Share capital कितने प्रकार के हैं? Types of share capital in Hindi.

2
1202

हमने अपने अन्य पोस्ट पर शेयर मार्केट से जुड़ी पहुंची जानकारी आप सभी को उपलब्ध कराई है। जैसे कि Sensex क्या होता है? Share market क्या होता है? इसके अलावा भी बहुत सी जानकारी उपलब्ध कराई है। शेयर बाजार पर अक्सर Share capital के बारे में भी बात की जाती है। क्या आपको पता है? शेयर कैपिटल क्या होता है? What is Share Capital in Hindi. Share capital कितने प्रकार के होते हैं? Types of share capital in Hindi.

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि शेयर बाजार जोखिमों के अधीन होती है। शेयर बाजार पर निवेश करते वक्त आप को सही जानकारी होना अति आवश्यक है। तभी आप शेयर बाजार से पैसे कमा सकते हो। वरना आपको हानी हो सकती है। इसीलिए हम अपने इस ब्लॉग पर शेयर मार्केट से संबंधित विभिन्न जानकारियां उपलब्ध कराते रहते हैं। आज के हमारे इस पोस्ट में आप जाने की की Share capital क्या होता है? Share capital कितने प्रकार के होते हैं?

शेयर कैपिटल क्या है? और इसके कौन-कौन से प्रकार हैं? Authorised capital और paid up capital क्या होता है? अगर आप इन सारे सवालों के जवाब ढूंढ रहे हैं, तो आप सही जगह पर आए हैं.आज हम अपने इस पोस्ट पर इन सारी चीजों के बारे में विस्तार से जानकारी उपलब्ध करा रहे हैं।Types of share capital in Hindi.

Share capital किसे कहते हैं? What is Share capital in Hindi

दोस्तों आपको इस बारे में जानकारी तो होगी कि कोई भी कंपनी अपनी कंपनी या बिजनेस के विस्तार के लिए share के माध्यम से पैसे इकट्ठा करती है। इन पैसों का इस्तेमाल बिजनेस बढ़ाने एवं कंपनी के विस्तार के लिए करती है।

यह शेयर कंपनी अपने फेस वैल्यू जितने दाम या फिर इससे ज्यादा दाम पर शेयर बेचती है। किसी भी कंपनी के share का face value वह कीमत होता है। जो कि कंपनी के किसी भी शेयर प्रमाण पत्र में लिखी हुई होती है। यह कीमत कंपनी के निर्माण के वक्त में निश्चित की जाती है।

अगर हम Share capital के बारे में बात करें तो यह वह धन या पूंजी होती है, जिसे कोई भी कंपनी अपने share या हिंदी में हिस्सेदारी को बेच करके पूंजी इकट्ठा करती है। Share capital को मुख्यतः दो भागों में बांटा जा सकता है। Types of share capital in Hindi.

  1. Preferred share capital
  2. Equity share capital

Preferred share capital

जो पैसा कंपनी अपने preferred share को बेच करके इकट्ठा करती है। उसे preferred share capital कहते हैं।

Preferred share को पसंदीदा शेयर भी कहा जाता है। यह एक प्रकार का स्टॉक का रूप है। जिसे किसी भी स्टाफ के गुणों का कोई भी संयोजन हो सकता है। इस तरह के शेयर में equity and debt instrument दोनों की गुण शामिल होते हैं। इस चलते इसे शेयर बाजार में hybrid instrument माना जाता है। Prepared share साधारण शेयर की तुलना में ज्यादा रैंकिंग रखते हैं। इसलिए इन्हें बांड की तरह देखा जाता है। इसलिए इनका बांड की तरह ही credit rating agency द्वारा मूल्यांकन किया जाता है।

Equity share capital

किसी भी कंपनी का equity share capital वह पूजी होता है। जिससे कंपनी अपने equity या सामान्य शेयर को face value पर बेच करके पूंजी इकट्ठा करती है।

साधारण तौर पर stock market पर उपलब्ध किसी भी कंपनी के शेयर equity share होते हैं। यानी कि आप स्टॉक मार्केट से जो भी शेयर खरीदते हैं। वह preferred share नहीं होता है, बल्कि हम स्टॉक मार्केट से equity share खरीदते हैं।

चलिए हम इसे एक उदाहरण के जरिए समझने की कोशिश करते हैं।

माना की कोई कंपनी xyz अपने शेयरों को stock market पर लेकर आती है। इसके लिए xyz कंपनी IPO (initial public offering) के जरिए स्टॉक मार्केट पर सूचीबद्ध करती है। माना कि कंपनी द्वारा निर्धारित शेयर की कीमत जिसे हम face value भी कहते हैं। Face value किसी भी शेयर की वह कीमत होती है जिस पर कंपनी द्वारा प्रमाण पत्र पर जारी किया जाता है। कंपनी xyz द्वारा जारी किया गया शेयर की कीमत ₹10 प्रति शेयर है। जोकि कंपनी के face value मूल्य के बराबर है।

