वह आगे की कंप्यूटर इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के लिए एरीजोना विश्वविद्यालय में अपनी मास्टर ऑफ साइंस किया है। बाद में उन्होंने पेंसिलवेनिया विश्वविद्यालय से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन की पढ़ाई पूरी की।

अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद समीर निगम ने वर्ष 2021 से जून 2007 तक शॉपक्लूज में खोज उत्पाद विकास के निदेशक के रूप में काम किया। इसके बाद उन्होंने वर्ष 2009 में अपना उद्यम Mime360 लांच किया, जो कि एक ऑनलाइन सोशल मीडिया वितरण चैनल है। बाद में फ्लिपकार्ट ने कंपनी का अधिग्रहण कर लिया।

उन्होंने अक्टूबर 2011 से अगस्त 2015 तक फ्लिपकार्ट के लिए काम किया। ई-कॉमर्स दिग्गजों के लिए काम करते हुए, उन्होंने मार्केटिंग और इंजीनियरिंग सहित कई डिवीजन में क्रमश अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के रूप में काम किया है। उन्होंने 2015 में अपना डिजिटल वॉलेट प्लेटफॉर्म PhonePe किया है। जहां उन्होंने मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में तैनात किया गया।

समीर निगम अपने कॉर्पोरेट कैरियर में असाधारण रूप से उन्होंने काफी अच्छा प्रदर्शन किया। जिसकी उन्हें काफी सराहना भी मिली है। उन्होंने प्रोडक्ट मार्केटिंग, ई-कॉमर्स, रणनीतिक साझेदारी, ऑनलाइन मार्केटिंग, डिजिटल रणनीति, वेब एप्लीकेशन डेवलपर, स्टार्टअप, मोबाइल मार्केटिंग, डिजिटल मीडिया, व्यवसाय विकास, वेब डेवलपमेंट, वेब विश्लेषण और कई अन्य क्षेत्रों में अपने कौशल का प्रदर्शन बहुत ही बेहतरीन ढंग से किया है।

समीर निगम टीम प्रबंधन, डिजिटल मार्केटिंग, गैर चिकित्सा होम केयर, लीड जेनरेशन सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन, रणनीति, मोबाइल एप्लीकेशन, मोबाइल विज्ञापन और ऑनलाइन विज्ञापन में काफी अधिक कुशल है।

समीर निगम Mime360 के संस्थापक

साल 2009 में, समीर निगम ने अपना पहला उद्यम Mime360 लांच किया था। जोकि ऑनलाइन मीडिया वितरण चैनल थी। जिसका मुख्यालय मुंबई भारत में है। कंपनी सामग्री के मालिकों को सारेगामा इंडियाटाइम्स और अन्य सहित सामग्री प्रकाशकों के साथ जोड़ने के लिए एक्सचेंज प्लेटफार्म प्रदान करती है।

Mime360 की सुरक्षा एपीआई फीड्स द्वारा सहायता प्राप्त है जो पायरेसी को रोकने में मदद करती है और बड़ी संख्या में प्रकाशकों को विश्व स्तर पर लाइसेंस प्राप्त सामग्री को बेचने की अनुमति देती है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि Mime सामग्री प्रबंधन, भंडारण और स्थानीय डाटा सेंटर बैंडविथ सहित भागीदारों के लिए विभिन्न बुनियादी ढांचे की लागत को समाप्त करता है और सामग्री मालिकों को क्षेत्रीय मूल्य निर्धारण करने के लिए अधिकृत करता है।

Mime360 को फ्लिपकार्ट द्वारा अधिकृत कर लिया गया था। ई-कॉमर्स की दिग्गज कंपनी टीम को विकसित करने के लिए छोटी कंपनियों का अधिग्रहण करना चाहती थी। अधिग्रहण के बाद, Mime360 के कुछ कर्मचारी बाद में एक डिजिटल संगीत वितरण सेवा शुरू करने के लिए फ्लिपकार्ट में शामिल हो गए। मजबूत उद्यमशीलता के उत्साह, दूरदर्शी और अनुभव ने समीर को आगे बढ़ाया और उन्होंने जल्दी एक और उद्यम शुरू किया।

समीर निगम फोनपे के संस्थापक – Sameer Nigam Founder of PhonePe

समीर निगम ने दिसंबर 2015 में अपना यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) आधारित स्टार्टअप PhonePe लांच किया। वह बेंगलुरु मुख्यालय के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी बन बन गए। वह कंपनी में निदेशक मंडल के सदस्य हैं और मार्केटिंग और कई अन्य रणनीतियों पर सलाह देते हैं।

समीर अपने दो दोस्त, राहुल चारी और बुर्जइन इंजीनिय के साथ मिलकर के उन्हें यूपीआई पर आधारित एक ऑनलाइन भुगतान प्रणाली डिजाइन करने का विचार आया था। PhonePe एप्लीकेशन अगस्त 2016 में लाइव हो गया। जहां उपयोगकर्ता के लिए 11 से अधिक भारतीय भाषाओं में उपलब्ध कराया गया था।

वर्ष 2016 में फ्लिपकार्ट द्वारा PhonePe का अधिग्रहण किया गया था। हालाकी, ई-कॉमर्स दिग्गज 2018 में अमेरिका स्थित वॉलमार्ट इनकॉरपोरेशन के स्वामित्व में आ गया, जिसकी कीमत 16 बिलियन डॉलर थी। PhonePe का अधिग्रहण भारत में अपने ऑनलाइन शॉपिंग फुटप्रिंट का विस्तार करने के उद्देश्य से किया गया था।

समीर निगम को मिले पुरस्कार एवं सम्मान

समीर निगम ने बहुत ही कम समय में बहुत ही ज्यादा उपलब्धियां हासिल की है। व्हार्टन बिजनेस स्कूल, पेंसिलवेनिया विश्वविद्यालय ने उन्हें 2008 में  वेंचर अवार्ड से सम्मानित किया है। उन्होंने दो कार्यक्रमों में भाग लिया है। उन्होंने 5 नवंबर 2019 को बैंगलोर, कर्नाटका, भारत एशिया में आयोजित 16वें NASSCOM उत्पाद कॉन्क्लेव 2019 में भाग लिया। उन्होंने 19 मार्च, 2019 को मध्य क्षेत्र, सिंगापुर, एशिया में आयोजित एक स्पीकर के रूप में Money 20/20 मैं भी भाग लिया जो कि सिंगापुर में आयोजित की गई थी।

  • PhonePe को भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI) द्वारा UPI नेटवर्क पर सबसे बड़ी संख्या में व्यापारी लेनदेन को आकर्षित करने के लिए मान्यता दी गई थी। वर्ष 2018 में।
  • IAMAI इंडिया डिजिटल अवॉर्ड्स 2018 में सर्वश्रेष्ठ मोबाइल भुगतान उत्पाद या सेवा श्रेणी प्राप्त की।
  • एनपीसीआई 2018 से यूपीआई डिजिटल इन्नोवेशन अवॉर्ड जीता।
  • सुपर स्टार्टअप एशियाई अवॉर्ड्स वर्ष 2018 में प्राप्त किया।
  • इंडिया एडवरटाइजिंग अवार्ड वर्ष 2018 दूरसंचार और प्रौद्योगिकी श्रेणी का पुरस्कार जीता।
  • जी बिजनेस और इकोनॉमिक्स टाइम्स द्वारा आयोजित आठवीं वार्षिक इंडियन रिटेल एंड ई रिटेल अवॉर्ड्स 2019 में सर्वश्रेष्ठ डिजिटल वॉलेट के लिए प्राप्त किया।