DMCA क्या होती है? इसका इस्तेमाल Website में क्यों किया जाता है?

0
268

अगर आप इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं तो कई बार आपने copyright या फिर किसी वेबसाइट पर DMCA protected, badge आदि चीजें लिखा हुआ तो देखा होगा।DMCA kya hota hai in Hindi

अगर आप एक ब्लॉगर है, तो आप इस शब्द से जरूर परिचित होंगे। अगर आप एक ब्लागर हैं और अपने लिए एक blog बनाने के बारे में सोच रहे हैं। तो आपको इसके बारे में जानकारी होनी चाहिए।DMCA क्या होती है और इसका इस्तेमाल किस लिए किया जाता है?

दोस्तों आज के हमारे इस लेख में हम लोग DMCA से संबंधित संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं। इसकी सहायता से आप किस तरह से अपने content को copyright करवा सकते हैं। इत्यादि संबंधित जानकारी यहां हम आज देने वाले हैं। आज के हमारे इस लेख में आप जानने की DMCA kya hota hai in Hindi. DMCA को अपने वेबसाइट पर कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं?

DMCA क्या होता है? – What is DMCA in Hindi

DMCA का full form होता है, Digital millennium copyright Act जोकि copyright कानून के अंतर्गत आता है। इसे अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने लागू किया था।

संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा इसे लागू करने के पीछे मुख्य उद्देश्य था कि digital या internet पर मौजूद विभिन्न software, file, content इत्यादि चीजों को चोरी करने पर उसके खिलाफ कार्रवाई करने में मदद करती है। DMCA का इस्तेमाल इंटरनेट पर अपने डिजिटल उत्पादों (digital product) जैसे कि – photo, video, software, जितने भी digital product इंटरनेट पर मौजूद है उन्हें चोरी होने से बचाना तथा चोरी होने पर उन पर कार्रवाई करने जैसे नियम लागू करती है।

इस इस कानून के अंतर्गत आप अपने इंटरनेट पर मौजूद या अन्य digital उत्पादों को सुरक्षित रख सकते हैं। उनके चोरी होने, उन्हें copy, piracy इत्यादि चीजों से बचा सकते हैं। चोरी होने पर आप उचित कार्रवाई के लिए appeal कर सकते हैं। अगर आप इसका इस्तेमाल blog/website पर content को copy होने से protect करने के लिए भी कर सकते हैं।

इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि अगर किसी भी डिजिटल उत्पाद को बिना कोई आपकी इजाजत के इस्तेमाल करता है या फिर copy, piracy इत्यादि चीजें करता है। तो आप उसकी DMCA complaints कर सकते हैं। उसके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई, copied content को हटवा सकते हैं।

DMCA के फायदे – Benefit of DMCA copyright

जैसा कि हमने ऊपर बताया है कि अपने digital उत्पादों को DMCA की मदद से कॉपीराइट करवा सकते हैं। डीएमसीए digital protection के लिए बनाया गया है। आप अपनी हर चीज जिसे आप इंटरनेट पर शेयर करते हो उन्हें आप इनकी मदद से digital protect कर सकते हैं।इससे आपको क्या-क्या फायदे हो सकते हैं इसके बारे में हमें नीचे एक सूची दी है।

DMCA से आपको निम्नलिखित फायदे पहुंचते हैं।

  • जैसा कि हमने ऊपर बताया है, अगर आपके किसी भी डिजिटल उत्पाद की चोरी होती है तो आप इसकी सहायता से रिपोर्ट कर सकते हैं।
  • इसकी सहायता से आप चोरी करने वाले को मैसेज कर सकते हैं कि आप यह कंटेंट या डिजिटल उत्पाद की कॉपी नहीं कर सकते।अगर आप ऐसा करते हैं तो आप के खिलाफ कानूनी कार्रवाई हो सकती है।
  • इसकी सहायता से original content या digital product की पहचान कर पाना आसान होता है।
  • जब भी आप अपने डिजिटल उत्पाद या कंटेंट को इससे protection करते हैं तो यह उत्पाद के लिए एक certificate बना देता है।
  • जिसकी सहायता से original digital content को पहचानने में आसानी होती है।

संक्षेप में समझे तो DMCA की सहायता से आप अपने डिजिटल उत्पादों की चोरी या content copy होने पर कार्रवाई कर सकते हैं। उसके खिलाफ आप legal action कानूनी कार्रवाई ले सकते हैं।

DMCA की सहायता से आप अपने Digital उत्पादों को कैसे सुरक्षित रख सकते हैं?

इसकी सहायता से अपने डिजिटल उत्पादों को सुरक्षित रखना काफी आसान है। इसके लिए आपको DMCA.com पर जाकर के अपने लिए account बनाना होता है।

Account बनाने के बाद आपको dmca द्वारा एक certificate badge दिया जाता है। जो कि एक तरह का certificate होता है। जिसे आपको अपने digital उत्पाद पर install करके रखना होता है।

किसी website पर मौजूद डिजिटल content को भी आप इसकी सहायता से सुरक्षित कर सकते हैं। इसके लिए आपको certificate badge को अपने website/blog पर लगाना होता है।

DMCA द्वारा आपको दो तरह के account बनाने के विकल्प प्रदान करती है, पहला free plan और दूसरा DMCA Pro plan या paid plan. Free plan के जरिए आप अपने प्रोडक्ट कंटेंट कॉपी को सुरक्षित कर सकते हैं। लेकिन इसमें आपको बहुत ही सुविधाएं नहीं दी जाती है। वही DMCA Pro plan पर आपको पैसे खर्च करने पड़ते हैं और इसमें मिलने वाली सुविधाएं काफी अच्छी और गुणवत्ता पूर्ण होती है।

इस तरह से आप अपने website/blog के कंटेंट को सुरक्षित रख सकते हैं। इसकी सहायता से आप content copy होने से रोक सकते हैं। अगर किसी ने आपके content को चुरा लिया है, तो इसके बारे में आप DMCA पर रिपोर्ट कर सकते हैं। चुराने वाले के खिलाफ आप legal action ले सकते हैं।

आप अपने वेबसाइट या ब्लॉग पर DMCA को कैसे लगा सकते हैं इसके बारे में हमने पहले ही एक लेख article लिखा है। उसे आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं।

website/ blog पर DMCA protection कैसे लगा सकते हैं?

निष्कर्ष

दोस्तों आज के हमारे इस लेख में आपने सीखा की DMCA kya hai in Hindi. DMCA क्या है?किसी भी वेबसाइट के लिए क्यों जरूरी होती है? इसकी सहायता से आप कैसे अपने content को सुरक्षित रख सकते हैं?

आशा करता हूं कि आपको हमारा आज का यह लेख जरूर पसंद आया होगा, अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया है तो आप इसे social media पर share भी कर सकते हैं। इससे संबंधित अगर आपकी कुछ सवाल है तो आप हमें comment box पर कमेंट करके पूछ सकते हो। हम यह कोशिश करेंगे कि आपके सारे सवालों का जवाब दे सकें।

Leave a Reply