शिखर धवन की जीवनी – Biography of Shikhar Dhawan in Hindi

0
223

भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी “शिखर धवन” बाएं हाथ के बल्लेबाज है। भारतीय सलामी बल्लेबाज के तौर पर भारत के लिए कई यादगार पारियां इन्होंने खेली है। शिखर धवन को आक्रामक बैट्समैन के तौर पर जाना जाता है। शिखर धवन के फैंस इन्हें “गब्बर” कहते हैं। Biography of Shikhar Dhawan in Hindi

इन्होंने मैदान पर कई यादगार पारियां खेली है। मैदान में फील्डिंग करते हुए जब भी या कोई कैच पकड़ते हैं तो ये किसी पहलवान की भांति अपनी जांघा पीटते हैं। जिस चलते इन्हें गब्बर कहते हैं।

शिखर धवन अच्छी फील्डिंग के लिए भी जाने जाते हैं। विकेट के बीच में तेजी से दौड़ना और ऊंची स्ट्राइक रेट से बैटिंग करना इस धुरंधर की खासियत है। शिखर धवन कई सारे ब्रांड की एंडोर्समेंट भी करते हैं जिसमें मुख्य है केनरा बैंक, जोली रोजर, रेडियो ड्राइव, एमआरएफ टायर, आरके ग्लोबल इत्यादि। उन्होंने क्रिकेट खेल जगत में अपनी बैटिंग और अपनी फील्डिंग से काफी ज्यादा प्रभावित किया है। तो चलिए जानते हैं इनकी जीवन के बारे में। Biography of Shikhar Dhawan in Hindi

Biography of Shikhar Dhawan in Hindi – शिखर धवन की जीवनी

शिखर धवन (Shikhar Dhawan) का जन्म 5 दिसंबर, 1985 के दिन हुआ है। उनका जन्म दिल्ली जो कि भारत का दिल है, में हुआ है। वह एक पंजाबी परिवार से आते हैं। शिखर धवन के पिता का नाम महेंद्र पाल धवन है और उनकी माता का नाम सुनैना धवन है। शिखर धवन के शुरुआती पढ़ाई दिल्ली में ही हुई है। उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा St. Marks Senior Secondary Public School, मीरा बाग, दिल्ली से पूरी की है। उन्होंने लवली पब्लिक स्कूल, प्रियदर्शनी विहार से अपनी स्कूली शिक्षा की, छोटी उम्र में ही क्रिकेट से काफी लगाव था इस चलते पर कम उम्र में ही क्रिकेट अकादमी में चले गए थे।

12 साल की उम्र में, उदयपुर सिद्ध चाचा तारक सिन्हा के तहत क्रिकेट प्रशिक्षित करने के लिए प्रतिष्ठित सोनेट क्लब (Sonnet club) मैं भाग लेने के लिए उनके चाचा ने सहारा दिया था। बड़े लड़कों के साथ कंधे को रगड़ने से कभी डरते नहीं थे, उन्होंने तुरंत स्कूल के टूर्नामेंट में under 15 team के लिए चुना गया। अंडर 15 टीम में उन्होंने शतक लगाकर अपने कोच को काफी प्रभावित किया था।

Cricket career of Shikhar Dhawan – शिखर धवन की क्रिकेट की यात्रा

शिखर धवन को पहली बार क्रिकेट खेलने का मौका अपनी स्कूल ही समय में मिला था। जिसमें उन्होंने अंडर 15 (Under-15) क्रिकेट खेल में शतक जमाया था। इससे उनके कोच तारक सिंहा (Tarak Sinha) काफी प्रभावित हुए। कोच तारक सिन्हा ने अब तक 12 ऐसे खिलाड़ी को ट्रेंड किया है जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेला है। शिखर अपने कैरियर की शुरुआत में एक विकेटकीपर बल्लेबाज थे। पर समय बीतने के साथ-साथ उन्होंने अपना पूरा ध्यान betting, fielding और fitness पर लगाना शुरू कर दिया।

