Net Banking (नेट बैंकिंग) क्या होता है? नेट बैंकिंग का इस्तेमाल कैसे करें?

0
266

इस आधुनिक जमाने में, हर क्षेत्र में काफी तरक्की हुई है। बैंकों में किया जाने वाला ट्रांजैक्शन डिजिटल तौर पर कहीं से भी कर सकते हैं। बैंकों ने अपने ग्राहकों को और अधिक सुविधा प्रदान किया है। नेट Net Banking एक ऐसा ही तरीका है जिसकी सहायता से आप अपने घर बैठे ही पैसों को एक खाते से दूसरे खाते में ट्रांसफर कर सकते हैं। नेट बैंकिंग (Net Banking) क्या होता है?

नेट नेट बैंकिंग का इस्तेमाल करने के लिए आप अपनी एक बैंक से संपर्क कर सकते हैं और इसे एक्टिवेट करवा सकते हो। तथा फिर किसी प्रकार की से आप नेट बैंकिंग की सुविधा के माध्यम से और भी बहुत सारी कार्य को करने में सक्षम हो जाते हैं। आज हम अपने इस पोस्ट में नेट बैंकिंग से जुड़ी चीजों के बारे में जानकारी उपलब्ध कराने वाले हैं। ताकि आप नेट बैंकिंग का पूरा लाभ उठा सके और घर बैठे ही अपने बैंक का सारा काम कंप्यूटर या अपने स्मार्टफोन के माध्यम से कर सकें।

Internet banking या नेट बैंकिंग का इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले आपके पास में इंटरनेट की सुविधा होनी चाहिए। भारत में डिजिटल क्रांति के बाद हर व्यक्ति के हाथों में स्मार्टफोन के माध्यम से इंटरनेट की पहुंच आ चुकी है। ऐसे में लोग घर बैठे ही इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करके बैंकिंग संबंधी कार्यों को अपने घरों से ही कर लेते हैं। छोटी मोटी लेनदेन, या बैंक के सामान्य कार्यों को आप आसानी से इंटरनेट बैंकिंग की सहायता से कर सकते हैं। जैसे कि – पैसों का ट्रांजैक्शन, NEFT/RTGS , cheque Book यीशु करना, stop payment, monthly statement, FD (fixed deposit) and RD (recurring deposit) खाते आप आसानी से इंटरनेट बैंकिंग की सहायता से अपने लिए खोल सकते हैं। तो, चलिए जानते हैं कि नेट बैंकिंग या इंटरनेट बैंकिंग क्या होती है?

Net Banking या Internet Banking क्या होता है?

Net Banking या Internet Banking बैंकों द्वारा अपने ग्राहक को दी जाने वाली एक ऐसी सुविधा है। जिसकी सहायता से आप अपने घर बैठे ही, बैंकिंग सेवाओं का आनंद उठा पाते हैं। यानी कि आप नेट बैंकिंग की सहायता से बहुत सारे बैंक संबंधित कार्यों को आप इंटरनेट के माध्यम से अपने घर में ही कर सकने में सक्षम होते हैं।

नेट बैंकिंग इंटरनेट बैंकिंग लेने के लिए आपको अपने बैंक से संपर्क करने की आवश्यकता होती है। एक बार जब आपका नेट बैंकिंग किया इंटरनेट बैंकिंग एक्टिवेट कर दिया जाता है। इसके बाद आप नेट बैंकिंग की सहायता से पैसों की लेनदेन, और मूलभूत बैंकिंग कार्य का निष्पादन अपने घर बैठे ही कर सकते हैं। इसके अलावा आप सीधे, बैंकिंग संबंधित कार्यों को करने के लिए बैंक जाने की आवश्यकता नहीं होती है।

नेट बैंकिंग इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से आप किसी को भी पैसे भेज सकते हैं। आपके खाते में कितने पैसे हैं इस बारे में जानकारी भी ले सकते हैं। इसके अलावा अगर आपको अपने लिए एक नया फिक्स डिपॉजिट अकाउंट या रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट खोलना है तो भी इंटरनेट बैंकिंग की सहायता से खोल सकते हैं। इसके अलावा चेक बुक, पर आप स्टॉप पेमेंट (stop payment) लगा सकते हैं। आप अपने अकाउंट का monthly statement pdf फाइल के रूप में प्राप्त कर सकते हैं। इन सारी चीजों के अलावा आप इंटरनेट पर ऑनलाइन खरीदारी करते वक्त इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करके, पैसों का भुगतान भी कर सकते हैं।

अब आपको यह, तो समझ में आ ही गया होगा इंटरनेट का इस्तेमाल आप किन किन चीजों पर करेंगे और कहां-कहां आपको इंटरनेट बैंकिंग की आवश्यकता पड़ती है।

Net Banking या Internet Banking के लाभ

हमने आपको ऊपर इस बारे में जानकारी दी है कि इंटरनेट बैंकिंग क्या होता है? Net Banking क्या है? नेट बैंकिंग का इस्तेमाल आप किन-किन कार्यों के लिए कर सकते हैं? बहुत सी छोटे-छोटे कार्यो के लिए भी आप और हम जैसे साधारण लोग बैंकों के भरोसे ही रहते हैं। लेकिन, इंटरनेट बैंकिंग के आ जाने के बाद आप छोटे छोटे कार्यों को अपने इंटरनेट के माध्यम से अपने स्मार्टफोन या कंप्यूटर पर भी आप करने के लिए सक्षम होते हैं। तो चलिए जानते हैं कि इंटरनेट बैंकिंग का क्या क्या लाभ है?

