How to Invest in Gold SIP – गोल्ड एसआईपी पर निवेश कैसे करें?

SIP (Systematic Investment Plan) एक ऐसा तरीका है, जिसमें आप निवेश करके अच्छा लाभ कमा सकते हो। आज हम अपने इस लेख में आप लोगों को इस बारे में जानकारी देंगे कि, आप किस तरह से How to Invest in Gold SIP – गोल्ड एसआईपी पर निवेश कैसे करें?

म्यूच्यूअल फंड के जरिए आप सोने पर निवेश करके अच्छा खासा लाभ कमा सकते हैं। इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि आप गोल्ड पर निवेश मात्र ₹500 से भी शुरू कर सकते हैं। SIP के जरिए आप हर महीने कुछ रुपए गोल्ड पर निवेश कर सकते हैं।

How to Invest in Gold SIP – गोल्ड एसआईपी पर निवेश कैसे करें?

पुराने समय से ही लोगों के बीच में सोने को खरीद करके उनके गहने अपने घर में रखना शान उस वक्त की बात होती थी। आज के वर्तमान समय में भी आप अपने घर में सोना रखते हो। सोने पर निवेश करना आपके लिए फायदा का सौदा हो सकता है। सोना सदियों से समृद्धि का प्रतीक रहा है। लोग अपनी समृद्धि का प्रदर्शन करने के लिए सोना यानी कि गोल्ड अपनी आने वाली पीढ़ी को विरासत के रूप में देते हैं।

सोने की अहमियत आज भी बरकरार है। लेकिन लगातार बढ़ती कीमतों के चलते या कीमती धातु आम आदमी की पहुंच से काफी परे हो गई है। लेकिन अगर आप भी सोना

Digital Gold ( डिजिटल गोल्ड) क्या है?

डिजिटल गोल्ड ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिए सोनी पर निवेश करने का एक तरीका है। इसे आप फिजिकल गोल्ड के तौर पर आसानी से भुना सकते हैं। इसके अलावा आप वेंडर को दोबारा इसे बैठ सकते हैं

Digital Gold ( डिजिटल गोल्ड) छोटे-छोटे अमाउंट के रूप में सोने पर निवेश किया जाता है। इस निवेश में आपके पास वास्तविक रूप से सोना तो नहीं होता। लेकिन आप डिस्टल तरीके से 24 कैरेट यानी कि 99% शुद्ध सोने पर डिजिटल और सुरक्षित रूप से निवेश करते हैं। इसे आप आसानी से भी बेच सकते हैं या फिर आप सोने की बिस्किट यानी कि फिजिकल गोल्ड या ज्वेलरी में आप इसे आसानी से बदल सकते हैं।

डिजिटल गोल्ड मैं आप छोटे छोटे अमाउंट में सोने पर निवेश करते हो। डिजिटल यानी कि आप ऑनलाइन प्लेटफॉर्म जैसे स्टॉक मार्केट एंड्रॉयड एप्लीकेशन, इत्यादि चीजों में डिजिटल तरीके से 24 कैरेट यानी 99% तक शुद्ध सोने पर निवेश करके आप लाभ कमाते हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि आप इसे जब चाहे तब बिक्री कर सकते हैं। या फिर आप फिजिकल तरीके से इससे सोने की बिस्किट, सोने के सिक्के या किसी दूसरे आभूषण में बदल सकते हैं।

डिजिटल फॉर्म में एक रुपए में भी निवेश करके आप सोनी पर अपने पैसों को लगा सकते हैं। सोनी पर निवेश करने के लिए आपको कहीं भी जाने की आवश्यकता नहीं है। आप आसानी से अपने घर बैठे इस पर निवेश कर सकते हो।

कई सारे डिजिटल प्लेटफॉर्म पेमेंट मेथड के रूप में, PAYTM, गूगल पे, फोनपे, इत्यादि चीजों का इस्तेमाल करके, आप सोने पर आसानी पर इससे निवेश कर सकते हैं। आप इन प्लेटफार्म के जरिए भी डिजिटल पेमेंट करने में सक्षम होते हैं।

इसके अलावा यह सारे प्लेटफार्म आपको डिजिटल तौर पर भुगतान करने के अलावा, डिजिटल गोल्ड खरीदने की सुविधा भी देती है। गूगल पे, पेटीएम जैसी कंपनियों ने MMTC-PAMP के साथ साझेदारी की है। जहां से आप सुविधाजनक डिजिटल गोल्ड खरीद सकते हैं।

What is Gold Mutual Fund? – गोल्ड म्यूच्यूअल फंड क्या है?

वर्तमान समय में, सोने पर निवेश करना काफी सारी लोगों के लिए पसंदीदा निवेश का साधन बन गया है। ऐसा इसलिए भी है क्योंकि पिछले 10 सालों में इसमें निवेश करने वाले लोगों को 30% तक का रिटर्न मिला है। अगर आप सोने पर निवेश कर रहे हैं तो यह प्लान आपके लिए बेहद ही बेहतर और लाभ होने वाला है।

गोल्ड म्यूच्यूअल फंड ETF का ही एक प्रकार होता है। इसके अंतर्गत कई सारी योजनाएं होती है जो मुख्य रूप से ETF के जरिए गोल्ड पर निवेश करती है। यहां पर आप सीधे फिजिकल गोल्ड में तो निवेश नहीं करते, लेकिन आप अप्रत्यक्ष रूप से इस पर निवेश करते हो।

Gold Mutual Fund ( गोल्ड म्यूच्यूअल फंड) एक open-ended म्यूच्यूअल फंड होता है, जो की सोने की एक्सचेंज ट्रेडेड फंड पर निवेश करती है और उनका नेट ऐसेट वैल्यू यानी कि NAV, ETFs मार्केट में कैसा प्रदर्शन करेगा इस पर निर्भर करता है।

गोल्ड म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें?

ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिए, गोल्ड म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकते हो। आप मंथली SIP के जरिए इसमें निवेश कर सकते हैं। SIP की तरह ही आप गोल्ड म्यूचुअल फंड में भी ₹1000 से कम के मासिक निवेश से गोल्ड म्यूच्यूअल फंड की शुरुआत कर सकते हैं।

गोल्ड म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए सबसे पहले आपके पास एक डीमैट अकाउंट होना जरूरी होता है। जहां पर डिजिटल तौर पर आपके द्वारा खरीदे गए गोल्ड सुरक्षित रहते हैं। गोल्ड म्यूच्यूअल फंड पर निवेश आप किसी भी म्यूच्यूअल फंड हाउस के माध्यम से इसमें कर सकते हैं।

बाजार में उपलब्ध गोल्ड म्युचुअल फंड जिन्होंने अच्छी खासी रिटर्न दी है। उसकी एक छोटी सी सूची हम नीचे दे रहे हैं।

  1. HDFC Gold Fund
  2. Axis Gold Fund
  3. SBI Gold
  4. Nippon India Gold Savings Fund
  5. DSP World Gold Fund
  6. Aditya Birla Sun Life Gold Fund
  7. IDBI Gold Fund

गोल्ड म्यूच्यूअल फंड पर कितना देना होता है टैक्स?

गोल्ड म्यूच्यूअल फंड में अधिकतम 3 सालों से अधिक के निवेश को लंबी अवधि का निवेश माना जाता है। और इस अर्जित लाभ को लोंग टर्म कैपिटल गेन कहा जाता है। इस पर लगने वाला इंडक्शन बेनिफिट जिसके अंतर्गत प्लस सरचार्ज, इत्यादि को जोड़कर के 20% की दर से टैक्स लगाया जाता है। वही अगर आप कम अवधि के लिए गोल्ड म्यूच्यूअल फंड पर निवेश करते हैं तो इसमें लगने वाला टैक्स लागू स्लैब दर के आधार पर होती है।

गोल्ड म्यूच्यूअल फंड में 1 साल का एग्जिट लोड रहता है। गोल्ड म्यूच्यूअल फंड पर आमतौर पर 1 साल का एग्जिट लोड रहता है यानी कि आप एक निश्चित अवधि से पहले ही अपने निवेश का मुनाफा नहीं ले सकते हैं। एग्जिट लोड निवेशकों को बाहर जाने से रोकने के लिए लगाया जाता है। अलग-अलग म्यूच्यूअल फंड हाउस द्वारा यह एग्जिट लोड की समय अवधि अलग-अलग हो सकती है।

सीधे और साधारण शब्दों में कहें तो, माना कि किसी व्यक्ति ने गोल्ड म्यूचुअल फंड पर निवेश किया। 1 साल के अंदर ही, उसने निवेश की गई राशि को वापस लेने के बारे में सोचा। इस तरह से उसे अपने पैसे वापस पाने के लिए हर्जाने के तौर पर कुछ राशि देनी पड़ती है। एग्जिट लोड आपकी नेट ऐसेट वैल्यू का एक छोटा सा हिस्सा होता है। जो कि 2 से 3% तक हो सकता है। जिसे आप को हर्जाने के तौर पर भरना पड़ता है।

गोल्ड म्यूच्यूअल फंड के फायदे – Benefits of Gold Mutual Fund

किसी भी सिक्के के दो पहलू होते हैं, जहां आपको किसी चीज से फायदा होता है तो वही उसके कुछ नुकसान भी होते हैं। तो चलिए फटाक से हम लोग गोल्ड गोल्ड म्यूच्यूअल फंड के फायदों के बारे में जान लेते हैं :-

  1. Gold ETF की तुलना में गोल्ड म्यूचल फंड में निवेश करना आसान होता है। आप गोल्ड म्यूचुअल फंड में सीधे ऑनलाइन या डिस्ट्रीब्यूटर के माध्यम से आसानी से निवेश कर सकते हैं। वहीं गोल्ड ईटीएफ में निवेश करने के लिए आपके पास Demat A/c होना जरूरी होता है।
  2. गोल्ड म्यूचल फंड में आप SIP के जरिए निवेश कर सकते हैं। यानी कि आप मंथली अपने हिसाब से इसमें पैसे जमा कर सकते हैं। लेकिन, डिजिटल गोल्ड (ETF Gold) पर आपको यह सुविधा नहीं दी जाती है।
  3. गोल्ड म्यूच्यूअल फंड आपको किस्तों में सोना खरीदने की अनुमति देता है और इसका नेट ऐसेट वैल्यू भी प्रदर्शित होता है। इसलिए आप सोने के ग्रामों में निवेश करने के बजाए म्यूचुअल फंड में निवेश करते रहे।
  4. ETF Gold डिजिटल गोल्ड में आप न्यूनतम 1 ग्राम सोने पर आप निवेश करते हैं।