शिखर धवन ने साल 2004 में अंडर-19 विश्व कप में भारत के लिए खेला। भारत के लिए खेलते हुए अंडर-19 विश्व कप में 7 पारियों में 505 रन बनाए। उनके द्वारा बनाई गई और रन अंडर-19 विश्व कप में यह एक रिकॉर्ड है। उनकी बैटिंग एवरेज 84.6 के औसत से थी। उस दौरान उन्हें सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी से भी नवाजा गया था। इसके बाद साल 2004 से साल 2005 तक उन्होंने दिल्ली के लिए खेला है। रणजी ट्रॉफी मैं उन्होंने दिल्ली की टीम में अपनी जगह बनाई। जहां उन्होंने रणजी ट्रॉफी में भी बहुत ही बेहतरीन प्रदर्शन किया है। दिल्ली के लिए खेलते हुए उन्होंने 8 मैचों में 570 रन बनाए। साल 2007 से साल 2008 में अपनी टीम की रणजी खिताब जिताने में अहम भूमिका भी निभाई है। कई वरिष्ठ खिलाड़ियों को विश्राम किया गया और अक्टूबर 2010 में विशाखापट्टनम में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने पहले वनडे करियर की शुरुआत की। Biography of Shikhar Dhawan in Hindi

उन्होंने सुरेश रैना की कप्तानी में, क्वींस पार्क ओवल में जून 2011 के दौरान वेस्टइंडीज के खिलाफ अपने T20 कैरियर की शुरुआत की और विकेटकीपर पार्थिव पटेल के साथ मैदान में सलामी बल्लेबाज के रूप में उतरे थे। टी-20 के इस मैच में उन्होंने 11 गेंदों में 5 रन बनाकर के विकेट के पीछे आउट हो गए थे।

14 मार्च 2013 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने टेस्ट कैरियर की शुरुआत की।उन्होंने कहा कि सचिन तेंदुलकर से टोपी प्राप्त किया। तीसरे दिन 85 गेंदों पर टेस्ट मैच में सबसे तेज शतक भी उन्होंने लगाया है।

आइए नजर डालते हैं उनके क्रिकेट कैरियर पर उनकी कौन-कौन सी उपलब्धियां है:- Biography of Shikhar Dhawan in Hindi

शिखर धवन का क्रिकेट कैरियर

  1. स्कूल लेवल अंडर 15 टूर्नामेंट में शतक लगाकर कि उन्होंने अपने कोच को काफी प्रभावित किया।
  2. साल 1999 से 2000 में विजय मर्चेंट ट्रॉफी में लीडिंग रन स्कोरर रहे।
  3. साल 2000 से लेकर 2001 में शिखर धवन ने 9 पारियां खेली जिनमें इन का औसत रन रेट 83.88 की औसत से 755 रन बनाए।
  4. 2001 में विजय हजारे ट्रॉफी में नॉर्थ जोन से फाइनल खेलते हुए पहली पारी में 30 और दूसरी पारी में 66 रन बनाए।
  5. साल 2001 में ही अंडर-17 टीम के लिए उन्हें चुना गया जिसमें उन्होंने तीन मैच खेले और औसत रन रेट 85 के आस पास था।
  6. साल 2001 में केवल 15 वर्ष की आयु में शिखर धवन को दिल्ली अंडर-19 टीम में जगह मिल गई थी।
  7. साल 2002 में विजय मर्चेंट ट्रॉफी में 8 मिनट में 55.42 की औसत से उन्होंने 388 रन बनाए थे।
  8. घरेलू क्रिकेट खेलते हुए अंडर-19 क्रिकेट में उन्होंने छह पारियों में 74 के औसत से 444 रन बनाए, इसके बाद उन्हें टीम की कप्तान के रूप में चुना गया।
  9. साल 2004 में वर्ल्ड कप में तीन शतक और एक अर्धशतक लगाया, उन्होंने अंडर-19 वर्ल्ड कप में 84.16 की औसत से 555 रन बनाए हैं।
  10. साल 2004 में दिल्ली से खेलते हुए आंध्रप्रदेश के खिलाफ उन्होंने घरेलू क्रिकेट में डेब्यू किया।
  11. साल 2010 में 20 अक्टूबर के दिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विशाखापट्टनम में एकदिवसीय क्रिकेट मैच में डेब्यू किया।
  12. साल 2011 में 4 जून के दिन वेस्टइंडीज के खिलाफ T-20 क्रिकेट मैच में उन्होंने अपना पहला टी20 मैच के लिए डेब्यू किया।
  13. साल 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी मैच उन्होंने सबसे ज्यादा रन बनाएं। चैंपियंस ट्रॉफी में उन्होंने 338 रन बनाए जिसमें दो अर्धशतक और एक शतक था।
  14. शिखर धवन कि पसंदीदा जर्सी नंबर 25 है। तेज बल्लेबाज के अलावा विकेट कीपिंग और ऑफब्रेक गेंदबाजी भी कर लेते हैं।