  • नेट बैंकिंग आपको सामान्य बैंकिंग कार्यों को घर बैठे करने में ही सहायता प्रदान करता है। जिसके चलते हमें बार-बार बैंक जाने की जरूरत नहीं पड़ती है।
  • हमें बैंकों की लंबी लाइन में खड़ा होना नहीं पड़ता।
  • हमें अपने खाते की जो भी जानकारी चाहिए हम इंटरनेट या नेट बैंकिंग की सहायता से अपने घर बैठे देख सकते हैं।
  • हम अपने बैंक खाते से कितना लेनदेन कर रहे हैं जो भी पासबुक में ब्यौरा होता है वह सारा आपका नेट बैंकिंग पर आ जाता है। यानी कि आप स्टेटमेंट (Monthly Statement) भी निकाल सकते हैं।
  • आप अपने सहूलियत के हिसाब से छोटे-मोटे लेनदेन नेट बैंकिंग की सहायता से कर सकते हैं।
  • आप कभी भी किसी वक्त किसी को भी पैसे भेज सकते हैं।
  • आपको कहीं पर भी शॉपिंग करनी है आपको पेमेंट करनी है तो आप नेट बैंकिंग की सहायता से कर सकते हैं।
  • नेट बैंकिंग (Net Banking) की सहायता से आप बिना बैंक जाए अपने लिए FD (fixed deposit), RD (recurring deposit) इत्यादि खातों को खोलने में भी सक्षम होते हैं।
  • फिक्स डिपाजिट खाते और रिकरिंग डिपॉजिट खाते में पैसे जमा करने के लिए भी हमें बैंकों में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ती है। आप नेट बैंकिंग की सहायता से auto cut payment या standing instruction दे सकते हैं। जिससे आपके पैसे हर महीने अपने आप कट करके खाते में जमा हो जाएंगे।

आपको यह जानकारी मिल चुकी है कि नेट बैंकिंग से आपको क्या क्या लाभ मिलता है। आप अपने बैंक से संपर्क करके नेट बैंकिंग की सुविधा ले सकते हैं। आज के आधुनिक युग में डिजिटल लेनदेन के लिए लोग नेट बैंकिंग का इस्तेमाल करते हैं। जिसने, आप ग्राहकों के लिए बैंकिंग जैसी सुविधाओं को और भी आसान कर दिया है।

Net Banking कैसे ले?

Net Banking लेने के लिए आपको सबसे पहले अपने बैंक से संपर्क करना होगा। बैंक द्वारा आपके खाते पर नेट बैंकिंग को एक्टिवेट किया जाता है। इसके बाद आप खुद अपने बैंक की अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर के Username and password बनाते हैं। यूजर नेम और पासवर्ड बनाने के बाद आप अपने बैंक से पुनः संपर्क करते हैं। इसके बाद बैंक अधिकारी आपके यूजर नेम और पासवर्ड को अप्रूव करेंगे। जिसके बाद आप इंटरनेट बैंकिंग या नेट बैंकिंग की सुविधा ले सकते हैं।

नेट बैंकिंग की सुविधा लेने के लिए, बैंकों के अपने-अपने Android app, Google Play Store पर भी मौजूद है। जहां से आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। बस आपको यह android.app अपने स्मार्टफोन पर डाउनलोड करना पड़ेगा, या फिर आप सीधे अपने ब्राउज़र की सहायता से अपने बैंक की इंटरनेट बैंकिंग पर लॉगइन कर सकते हो। आप नेट बैंकिंग की सारी सुविधाओं का आनंद उठा सकते हैं।

Net Banking का का इस्तेमाल करते वक्त कौन-कौन सी बातों का ध्यान रखें?

हर दिन अखबारों में आपको Cyber Crime की खबरें पढ़ने को जरूर मिल जाती है। इसलिए नेट बैंकिंग का इस्तेमाल करते वक्त आपको कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी होता है। नहीं तो, आपको धोखा या ठगा जा सकता है।

  • Net Banking का इस्तेमाल आप हमेशा अपने निजी कंप्यूटर या स्मार्टफोन पर ही करें। नेट बैंकिंग का इस्तेमाल कभी भी आप public place जैसे कि cyber cafe में ना करें इससे आपकी details leak होने की chances रहते हैं ।
  • अब अपने नेट बैंकिंग के पासवर्ड को हमेशा चेंज करते रहें। जिससे कि आपका पासवर्ड hack होने का डर नहीं रहेगा।
  • Password बनाते वक्त आप इस बात का ध्यान रखें कि आपके पासवर्ड में Alphabet, special character (@,#,₹,:,(, etc) और numerals यानी कि नंबर जरूर हो। इस तरह के कंबीनेशन (combination) के पासवर्ड को strong password माना जाता है।
  • अपने पासवर्ड को किसी भी दूसरे व्यक्ति के साथ साझा ना करें।
  • जिस भी device से आप नेट बैंकिंग या इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कर रहे हैं उस पर आप एक अच्छा खासा antivirus जरूर इंस्टॉल करें।
  • इंटरनेट बैंकिंग या नेट बैंकिंग का इस्तेमाल करते वक्त अगर आपको कोई परेशानी आती है तो आप तुरंत अपने बैंक से संपर्क करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here