कंपनी xyz द्वारा 10 lakh share जारी किया जाता है। लेकिन कंपनी के शेयर आईपीओ के द्वारा ₹50 प्रति शेयर पर बिकवाली की जाती है। आप यह सोच रहे होंगे की शेयर की कीमत तो ₹10 face value है पर कंपनी उसे ₹50 में क्यों बेच रही है? कंपनी की स्थिति मजबूत होने पर वह अपने शेयर premium कीमत पर जारी करती है। इस तरह कोई भी कंपनी हमारे इस संदर्भ में xyz कंपनी प्रति शेयर ₹40 प्रीमियम दाम अधिक ले रही है। यह प्रीमियम कीमत भी कंपनी के विस्तार एवं बिजनेस के लिए लगाया जाता है।

इस तरह कोई भी कंपनी अपने द्वारा जारी किए गए IPO की सहायता से जो पूंजी इकट्ठा करती है। उसे Share capital कहते हैं।

शेयर शेयर बाजार में इस्तेमाल किए जाने वाले कुछ term जो अक्सर किसी भी कंपनी के capital के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

Authorised capital किसे कहते हैं?

Authorised capital किसी भी कंपनी का वह पूंजी होता है, जिसे कंपनी शेयर जारी करके इकट्ठा करती है।

ऑथराइज कैपिटल के अंतर्गत वह सारे शेयर आते हैं, जिसके चलते कोई भी कंपनी stock market पर सूचीबद्ध होती है। संक्षेप में आप यह भी कह सकते हैं, authorised capital उन शेयर का कीमत होती है जिन्हें बेच करके कोई भी कंपनी रजिस्टर्ड होती है। यह वह अधिकतम पूंजी होती है, जिससे कि कोई भी कंपनी अधिक से अधिक शेयर जारी करके लोगों से पैसे या पूंजी इकट्ठा करती है।

Authorised capital को शेयर बाजार में अन्य शब्द जैसे कि nominal capital और रजिस्टर्ड कैपिटल के नाम से भी जाना जाता है। मान लीजिए कि कोई कंपनी 10 लाख शेयर जारी करती है। प्रत्येक शेयर की कीमत अगर ₹10 होते हैं। तब किसी भी कंपनी द्वारा अर्जित किया गया, authorised capital 10 लाख ×₹10 =₹10,00,00,00 होंगे। दिए गए उदाहरण के जरिए आपको यह साफ साफ पता लग गया होगा कि किसी भी कंपनी का Authorised capital क्या होता है?

Issued capital किसे कहते हैं?

Issued capital किसी भी कंपनी के ऑथराइज कैपिटल का वह भाग होता है। जिसे कोई कंपनी निवेश के लिए शेयर के रूप में जारी करती है। जिसे हम issued capital कहते हैं।

Authorised capital और issued capital के बीच में अंतर कंपनी के मेमोरेंडम के तहत कितनी शेयर जारी कर सकता है। इसके बारे में सूचना देता है। ज्यादातर कंपनियां issued capital अपने द्वारा जारी किए गए authorised capital की तुलना में कम रखती है। Types of share capital in Hindi.

मान लीजिए कि कोई कंपनी के subscribed किया हुआ capital, equity


के अंतर्गत 10 लाख शेयर जारी करता है। प्रत्येक शेयर की कीमत ₹10 प्रति शेयर है। तो कंपनी का issued capital 10 लाख गुना ₹10 होंगे, जोकि 100,000,00, रुपए होते हैं। जो कि किसी भी कंपनी का issued capital share कहलायेगा।

Subscribed capital share क्या होता है?

Issued capital share का subscribed capital share वह भाग होता है, जो कि कोई कंपनी के शेयर खरीदने के लिए निवेशक subscribe करते हैं।

Subscribed capital share जारी करने के लिए कंपनी के पास में जितने आवेदन आते हैं। उतना ही शहर कंपनी द्वारा जारी किया जाता है। जिसे हम subscribed capital share के नाम से जानते हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों आज के हमारे इस पोस्ट में हमने जाना कि share capital क्या होता है? Share capital कितने प्रकार के होते हैं? Types of share capital in Hindi.

उम्मीद करता हूं कि आपको हमारे द्वारा दी गई है जानकारी पसंद आई होगी। अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई है तो आप इसे सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here