Shikhar Dhawan आईपीएल (Indian Premier League) में

वर्तमान समय में शिखर धवन इंडियन प्रीमियर लीग, जोकि भारत की t20 मैचों की घरेलू लीग है, में दिल्ली डेयरडेविल्स (Delhi Daredevils) के लिए खेलते हैं।

आईपीएल की दूसरी और तीसरी सीजन में शिखर धवन ने मुंबई इंडियंस टीम के लिए खेला था। IPL के चौथे सीजन में उन्होंने Deccan chargers टीम ने $300000 में उन्हें अनुबंधित किया। इसके बाद वह सनराइज हैदराबाद के कप्तान बने। उसके बाद उन्हें हटाकर डेरेन सैमी को कप्तान बना दिया गया। साल 2016 में डेविड वॉर्नर की कप्तानी में शिखर धवन ने सनराइजर्स हैदराबाद में खेलते हुए 17 मैचों में 501 रन बनाए थे।

साल 2018 के ऑक्शन में सनराइजर्स हैदराबाद ने शिखर धवन को 5.2 कर रुपए में खरीदा, इसके बाद सनराइजर्स हैदराबाद से वह दिल्ली कैपिटल्स में साल 2019 में अनुबंधित हो गए। वर्तमान समय में वे दिल्ली कैपिटल्स के लिए खेलते हैं।

शिखर धवन का व्यक्तिगत जीवन

शिखर धवन ने साल 2012 में विवाह किया। उनकी पत्नी उन से 12 साल बड़ी है। उनकी पत्नी मूल रूप से Melbourne, Australia की निवासी है। उनकी पत्नी का नाम आयशा मुखर्जी है। वह पहले एक बॉक्सर रही है। ऐसा की मुलाकात शिखर धवन से पूर्व भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह ने करवाई थी। आयशा मुखर्जी और शिखर ने जब विवाह किया तब आयशा मुखर्जी पहले से दो बेटियों की मां थी। इसके बाद साल 2014 में शिखर और आयशा को एक बेटा हुआ है। जिसका नाम उन्होंने ज़ोरावर धवन रखा है।

शिखर धवन को मिले पुरस्कार एवं सम्मान – Awards and Achievement

  • साल 2013 – CEAT इंटरनेशनल प्लेयर ऑफ द ईयर।
  • साल 2018 -CEAT बैट्समैन ऑफ द ईयर
  • साल 2013 – ICC world XI में चयन किया गया
  • साल 2015 – ICC World Cup सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय खिलाड़ी बने
  • ICC Champions Trophy – दो बार लगातार Golden Bat जीता है
  • 100 एकदिवसीय मैचों के बाद 4309 रन बनाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज है।
  • साल 2014 में – Wisden Cricketer of the Year का खिताब भी मिला है।
  • टेस्ट मैचों में पहले दिन लंच से पहले 100 रन बनाने वाले पहले क्रिकेटर बने हैं।
  • वनडे मैचों में तेजी से 1000 रन, 2000 रन और 3000 रन बनाने वाले पहले भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी है।
  • साल 2018 में एशिया कप में सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी भी रहे हैं।
  • साल 2018 में ही सबसे अधिक T20 स्कोरर एक बैटमैन (Batsman) के तौर पर बनाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here